• Hindi News
  • Rajasthan
  • Didwana
  • जीवण गोदारा हत्याकांड में संजय पांडे, श्रीवल्लभ और दातारसिंह को उम्रकैद, पप्पूराम को 5 साल की सजा
--Advertisement--

जीवण गोदारा हत्याकांड में संजय पांडे, श्रीवल्लभ और दातारसिंह को उम्रकैद, पप्पूराम को 5 साल की सजा

जीवण राम गोदारा और हरफूल जाट दोहरे हत्याकांड के मामले में डीडवाना एडीजे कोर्ट ने सोमवार को संजय पांडे, दातार सिंह...

Dainik Bhaskar

Mar 06, 2018, 04:05 AM IST
जीवण गोदारा हत्याकांड में संजय पांडे, श्रीवल्लभ और दातारसिंह को उम्रकैद, पप्पूराम को 5 साल की सजा
जीवण राम गोदारा और हरफूल जाट दोहरे हत्याकांड के मामले में डीडवाना एडीजे कोर्ट ने सोमवार को संजय पांडे, दातार सिंह और श्रीवल्लभ को उम्रकैद की सजा सुनाई है। 50-50 हजार रुपए अर्थदंड भी लगाया। पप्पूराम उर्फ पप्या को पांच साल की सजा और 35 हजार रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई। इन सभी को कोर्ट ने 28 फरवरी को दोषी माना था।

इस मामले में कोर्ट ने मंजीतपाल सिंह समेत 11 आरोपियों को बरी कर दिया था। संजय पांडे, श्रीवल्लभ और दातार सिंह को अजमेर सेंट्रल जेल से और पप्पूराम को डीडवाना जेल से कड़ी सुरक्षा के बीच अदालत में पेश किया गया। पैरवी कर रहे रामेश्वरलाल भाकर ने बताया कि 27 जून 2006 को पट्टीदार बूट हाउस पर फायरिंग में जीवण राम और हरफूल घायल हो गए थे। दोनों ने जयपुर में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। आनंदपाल और बलवीर बानूड़ा समेत 23 आरोपी बनाए गए थे। आनंदपाल की पुलिस एनकाउंटर में और बानूड़ा की बीकानेर जेल में फायरिंग में मौत हो गई थी। कालूराम की हृदयगति रुक जाने से मौत हो चुकी है। सुरेश और अनोप सिंह की जांच डीडवाना एडीजे कोर्ट में अलग से चल रही है। दो आरोपी फरार हैं।

पैरवी करने वाले अधिवक्ता की भी हो चुकी है मौत

पीड़ित पक्ष की ओर से निजी वकील के रूप में एडवोकेट रामेश्वरलाल भाकर ने पैरवी की। वे पूर्व में सरकारी वकील के पद पर कार्यरत थे। सरकार बदलते ही भाकर को पीपी पद से हटा दिया था। जिसका किसान संघर्ष समिति ने विरोध किया था। उच्चतम न्यायालय ने भाकर को केवल इसी मामले के लिए 1 फरवरी 2015 को पीपी बनाया था। जगमाल सिंह परिवादी पक्ष की ओर से सहयोगी के रूप मे पैरवी कर रहे हैं। आरोपी पक्ष की ओर से जयवीरसिंह राठौड़, धीरेंद्र सिंह, मोहम्मद अली शेरानी ने पैरवी की। मुख्य पैरवी करने वाले अधिवक्ता नरेंद्र कुमार ओझा की 2 माह पहले हृदयगति रुक जाने से मौत हो चुकी है।

डीडवाना. पप्पूराम, दातारसिंह, संजय पांडे और श्रीवल्लभ को ले जाती पुलिस।

कड़ी सुरक्षा के बीच अजमेर से लाए तीन दोषियों को, 5 थानों का जाब्ता, क्यूआरटी-आरएसी के जवान रहे तैनात

इस प्रकरण में सोमवार को फैसले की सुनवाई के दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। कोर्ट परिसर मे भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। क्षेत्र के एएसपी श्रीमनलाल मीणा, एसएसपी डॉ. दीपक यादव, सीआई जितेंद्र सिंह चारण, लाडनूं थानाधिकारी भजनलाल, मौलासर थानाधिकारी शंभूसिंह सहित खुनखुना, जसवंतगढ़ आदि क्षेत्रों के थानाधिकारी मय जाब्ता तैनात थे। क्यूआरटी और आरएसी के जवान भी कोर्ट परिसर में तैनात किए गए।

X
जीवण गोदारा हत्याकांड में संजय पांडे, श्रीवल्लभ और दातारसिंह को उम्रकैद, पप्पूराम को 5 साल की सजा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..