• Hindi News
  • Rajasthan
  • Dholpur
  • Dholpur News rajasthan news angry gujjars gave picketing for 11 days health deteriorated for 3 people strike ended ultimatum for one month for administration

आक्रोशित गुर्जरों ने 11 दिन दिया धरना, 3 लोगों की तबीयत बिगड़ी, धरना समाप्त, प्रशासन को एक माह का अल्टीमेटम

Dholpur News - गुर्जर समाज का चल रहा धरना शुक्रवार को उठ गया। हालांकि धरने पर मौजूद समाज के लोगों व समाज के प्रतिनिधियों ने एक...

Dec 07, 2019, 09:15 AM IST
Dholpur News - rajasthan news angry gujjars gave picketing for 11 days health deteriorated for 3 people strike ended ultimatum for one month for administration
गुर्जर समाज का चल रहा धरना शुक्रवार को उठ गया। हालांकि धरने पर मौजूद समाज के लोगों व समाज के प्रतिनिधियों ने एक महीने का समय मांगा है, अगर मांगें नहीं मानी जाती हैं तो फिर शांतिपूर्ण धरना के लिए मजबूर होना पड़ेगा। गुर्जर समाज के मृतक पिताओं के आमरण अनशन व समाज के लोगों द्वारा धरना खत्म करने का घटनाक्रम ऐसा रहा कि मेला ग्राउंड में महापंचायत का आयोजन हुआ, जिसमें गुर्जर समाज के लिए करीब 2 हजार लोग मौजूद रहे। महापंचायत में हरिगिर बाबा के शिष्यों ने कलेक्टर अारके जायसवाल व एसपी मृदुल कच्छावा से वार्ता कर चेतावनी दी कि अगर एक महीने बाद हमारी मांगें पूरी और आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होती है तो रोड जाम के लिए मजबूरन कदम उठाना पडेगा।

एसपी व कलेक्टर ने हरिगिर बाबा के शिष्यों व गुर्जर समाज के लोगों से कहा कि जो अारोपी हैं उनका मुख्यालय जांच होने तक अजमेर किया जाएगा। कलेक्टर व एसपी में आश्वासन दिया है कि एक महीने तक आपकी जांच व शर्तों के अनुरुप हमें ऊपर से आदेश हैं कि ये सभी पूरी की जाएं। जंडेल सिंह गुर्जर ने बताया कि कलेक्टर व एसपी ने धरना समाप्त करने का किया अाग्रह, गुर्जर समाज अडा रहा, बाद में हरिगिर बाबा के चार शिष्यों के प्रतिनिधिमंडल ने प्रशासन ने हमसे समय मांगा है, जिस पर सहमति बन गई। यदि हमारी मांगे नहीं मानी जाती हैं तो एक माह बाद दुबारा गुर्जर समाज धरने पर उतरेगा।

पुलिस मुठभेड़ में दो युवकों की मौत का मामला

धौलपुर. मेला ग्राउंड में हुई महापंचायत में मौजूद गुर्जर समाज के लोग।

महापंचायत में जुटे करीब 3 हजार गुर्जर, एएसपी पहुुंचे, पुलिस बल रहा तैनात

सुबह गुर्जर समाज की ओर से हरिगिर बाबा के शिष्यों की मौज्ूदगी में धरना जारी रखने या समाप्त करने को लेकर महापंचायत हुई थी। जिसमें बडी संख्या में समाज के लोग एकत्रित हुए। इस मौके पर थाना पुलिस भी तैनात हो गई। इस पर कलेक्टर व एडिशनल एसपी राजेंद्र वर्मा को हालात जानने के लिए मेला ग्राउंड भेजा और समझाइस की बात कही। एडिशनल एसपी वर्मा ने गुर्जर समाज की महापंचायत में कहा कि आप को एक माह का इंतजार करना पडेगा। इसलिए धरना समाप्त कर प्रशासन का सहयोग करें।

