Hindi News »Rajasthan »Didwana» सरकार का 5वां बजट कल चुनावी साल, इसलिए सौगातें होंगी बड़ी

सरकार का 5वां बजट कल चुनावी साल, इसलिए सौगातें होंगी बड़ी

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सोमवार को अपने मौजूदा कार्यकाल का 5वां और अंतिम बजट पेश करेंगी। चुनावी साल होने के नाते...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 11, 2018, 04:30 AM IST

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सोमवार को अपने मौजूदा कार्यकाल का 5वां और अंतिम बजट पेश करेंगी। चुनावी साल होने के नाते सरकार से बजट में कुछ दमदार घोषणाओं की उम्मीद भी की जा रही है। बड़े खर्च वाली घोषणाओं के लिए गुंजाइश कम है। बजट में सबसे ज्यादा फोकस सड़क और रोजगार पर होगा। परमेश चंद कमेटी प्रदेश में नए जिलों के लिए अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंप चुकी है। सरकार डीडवाना और ब्यावर को जिला बनाने की घोषणा कर सकती है। सरकारी विभागों में करीब एक लाख पद खाली हैं। बजट में 70 हजार से ज्यादा विभिन्न संवर्ग की नौकरियों की घोषणाएं भी होंगी। अर्जुन अवार्डी और अन्य खिलाड़ियों के लिए नौकरियों में सीधी भर्ती का ऐलान किया जा सकता है।

बंपर भर्तियों के साथ मिल सकते हैं नए जिले

किसान, कर्मचारी और कारोबारी को खुश करने की कोशिश भी होगी, बड़े खर्च वाली घोषणाओं की गुंजाइश कम

किसान

फसल उत्पादन बढ़ाने के लिए किसानों को मिल रहे अनुदान का प्रतिशत या लाभार्थियों की संख्या बढ़ाई जा सकती है।

जिन फसलों में एमएसपी नहीं है उनमें से कुछ के लिए मार्केट इंटरवेंशन स्कीम लाई जा सकती है।

कारोबारी

जीएसटी लागू होने के बाद राजस्थान निवेश प्रोत्साहन नीति ठप पड़ी है। अब इसे नए रूप में लागू करने की घोषणा संभव है।

एमएसएमई सेक्टर के लिए भी घोषणाएं संभव है।

हैल्थ

स्वास्थ्य बीमा योजना का दायरा 3 लाख से बढ़ाकर 5 लाख किया जा सकता है।

कर्मचारी

कर्मचारी वर्ग सरकार से काफी नाराज चल रहा है। इसे दूर करने के लिए इस बार बजट में टाइम बाउंड प्रमोशन का गिफ्ट भी मिल सकता है।

महिला कर्मचारियों की लंबे समय से चली आ रही चाइल्ड केयर लीव मांग भी इस बजट में पूरी हो सकती है।

महिला

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना में 14 जिलों में महिला शक्ति केंद्र खोले जाएंगे। ये महिलाओं से जुड़ी योजनाओं के लिंक के रूप में काम करेंगे।

शिक्षा

शेष बचे 21 उपखंडों में कॉलेज खोलने की घोषणा संभव। समितियों द्वारा संचालित इंजी. कॉलेज अपने हाथ में ले सकती है सरकार।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Didwana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×