Hindi News »Rajasthan »Didwana» भारत में लोकतंत्र का भविष्य उज्जवल

भारत में लोकतंत्र का भविष्य उज्जवल

डीडवाना | राजस्थान विश्व विद्यालय जयपुर में राजनीति विज्ञान विभाग द्वारा आयोजित यूएलपी राष्ट्रीय संगोष्ठी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 11, 2018, 04:05 AM IST

डीडवाना | राजस्थान विश्व विद्यालय जयपुर में राजनीति विज्ञान विभाग द्वारा आयोजित यूएलपी राष्ट्रीय संगोष्ठी ‘भारतीय लोकतंत्र वर्तमान परिदृश्य एवं संभावनाएं’ विषय पर प्रथम तकनीकी सत्र में बांगड़ कॉलेज के सहायक आचार्य लोक प्रशासन शासकीय डॉ. सुरेश के. वर्मा ने लोकतंत्र की संकल्पना एवं व्यवहार पर शोधपत्र का वाचन किया। उन्होंने बताया कि भारत में लोकतंत्र का भविष्य उज्जवल है। लोकतंत्र की गति भले ही धीमी होती है पर इसमें बेहद लचीलापन और सहनशीलता होती है। इसलिए हमारे देश में स्वतंत्रता के बाद भी अनेक प्रकार के संगठन बने हुए हैं और विविधता में भी लोकतंत्र के कारण आमजन की सुनवाई हो रही है, क्योंकि सांस्कृति विविधताएं लोकतंत्र का आधार है। संगोष्ठी में डॉ. इरशाद अली खान, हबीब खान सहायक आचार्य ने भी सहभागिता की।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Didwana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×