मृतक युवकों के पारिजनों की तबियत बिगड़ी तो जागे अफसर

बता दें कि गुर्जर समाज की ओर से 25 नवंबर से रामसेवक व भोलू को न्याय दिलाने की मांग को लेकर समाज का कलेक्ट्रेट पर धरना चल रहा था। जिसमंे एक दिसंबर से मृतक युवकों के पिता अनशन पर बैठ गए और अनशन के पांचवें दिन इनकी तबियत खराब होने पर कलेक्टर व एसपी ने तुरंत उनसे अनशन से उठने का निवेदन किया और काफी देर तक समझाइस की आपकी मांगें शीघ्र मान ली जाएंगी। इस पर सहमति बनी और मृतक युवक के पिताओं को कलेक्टर ने ज्यूस पिलाकर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया।

3 दिन में डीएफओ नहीं हटे तो प्रदेश में होगा आंदोलन

जयपुर पहंुचकर प्रधान मुख्य वन संरक्षक से मिलकर रखी मांग

भास्कर संवाददाता | धौलपुर

जिले में अधीनस्थ वन कर्मियों एवं डीएफओ के बीच चल रहा विवाद दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। जिसे लेकर शुक्रवार को जिले के करीब 20 से 25 वनकर्मी जयपुर पहुंचे जहां राजस्थान अधिनस्थ वन कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष जसवंत सिंह तंवर के नेतृत्व में संघ के प्रदेश पदाधिकारियों एवं वन कर्मियों के साथ प्रधान मुख्य वन संरक्षक को ज्ञापन देकर धौलपुर जिले में अधिनस्थ वन किर्मयों एवं उप वन संरक्षक के बीच चल रहे विवाद को लेकर 30 नबम्बर को वन मंत्री से मिलकर समस्या से अवगत कराने के बावजूद भी अभी तक कोई समाधान नही हो सका है। जबकि वन मंत्री द्वारा मामले की जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया था। जिसे लेकर प्रदेशभर के वन कर्मियों में आक्रोश एवं असंतोष पैदा हो रहा है। ज्ञापन में कहा गया है डीएफओ धौलपुर को एपीओ या स्थानांतरण कर मामले की निष्पक्ष जांच कराई जाए जिससे अधिनस्थ कर्मियों को शोषण से मुक्ति मिल सके। ज्ञापन में चेतावनी दी गई है कि डीएफओ को तीन दिन में नही हटाया गया तो मजबूरन प्रदेशभर में वन कर्मियों को आंदोलन के लिए आहवान करना पड़ेगा। जिसके कारण वन एवं वन्य जीवों को होने वाली क्षति की जिम्म्दारी वन प्रशासन की होगी। ज्ञज्ञपन में कहा गया है कि 9 दिसंबर तक समस्या का समाधन नही हुआ तो प्रदेशभर में वन कर्मचरी आंदोलन पर चले जाएंगे। इस अवसर पर संघ के प्रदेश अध्यक्ष जसवंत सिंह तंवर,गोपाल सिंह परमार, श्रमिक संघ के जिला अध्यक्ष जगदीश झा सहित जिले से पहुंचे अन्य पदाधिकारी एवं वनकर्मी मौजूद रहे। वहीं जिले में वन किर्मियों एवं डीएफओ विवाद को लेकर चल रहा धरना पांचवे दिन भी जारी रहा। जहां वन कर्मियों की ओर से डीएफओ को हटाने की मांग की गई।

इधर, वनकर्मियों के आंदोलन से ये कार्य हुए प्रभावित

जिले में वन विभाग में अधिकारी एवं कर्मचारियों के बीच चल दरहे विवाद को लेकर जिले में वन विभाग की ओर से किए जा रहे कार्य प्रभावित हो रहे है। जिसमें मुख्य रूप से जिले में चंबल बजरी दोहन के खिलाफ होने वाली कार्रवाई के साथ ही वन क्षेत्र से अवैध रुप से होने वाले खनन, जंगल कटान, वन्य जीवों की रक्षा वन क्षेत्र में होने वाले अवैध अतिक्रमण के खिलाफ होने वाली कार्रवाईयां ठप पड़ी हुइ है।

Dholpur News - rajasthan news angry gujjars gave picketing for 11 days health deteriorated for 3 people strike ended ultimatum for one month for administration
X
Dholpur News - rajasthan news angry gujjars gave picketing for 11 days health deteriorated for 3 people strike ended ultimatum for one month for administration
Dholpur News - rajasthan news angry gujjars gave picketing for 11 days health deteriorated for 3 people strike ended ultimatum for one month for administration
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना