• Hindi News
  • Rajasthan
  • Dholpur
  • Dholpur News rajasthan news jagan gurjar39s brother dacoit lal singh wearing a sari police team identified him with shoes

साड़ी पहन भागा जगन गुर्जर का भाई डकैत लाल सिंह, पुलिस टीम ने जूतों से पहचान कर पकड़ा

Dholpur News - पुराने समय में मंदिरों में घंटा चढ़ाने व मेला घूमने के लिए डकैत अक्सर वेश बदलकर जाया करते थे, लेकिन शनिवार को जगन...

Feb 09, 2020, 07:56 AM IST
Dholpur News - rajasthan news jagan gurjar39s brother dacoit lal singh wearing a sari police team identified him with shoes

पुराने समय में मंदिरों में घंटा चढ़ाने व मेला घूमने के लिए डकैत अक्सर वेश बदलकर जाया करते थे, लेकिन शनिवार को जगन गुर्जर का भाई डकैत लाल सिंह साड़ी पहन महिला बनकर पुलिस को चकमा देना चाह रहा था, लेकिन जूते नहीं बदलने से वह पुलिस की नजरों में शक के घेरे में आ गया। जिसके बाद पुलिस ने घेराबंदी की और उसे पकड़ने में सफलता हासिल कर ली। डकैत जगन गुर्जर के भाई लाल सिंह पर पुलिस ने 5 हजार रुपए का इनाम घोषित कर रखा है। एसपी मृदुल कच्छावा की सूचना पर डिस्ट्रिक्ट स्पेशल टीम और थाना बसईडांग पुलिस ने बसईडांग क्षेत्र के गांव झोर में दबिश देकर डकैत लाल सिंह को पकड़ने में सफलता हासिल की है।

एसपी मृदुल कच्छावा ने बताया कि शनिवार को मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुख्यात डकैत जगन गुर्जर का भाई 5000 रुपए का इनामी बदमाश लाल सिंह बसईडांग इलाके के गांव झोर के आसपास है। जिस पर डीएसटी प्रभारी सुमन कुमार को मय टीम के मौके पर रवाना किया गया और उनकी मदद के लिए बसईडांग थाना प्रभारी दीनदायाल के नेतृत्व में पुलिस टीम को मुखबिर के बताए स्थान पर भेजा गया। डीएसटी टीम ने मुखबिर की सूचना पर बदमाश लाल सिंह की गांव झोर के आसपास तलाश की तो बदमाश लाल सिंह पुलिस टीम से बचने के लिए महिलाओं की साड़ी पहन कर भागने लगा। जिसको डीएसटी टीम ने घेरा डाल कर पकड़ लिया। जिसके कब्जे से अवैध देशी कट्टा मय 4 जिन्दा कारतूस बरामद किए गए हैं।

इधर, बालक को गोली मारने वाला डकैत पकड़ा

करौली/धौलपुर| गत रविवार को माड़ी भाट में एक बालक को गोली मारकर हत्या करने के मामले में फरार 10 हजार रुपए के इनामी डकैत रामवीर गुर्जर को शुक्रवार देर रात एडीएफ टीम ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। डकैत की निशानदेही पर पुलिस ने एक 315 बोर सिंगल शॉट पचफेरा एवं चार जिंदा कारतूस भी
बरामद किए हैं।

पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार बेनीवाल ने बताया कि 1 फरवरी को गांव माड़ी भाट में तेजराम (15) पुत्र जगदीश गुर्जर की डकैत रामवीर गुर्जर ने गोली मारकर हत्या कर दी। जिसके बाद डांग क्षेत्र में डकैत रामवीर गुर्जर के आतंक से लोगों में भय व्याप्त हो गया। मामले की गंभीरता को देखते हुए लांगरा, मंडरायल, मासलपुर, सदर करौली, कुड़गांव, सपोटरा, करणपुर, कैलादेवी थाना पुलिस को डकैत रामवीर गुर्जर की गिरफ्तारी के निर्देश दिए। वहीं डीएसटी क्यूआरटी तथा आरएसी दल को डांग क्षेत्र में सघन तलाशी के लिए भेजा। भरसक प्रयास के बाद पुलिस की एडीएफ टीम ने शुक्रवार रात को डकैत रामवीर गुर्जर को औड़ गांव के ऊपर पहाड़ से आने वाले नाले की तरफ आते हुए घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया। डकैत रामवीर गुर्जर की गिरफ्तारी के बाद एडीएफ टीम ने डकैत रामवीर गुर्जर की निशानदेही पर अवैध हथियार 315 बोर सिंगल शॉट पचफेरा एवं चार जिंदा कारतूस को भी बरामद कर जप्त कर लिया।

पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार बेनीवाल ने बताया कि डकैत रामवीर गुर्जर करौली, धौलपुर एवं मध्य प्रदेश में पूर्णरूपेण सक्रिय था। केवल करौली जिले के ही विभिन्न थानों में उसके खिलाफ13 मुकदमे दर्ज थे। जिसमें थाना कोतवाली करौली में दो, मड़रायल में पांच, करणपुर में तीन, कैलादेवी में एक, सदर थाना करौली में एक मामला दर्ज है। डकैत की गिरफ्तारी के लिए सतत निगरानी रखी गई थी।

ऐसे पकड़ा...टीले पर साड़ी पहने बैठे महिला दिखी, पुलिस पास गई तो भागा डकैत

बसईडांग के झोर गांव के पास मुखबिर की सूचना पर पुलिस डकैत लाल सिंह तलाश इधर-उधर करती रही, लेकिन पुलिस को डकैत नहीं दिखा। इसी दौरान पुलिस कर्मियों की नजर पास के ही एक टीले पर पड़ी, जहां पर साड़ी पहने हुए एक महिला जैसी दिखाई दी। डकैत नहीं मिलने पर पुलिस बैठी महिला के पास जाने लगी तो साड़ी पहने बैठा डकैत पुलिस को देख जाने लगा। इसी दौरान पुलिस ने जूतों से महिला न होने की पहचान कर ली और उसे पकड़ लिया।

डकैत लाल सिंह पर 35 मुकदमे, पहले घोषित था 23 हजार रुपए का इनाम

एसपी मृदुल कच्छावा ने बताया कि लाल सिंह कुख्यात डकैत जगन गुर्जर का सगा भाई है। जिस पर धौलपुर पुलिस से 5000 रुपए का ईनाम घोषित है। बदमाश लाल सिंह पर 35 मुकदमें चल रहे है। पूर्व में लाल सिंह पर 23 हजार का इनाम घोषित रहा है। जिस पर पुलिस मुख्यालय जयपुर की ओर से 15 हजार, उत्तरप्रदेश पुलिस की ओर से 5 हजार, मध्यप्रदेश पुलिस की ओर से 2 हजार एवं करौली पुलिस की ओर से 1 हजार का इनाम घोषित था। लालसिंह जेल में बंद दस्यु जगन गुर्जर का बड़ा भाई है। पुलिस को अब इसके छोटे भाई पप्पू सिंह की तलाश है, जो कई गंभीर मामलों में वांछित है। जिला पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जगन गुर्जर के भाई डकैत लाल सिंह को काफी समय से ही पकड़ने के लिए जाल बिछाया जा रहा है। शनिवार को मुखबिर की सटीक सूचना पर कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार कर लिया।

धौलपुर. साड़ी पहने खड़ा डकैत।

X
Dholpur News - rajasthan news jagan gurjar39s brother dacoit lal singh wearing a sari police team identified him with shoes

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना