Hindi News »Rajasthan »Dhorimana» जांभोजी ने जीवन सुधार के लिए उन्नतीस नियम बनाए :सुदेवानंद

जांभोजी ने जीवन सुधार के लिए उन्नतीस नियम बनाए :सुदेवानंद

गुड़ामालानी | ग्राम पंचायत बांड के शहीद अमृतादेवी पर्यावरण एवं वन्यजीव सेवा संस्थान परिसर में चल रही सात दिवसीय...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 04, 2018, 02:55 AM IST

जांभोजी ने जीवन सुधार के लिए उन्नतीस नियम बनाए :सुदेवानंद
गुड़ामालानी | ग्राम पंचायत बांड के शहीद अमृतादेवी पर्यावरण एवं वन्यजीव सेवा संस्थान परिसर में चल रही सात दिवसीय जम्भवाणी कथा एवं ज्ञान यज्ञ के पांचवें दिन कथावाचक आचार्य सुदेवानंद महाराज ने उन्नतीस नियमों के बारे में बताया। आचार्य ने बताया कि गुरु जम्भेश्वर ने मानव जीवन सुधार के लिए 29 नियम बनाए। जिस का पालन कर मनुष्य अपना कल्याण कर सकता है। उन्होंने बताया कि गुरु जाम्भोजी ने पाखंड, मूर्तिपूजा, अंधविश्वास, झूठ, मक्कारी, दुष्ट एवं राक्षसी प्रवृति पर प्रहार कर मानवता का मार्ग प्रशस्त किया। उन्होंने कहा कि जीवन संस्कार से अच्छा बनता है। इसलिए जीवन मे संस्कार जरुरी हैं। व्यक्ति को अपना जीवन शास्त्र सम्मत और धर्म अनुसार व्यतीत करना चाहिए । उन्होंने कहा कि भक्तजन शब्दवाणी को पढ़कर सच्चरित्रता के साथ जीवन गुजार कर देश, समाज और विश्व में ख्याति प्राप्त कर सकते है। मंदिर कमेटी के कार्यकर्ताओं ने बताया कि शुक्रवार रात्रि को भगवान जम्भेश्वर का जागरण स्वामी भागीरथदास आचार्य के सानिध्य में होगा और जिसका सीधा प्रसारण साधना चैनल के माध्यम से किया जाएगा। जिससे दूरदराज बैठे भक्त भी भगवान की सत्संग का लाभ ले सकें। जम्भवाणी कथा में नई बांड, अणदाणियों की ढाणी, छोटू, राणासर खुर्द, गोलिया गर्वा, खडाली , उड़ासर, मौखावा, गुड़ामालानी, धोरीमन्ना सहित आसपास से सैकड़ों श्रद्धालुओं ने भाग लिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhorimana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×