धोरीमन्ना

--Advertisement--

धोरीमन्ना में पहली बार घोड़ी पर निकली युवती की बंदौली

भास्कर संवाददाता | धोरीमन्ना सबसे आगे बैंड की धुन, पीछे घोड़ी पर सवार दुल्हन और फिर परिवार व रिश्तेदारों के साथ...

Dainik Bhaskar

Jun 30, 2018, 03:30 AM IST
धोरीमन्ना में पहली बार घोड़ी पर निकली युवती की बंदौली
भास्कर संवाददाता | धोरीमन्ना

सबसे आगे बैंड की धुन, पीछे घोड़ी पर सवार दुल्हन और फिर परिवार व रिश्तेदारों के साथ निकली बंदौली। यह नजारा धोरीमन्ना कस्बे में शुक्रवार को देखने को मिला, जब अनुसूचित जनजाति वर्ग की एक युवती की घोड़ी पर बंदौली निकाली गई। घोड़ी पर सवार युवती बिजली वागेला ने परिवार व रिश्तेदारों के मामूली विरोध के बावजूद अपनी जिद के आगे सबको राजी कर लिया। धोरीमन्ना में ही नहीं जिले में भी इस तरह की पहली शादी है, जिसमें एक एसटी समुदाय की बेटी की घोड़ी पर बंदौली निकली। धोरीमन्ना पंचायत समिति के प्रगति प्रसार अधिकारी हेमाराम वागेला की बेटी बिजली वागेला वन विभाग में सिपाही के पद पर धोरीमन्ना में कार्यरत है। अभी बिजली की शादी होने के कारण उसने अपनी बंदौली घोड़ी पर निकालने की जिद की, लेकिन परिवार व समाज के लोगों ने इसका मामूली विरोध किया। इसके बावजूद बिजली अपने निश्चय पर अड़ी रही और अंत में इस उसकी जिद के आगे समाज व परिवार को झुकना पड़ा और शुक्रवार को घोड़ी पर बैंड बाजे के साथ बंदौली निकाली।

नई पहल की प्रशंसा : एसटी की युवती बिजली की घोड़ी पर बंदौली निकलने पूरे जिले की बालिकाओं के लिए मिसाल बन गई है। इस युवती ने दलित समुदाय में बेटियों को पढ़ाने व उन्हें आगे बढ़ाने का संदेश दिया है, वहीं युवती की इस जिद ने एससी-एसटी समाज सहित अन्य वर्ग के लिए भी बेटियों को आगे बढ़ाने का संदेश दिया है।

युवती के दृढ़निश्चय के सामने झुका समाज, बेटियों के लिए बनी मिसाल, सभी ने सराहा

X
धोरीमन्ना में पहली बार घोड़ी पर निकली युवती की बंदौली
Click to listen..