--Advertisement--

मंत्री खान ने 793 छात्राओं को दिए गार्गी पुरस्कार

शिक्षा का स्तर संस्थान की शैक्षणिक योग्यता पर निर्भर करता है। जिस विद्यालय का शैक्षिक स्तर उच्च क्वालिटी का...

Danik Bhaskar | Feb 25, 2018, 04:50 AM IST
शिक्षा का स्तर संस्थान की शैक्षणिक योग्यता पर निर्भर करता है। जिस विद्यालय का शैक्षिक स्तर उच्च क्वालिटी का रहेगा उस विद्यालय से प्रतिभाएं ही निकलेंगी। जो शिक्षा व खेलों में अव्वल रहकर उस विद्यालय एवं क्षेत्र का नाम रोशन करेंगी। यह बात शहर की बांगड़ राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय नंबर 2 (पीलती स्कूल) में शनिवार को गार्गी पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान मुख्य अतिथि परिवहन मंत्री यूनुस खान ने कही।

मंत्री खान ने कहा कि सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाली छात्राओं को यह पुरस्कार सरकार द्वारा दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिन छात्राओं को पुरस्कार नहीं मिला वे सीनियर में प्रयास करें और निश्चित रूप से सफलता मिलेगी। इस नगर के लिए गौरव की बात है कि कक्षा 10 व 12 की 793 छात्राओं को यह पुरस्कार मिल रहा है। यह हमारे क्षेत्र के लिए भी गौरव की बात है। मंत्री खान ने पीलती स्कूल के विकास के लिए विधायक कोष से 10 लाख रुपए देने की घोषणा की। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश मोदी ने कहा कि जो मेहनत करेगा उसे फल मिलेगा। विशिष्ट अतिथि पूर्व पालिका अध्यक्ष सुरेश वर्मा, अल्पसंख्यक जिलाध्यक्ष नासीर कुरैशी, सुभाष गौड़, मोहन सिंह प्यांवा, महावीर ओझा, विद्यालय के प्रधानाचार्य चेलाराम योगी ने संबोधित किया।

आयोजन

पीलती स्कूल के विकास के लिए विधायक कोष से 10 लाख रुपए देने की घोषणा भी की

क्षेत्र का सबसे पुराना स्कूल, यहां दो साल बाद हुआ सरकारी कार्यक्रम

डीडवाना शहर में वैसे तो अनेक सरकारी व गैर सरकारी उच्च प्राथमिक विद्यालय है, मगर राजकीय उच्च बालिका विद्यालय नं 2 (पीलती स्कूल) इस क्षेत्र का सबसे पुराना विद्यालय है। जो करीब 70 साल से अधिक पुराना है। सरकार की शिक्षा नीति के अनुसार यह विद्यालय गत वर्ष सीनियर सैकण्डरी स्कूल में मर्ज हो गया था। इस विद्यालय में वर्षों पूर्व कोई कार्यक्रम हुए थे। हाल ही में एक व्यक्ति द्वारा विद्यालय की भूमि के स्वामित्व पर अपना अधिकार जताते हुए इस विद्यालय को खाली करने के लिए कलेक्टर, एसडीएम व शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिए गए नोटिस के बाद प्रशासन व शिक्षा विभाग सतर्क हो गया और दो दिनों से इस विद्यालय मैदान की सफाई करवाकर यहां पर राजस्थान सरकार के परिवहन मंत्री की मौजूदगी में सरकारी स्तर पर कार्यक्रम आयोजित करवाया। जो शहर के लोगों के लिए चर्चा का विषय रहा।