Hindi News »Rajasthan »Dhorimana» किसानों व नहर विभाग अधिकारियों के बीच समझौता नहर में पानी छोड़ने समेत 15 मांगों पर बनी सहमति

किसानों व नहर विभाग अधिकारियों के बीच समझौता नहर में पानी छोड़ने समेत 15 मांगों पर बनी सहमति

भास्कर संवाददाता | धोरीमन्ना नर्मदा नहर में पिछले 13 माह से पानी नहीं आने से पहले नहरी क्षेत्र के किसानों ने पानी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 09, 2018, 04:25 AM IST

किसानों व नहर विभाग अधिकारियों के बीच समझौता नहर में पानी छोड़ने समेत 15 मांगों पर बनी सहमति
भास्कर संवाददाता | धोरीमन्ना

नर्मदा नहर में पिछले 13 माह से पानी नहीं आने से पहले नहरी क्षेत्र के किसानों ने पानी नहर में छोड़ने के लिए ज्ञापन देकर तीन दिन का समय दिया, लेकिन मांग नहीं मानने पर 5 अगस्त से रामजी का गोल पंप स्टेशन पर सभी किसानों ने अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन व कार्मिक अनशन शुरू किया। मगर दो दिन तक नहर विभाग ने किसानों की सुध नहीं ली।

बुधवार को पूर्व राजस्व मंत्री हेमाराम चौधरी के नेतृत्व में किसानों के प्रतिनिधि मंडल ने उग्र आंदोलन एवं हाइवे जाम करने की चेतावनी दी। इस पर नर्मदा नहर के अधिकारी, प्रशासनिक अधिकारी पुलिस जाब्ते के साथ धरना स्थल पर पहुंचे एवं किसानों से लिखित में पानी की आपूर्ति की सहमति देकर धरने को समाप्त करवाया। सिंचाई के लिए भदराई एवं अगड़ावा लिफ्ट कैनाल में पानी की आपूर्ति की मुख्य मांग सहित किसानों की सभी 15 मांगें नहर विभाग के अधिकारियों ने मान ली तथा अन्य 15 सूत्री मांगों के लिए विचार-विमर्श के लिए आगामी सोमवार को सभी डिग्गियो के अध्यक्ष एवं कमेटी के सदस्यों के साथ वार्तालाप के लिए सहमति भी बनी। पानी छोड़ने के समझौते में माणकी वितरिका एवं माईनरो में क्षमतानुसार पूरा पानी चलेगा। किसानों के समर्थन में पूर्व राजस्व मंत्री हेमाराम चौधरी, धोरीमन्ना प्रधान ताजाराम चौधरी, कांग्रेस ब्लाॅक अध्यक्ष दिनेश कुलदीप, बोर चारणान सरपंच जयरूप भण्डवाला, डबोई सरपंच दिनेश विश्नोई, नाथाराम सारण पूर्व सरपंच बांटा, खुमाराम बैरड़ पूर्व सरपंच पीपराली, गुड़ामालानी सरपंच दिनेश शर्मा, भींयाराम बैरड़ बांटा, भोमाराम सियोल बांटा, हेमाराम सियाग, मार्केटिंग सोसायटी अध्यक्ष गोरधनराम विश्नोई माणकी, नेहरू युवा समिति अध्यक्ष सिमरथाराम सेवदा, देवाराम सियाग, भैराराम खोथ पूर्व सरपंच अरणियाली, रूगनाथराम विश्नोई बेरीगांव समेत सैकड़ों किसान मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhorimana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×