• Hindi News
  • Rajasthan
  • Dholpur
  • बजट में रुके हुए धौलपुर-गंगापुर प्रोजेक्ट के शुरू होने की थी उम्मीद, कुछ नहीं मिला
--Advertisement--

बजट में रुके हुए धौलपुर-गंगापुर प्रोजेक्ट के शुरू होने की थी उम्मीद, कुछ नहीं मिला

जिले ने भले ही सरकार के बजट से काफी उम्मीदें लगा रखी हो, लेकिन मोदी सरकार के चौथे बजट में धौलपुर जिले को कुछ विशेष...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:50 AM IST
बजट में रुके हुए धौलपुर-गंगापुर प्रोजेक्ट के शुरू होने की थी उम्मीद, कुछ नहीं मिला
जिले ने भले ही सरकार के बजट से काफी उम्मीदें लगा रखी हो, लेकिन मोदी सरकार के चौथे बजट में धौलपुर जिले को कुछ विशेष नहीं मिला है। ऐसे में लोगों में बजट को लेकर नाराजगी है। वहीं कुछ लोगों ने बजट को जनहित का बताकर सरकार की प्रशंसा की है। रेलवे बजट में जिले में की सबसे बड़ी मांग धौलपुर-गंगापुर सिटी ब्राडगेज के रुके हुए प्रोजेक्ट को शुरू करने की निगाह थी, लेकिन इस पर कोई घोषणा न सुनकर लोगों ने नाराजगी जताते हुए कहा कि इस बजट में धौलपुर जिले को विशेष कुछ नहीं दिया गया है। उत्तर मध्य रेलवे इलाहाबाद के क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता सलाहकार समिति के पूर्व सदस्य अरविंद बंसल ने कहा कि जिले की सबसे बड़ी मांग है नेरोगेज को ब्राडगेज में परिवर्तित करना। इसके लिए पूर्व में ही काम शुरू हो चुका है, लेकिन किन्हीं कारणों से इस काम को रोक रखा गया है।

आईटी में 5 लाख की छूट लागू नहीं करना निराशाजनक

कर्मचारी सयुंक्त महासंघ एकीकृत धौलपुर के जिलाध्यक्ष चन्द्रभान चौधरी ने कहा कि केन्द्र सरकार ने बजट अच्छा प्रस्तुत किया है, लेकिन सरकारी नौकरियों को लेकर पूर्व में किया गया वादा पूरा नहीं किया गया है। अब 70 लाख नौकरी की बात हुई। हम उम्मीद करते है कि यह पूरी होगी। आयकर में 5 लाख तक की छूट होनी चाहिए थी। लेकिन यह लागू नहीं किया गया, जो निराशा जनक है। वहीं एनएसयूआई जिलाध्यक्ष पंकज तिवारी ने घोषित बजट में एक बार फिर धौलपुर की उपेक्षा की बात कही। सरकार ने धौलपुर-सरमथुरा के बीच 80 किलोमीटर में चलने वाली नैरोगेज ट्रेन को ब्रॉडगेज में परिवर्तित नहीं किया गया।

X
बजट में रुके हुए धौलपुर-गंगापुर प्रोजेक्ट के शुरू होने की थी उम्मीद, कुछ नहीं मिला
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..