Hindi News »Rajasthan »Didwana» सीवरेज चैंबर से गैस निकलने को जगह नहीं, कॉलेज के सामने धमाके के साथ टूटी सड़क

सीवरेज चैंबर से गैस निकलने को जगह नहीं, कॉलेज के सामने धमाके के साथ टूटी सड़क

शहर में राजकीय बांगड़ कॉलेज के सामने हाल ही में सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा बनाई गई सड़क में अचानक शनिवार...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 29, 2018, 02:35 AM IST

सीवरेज चैंबर से गैस निकलने को जगह नहीं, कॉलेज के सामने धमाके के साथ टूटी सड़क
शहर में राजकीय बांगड़ कॉलेज के सामने हाल ही में सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा बनाई गई सड़क में अचानक शनिवार दोपहर करीब 3 बजे विस्फोट होने के साथ ही करीब 8-10 फिट लंबी सड़क के फट जाने से दरारें आ गई। इस घटना से अचानक आसपास के लोग आवाज सुनकर एकबारगी सहम गए। घटना की जानकारी मिलते ही पालिका अधिकारी मौके पर पहुंचे। मगर उन्हें कारणों का पता नहीं चल पाया। बांगड़ कॉलेज के सामने 7डी के तहत हाल ही में नई सड़क का निर्माण किया गया था। कॉलेज के सामने स्थित दुकानदारों ने बताया कि दोपहर करीब 3 बजे अचानक विस्फोट हुआ और सड़क के कुछ भाग में लंबी दरारें आ गई। इस घटना से एकबारगी तो लोग भयभीत हो गए। जानकारी मिलते ही पालिका ईओ डॉ. सहदेव चारण पालिका कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे। जहां देखा कि सीवरेज का चेंबर सुरक्षित है। ईओ ने बताया कि लोगों के अनुसार विस्फोट जैसी आवाज जरूर आई थी। मगर यह कहना संभव नहीं है कि किस कारण से सड़क फटी। इस घटना से आस-पास के लोग भयभीत है और अनेक लोग अपने-अपने कयास लगा रहे है।

भास्कर विशेषज्ञों को लेकर पहुंचा मौके पर - पाइप लाइन लीकेज से गैस को बताया हादसे का कारण

हादसे का कारण जानने भास्कर ने बांगड़ कॉलेज में कार्यरत भू-गर्भ विज्ञान विभाग के 3 प्रोफेसर को मौके पर ले जाकर स्थिति से अवगत करवाया। बांगड़ कॉलेज के प्रो. डॉ अरुण व्यास, डॉ. जहांगीर कुरैशी, प्रो. सीपी गौड़ तीनों मौके पर पहुंचे। तीनों ही विशेषज्ञों का ही यह कहना था कि भूकंप व धरती फटने जैसी भूमिगत कोई घटना नहीं है। जहां सड़क फटी है उसके पास सीवरेज का बड़ा चेंबर है जो सड़क निर्माण के दौरान सीमेंट लगने से चेंबर का ढक्कन पैक हो गया और पाइप लाइन कहीं न कहीं लीकेज है, अंदर से बन रही गैस को निकलने के लिए जगह नहीं मिली। इसी कारण सड़क को तोड़कर गैस निकली है। हाल ही में छापरी गेट के बाहर जो सीवरेज के चेंबर बार-बार ओवरफ्लो होकर मलबा व पानी जो बाहर निकल रहा है वहां पर तो ढक्कन पूर्ण रूप से पैक नहीं है और यहां पर ढक्कन पैक होने के कारण अंदर ही अंदर गैस के रूप में यह घटना घटित हुई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Didwana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×