• Hindi News
  • Rajasthan
  • Dholpur
  • भामाशाहों ने निजी खर्चे पर बनाया चाइल्ड फ्रेंडली सेंटर
--Advertisement--

भामाशाहों ने निजी खर्चे पर बनाया चाइल्ड फ्रेंडली सेंटर

Dholpur News - कहते है कि कुछ करने की ठान लो तो भले ही चाहे जितनी परेशानियां आ जाएं, लेकिन कामयाबी जरूर मिलती है। धौलपुर जिले को...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 04:30 AM IST
भामाशाहों ने निजी खर्चे पर बनाया चाइल्ड फ्रेंडली सेंटर
कहते है कि कुछ करने की ठान लो तो भले ही चाहे जितनी परेशानियां आ जाएं, लेकिन कामयाबी जरूर मिलती है। धौलपुर जिले को बाल श्रम मुक्त और बाल संरक्षण युक्त बनाने का संकल्प लेकर बच्चों के संरक्षण के लिए काम कर रहे बाल संरक्षण विशेषज्ञ राकेश तिवाड़ी ने कुछ ऐसा ही करके दिखा दिया है। एसपी राजेश सिंह के सहयोग से राकेश तिवाड़ी ने सदर थाने को प्रदेश का पहला साज-सज्जा वाला चाइल्ड फ्रेंडली पुलिस सेंटर बनाया है। इसका उद्घाटन सोमवार को राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष मनन चतुर्वेदी एवं धौलपुर जिला पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह द्वारा किया जाएगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता न्यायपीठ बाल कल्याण समिति धौलपुर के अध्यक्ष बिजेन्द्र सिंह परमार करेंगे। बड़ी बात है कि सदर थाने को सजावट के साथ बाल मैत्रिक वातावरण युक्त कक्ष बनाने के लिए एक रुपए भी नहीं लिए गए हैं। बल्कि भामाशाहों को कार्य करवाने के लिए सिर्फ सामानों की सूची दी गई। इसके बाद भामाशाहों ने चाइल्ड फ्रेंडली पुलिस सेंटर बनाने के लिए उन सामानों को उपलब्ध करवाया और प्रदेश का पहला चाइल्ड फ्रेंडली पुलिस सेंटर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

अच्छी पहल

राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष मनन चतुर्वेदी और एसपी आज करेंगे उद्घाटन

धौलपुर. सदर थाने में बना प्रदेश का पहला चाइल्ड फ्रेंडली सेंटर।

इन्होंने दिखाई जिम्मेदारी और दिलाया प्रदेश में पहला स्थान

राजेश सिंह, पुलिस अधीक्षक

पिछले वर्ष राजस्थान बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष मनन चतुर्वेदी ने एसपी राजेश सिंह से सदर थाने को चाइल्ड फ्रेंडली पुलिस सेंटर बनाने की इच्छा जाहिर की थी। इसके बाद एसपी ने चाइल्ड फ्रेंडली पुलिस सेंटर बनाने की ठानी।

बिजेंद्र सिंह परमार, अध्यक्ष, बाल कल्याण समिति

जिले में बाल सरंक्षण को लेकर जो भूमिका बाल कल्याण समिति की थी वह बाखूबी से निभाया। बच्चे की किसी प्रकार की कठिन से कठिन समस्या को तुरंत प्रभाव से निपटाते हैं। सेंटर बनाने के लिए जब भामाशाह कम पड़े तो इन्होंने स्वयं मदद की।

राकेश कुमार तिवाड़ी, एडवोकेसी आफिसर

राजस्थान बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष मनन चतुर्वेदी की इच्छा को पूरा करने के लिए एडवोकेसी आफिसर राकेश कुमार तिवाड़ी ने भामाशाहों से संपर्क किया और सामान की लिस्ट उपलब्ध करवाई और उन सामानों से चाइल्ड फ्रेंडली पुलिस सेंटर तैयार किया।

X
भामाशाहों ने निजी खर्चे पर बनाया चाइल्ड फ्रेंडली सेंटर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..