Hindi News »Rajasthan »Didwana» बिजली लाइन के तार चोरी करने के लिए पिकअप चुराते थे, 3 बदमाशों ने 4 जिलों में 17 वारदात कबूली

बिजली लाइन के तार चोरी करने के लिए पिकअप चुराते थे, 3 बदमाशों ने 4 जिलों में 17 वारदात कबूली

पुलिस ने वाहन व तार चोरी के आरोप में 3 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। वे तार चोरी की वारदात से पहले पिकअप चुराते थे।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 22, 2018, 03:05 AM IST

बिजली लाइन के तार चोरी करने के लिए पिकअप चुराते थे, 3 बदमाशों ने 4 जिलों में 17 वारदात कबूली
पुलिस ने वाहन व तार चोरी के आरोप में 3 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। वे तार चोरी की वारदात से पहले पिकअप चुराते थे। चोरी की पिकअप से ही वारदात को अंजाम देते थे।

थानाधिकारी जितेंद्र सिंह चारण ने बताया कि इस साल 15 जनवरी को थाणूं के रामपाल सिंह ने पिकअप व डीजे चोरी की रिपोर्ट दी थी। एसएसपी डॉ. दीपक यादव के निर्देशन में सिपाही सुरेश कुमार को जांच सौंपी। चोरी की पिकअप गंगापुरसिटी थाना पुलिस ने पकड़ी। आरोपियों ने राणासर की नदी निवासी मुकेश व राकेश से गाड़ी खरीदना बताया। एएसआई रघुराज सिंह, कांस्टेबल सुरेश कुमार टेपण, सुरेंद्र सिंह और नानूराम जेवलिया की टीम ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर तलाश शुरू की। पुलिस ने नीमकाथाना की ढाणी टीबा तन गावड़ी से चंद्रपाल सैनी, सुनील कुमार और अशोक को पकड़ा। उन्होंने थाणूं से पिकअप व डीजे चोरी करना कबूला। उन्होंने डीजे सेट दलेलपुरा के राजेश को बेचने की बात कही है।

सालासर व मौलासर के पास भी की थी पिकअप चोरी

चंद्रपाल ने सेफरान गवार निवासी महेंद्र बुढ़ानिया के साथ डेढ़ साल पहले सालासर के पास खारिया बड़ा गांव से पिकअप चोरी की थी। 1 नवंबर 2017 को मौलासर-झाड़ौद रोड से भी पिकअप चोरी की वारदात उसने कबूली है।

यहां तार चोरी की वारदात

चंद्रपाल, सुनील व अशोक बिजली लाइनों के काम की रैकी करते व रात में तार काट सस्ते दामों में बेच देते थे। इसमें चोरी की पिकअप इस्तेमाल करते। उन्होंने झुंझुनूं जिले में बबाई, सरदारपुरा, बागोली, बढाऊ, बगड़, काली पहाड़ी, अलसीसर, मलसीसर, जोधपुरा, सीकर जिले में कांवट, रानोली, पलसाना, जयपुर जिले में गोविंदगढ़ और शाहपुरा में भी बिजली तार चोरी की वारदातें कबूल की हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Didwana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×