• Home
  • Rajasthan News
  • Dholpur News
  • एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में आज शहर में निकलेगी रैली
--Advertisement--

एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में आज शहर में निकलेगी रैली

भारत बंद के आह्वान पर एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति संयुक्त मोर्चा के...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:25 AM IST
भारत बंद के आह्वान पर एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति संयुक्त मोर्चा के तत्वावधान में सोमवार को धौलपुर मुख्यालय पर महारैली निकाली जाएगी। संयुक्त मोर्चा के अध्यक्ष रमेशचंद साहू ने बताया कि महारैली सागरपाड़ा स्थित अंबेडकर पार्क से रवाना होकर टाउन चौकी पुराना शहर सिटी कोतवाली, फद्दी का चौराहा, जगन तिराहा, लाल बाजार, पुरानी सब्जी मंडी, तोप तिराहा, संतर रोड रोते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचेगी और यहां पर अधिकारियों को ज्ञापन सौंपा जाएगा। अध्यक्ष ने बताया कि महारैली को लेकर रविवार को दोपहर जगदीश टॉकीज के पास समाज के लोगों की एक बैठक हुई। इसमें सभी ने महारैली को सफल बनाने का समर्थन दिया है। अध्यक्ष रामेश चंद ने बताया कि भारत बंद को सफल बनाने के लिए जिले के सभी व्यापारियों से दुकानें बंद रखने का आह्वान किया गया। इधर, भारत बंद के आह्वान को देखते हुए जिला प्रशासन ने जिले के सभी उपखंड अधिकारियों को शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए मजिस्ट्रेट नियुक्त किया है। एसडीएम ओपी सहारण ने बताया कि कानून व्यवस्था का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

सैंपऊ। कस्बे में सुप्रीम कोर्ट द्वारा 20 मार्च को दिए गए अनुसूचित जाति/जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम1989 के विधि विरुद्ध दिए गये फैसले से दलितों में रोष व्याप्त है। इसके चलते सभी अनुसूचित जाति एवं जनजाति संगठनों ने 2 अप्रैल को भारत बंद का आह्वान किया है।

बाड़ी। कस्बे के अंबेडकर पार्क में मोती लाल मीना की अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित की गई जिसमें सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा एससी/ एसटी एक्ट 1989 में संदर्भ में दिए गए आदेश के विरोध में पूरे भारत बंद का आह्वान किया गया। जिसके तहत 2 अप्रेल को पूरा भारत बंद रहेगा। इसी के तहत बाडी़ में एससी/एसटी समाज के द्वारा एक बैठक आयोजित की गई। जिसमें भारत बंद का समर्थन किया गया और कहा गया कि भारत बंद को लेकर ज्यादातर समाज हमारे साथ हैं तथा भारत को पूरी तरह से 2 अप्रेल को बंद रखा जाएगा।

इन संगठनों ने नहीं दिया समर्थन, खोलेंगे प्रतिष्ठान

समता आंदोलन समिति एवं सामान्य वर्ग के समस्त सामाजिक संगठन ब्राह्मण समाज, वैश्य समाज, व्यापार मंडल से स्वर्णकार समाज, व्यापार वस्त्र मंडल, माहौर क्षेत्रीय स्वर्णकार संघ, धौलपुर सर्राफ संघ आदि संगठनों के प्रतिनिधि मंडल ने धौलपुर उपखण्ड अधिकारी ओपी सहारण को ज्ञापन दिया। जिसमें सोमवार को भारत बंद का विरोध जताया और समर्थन नहीं करने की बात कही है। ब्राह्मण अंतरराष्ट्रीय युवा संगठन के राष्ट्रीय महासचिव एवं प्रदेश संयोजक महेंद्र दुबे ने बताया कि वे अपने प्रतिष्ठान बंद नहीं करेंगे और कोई भी असमाजिक तत्व प्रतिष्ठानों को बंद कराने का प्रयास करेगा तो इसका पुरजोर विरोध करेंगे। इस पर एसडीएम ने सुरक्षा मुहैया कराने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर महेंद्र दुबे, मुकेश शर्मा, दुष्यंत शर्मा, नन्द किशोर शुक्ला, रामदत्त शर्मा, धर्मवीर बघेल, गौरव शर्मा, रामू गर्ग, नरेश सोनी, संतोष खलीफा, मोनू खलीफा, अमरीश शर्मा, प्रवीण त्यागी, दिनेश सिकरवार आदि थे।

आप भी जानिए इसलिए है विरोध

जानकारी के अनुसार, सर्वोच्च न्यायालय ने अपने एक निर्णय में एससी-एसटी एक्ट के अंतर्गत की जाने वाली तत्काल गिरफ्तारियों को रोक लगाते हुए आदेशित किया है कि अनुसंधान के बाद कार्रवाई होनी चाहिए। इसी को लेकर एससी-एसटी वर्ग ने इस निर्णय को समाज के लिए दोषपूर्ण बताया है। संशोधन को समाप्त कर एक्ट को पहले की भांति रखने की मांग की जा रही है। अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोग इस एक्ट को शिथिल करने के विरोध में 2 अप्रैल को भारत बंद का एलान किया है।