देवगढ़

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Devgarh News
  • 200 मीटर की सड़क क्षतिग्रस्त होने से रहती है हादसे की आशंका, सही करवाने की जरूरत
--Advertisement--

200 मीटर की सड़क क्षतिग्रस्त होने से रहती है हादसे की आशंका, सही करवाने की जरूरत

देवगढ़| देवगढ़-भीलवाड़ा मार्ग की मुख्य सड़क दौलपुरा (परालिया चौराहा ) से आंजना जाने वाले रोड के बीच में दो सौ मीटर...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:45 AM IST
देवगढ़| देवगढ़-भीलवाड़ा मार्ग की मुख्य सड़क दौलपुरा (परालिया चौराहा ) से आंजना जाने वाले रोड के बीच में दो सौ मीटर रोड बदहाल होने से हादसे का खतरा बना रहता है। मुख्य सड़क के दोनों और गहरा गड्ढा होने से कभी भी वाहन गिरने का खतरा रहता है। मुख्य सड़क देवगढ़ से भीलवाड़ा, गंगापुर, चित्तौड़गढ सहित अनेक गांवों में जाती है। इसके साथ ही इस मार्ग पर माइंसों के होने से दिनभर छोटे बड़े वाहनों के साथ साथ बड़े-बड़े ट्रोले जाते है, इससे दो सौ मीटर सड़क पर कभी भी बड़ी दुर्घटना होने का डर रहता है। पहले भी कई बार हादसा हो चुका है। मुकूटलाल जोशी ने बताया कि मुख्य सड़क पर मेरा रोजाना आना जाना रहता है। आधा किमी सड़क पर कई बार हादसे का शिकार होते-होते बचा हूं। कैलाश वन ने बताया कि वह रोजाना भारतसिंहजी का गुड़ा से देवगढ़ बाइक से आता जाता रहता हूं। आंजना से दौलपुरा के बीच में आधा किमी सड़क पर रोड के दोनों ओर पगडंडी नही होने से आए दिन दुर्घटना का खतरा रहता है। दौलपुरा सरपंच सवाईसिंह ने बताया कि दौलपुरा के समीप परालिया चौराहा से आंजना के बीच लगभग आधा किमी सड़क के दोनों और मुख्य सड़क पर पगडंडी नही होने से वाहनों को परेशानी होती है। इस संबंध में उच्चाधिकारियों को लिखा जाएगा कि दोनों और पगडंडी बनवाई जाए, इससे परेशानी न हो। सहायक अभियंता पीडब्ल्यूडी रामनिवास शर्मा ने बताया कि दौलपुरा और आंजना के बीच दो सौ मीटर सड़क पर दोनों तरफ रिटर्निंग दीवार बना सड़क को चौड़ा किया जा सकता है, इसके लिए लगभग 50 लाख रुपए की आवश्यकता है क्योंकि यह सरकारी जमीन नही है।

X
Click to listen..