• Home
  • Rajasthan News
  • Didwana News
  • एसडीएम ने ली बैठक, अधिकारियों को मुख्यालय पर ही रहने के निर्देश
--Advertisement--

एसडीएम ने ली बैठक, अधिकारियों को मुख्यालय पर ही रहने के निर्देश

डीडवाना. विभागीय अधिकारियों की बैठक में दिशा-निर्देश देते एसडीएम। सीएम का एक मई को प्रस्तावित है डीडवाना दौरा...

Danik Bhaskar | Apr 27, 2018, 03:05 AM IST
डीडवाना. विभागीय अधिकारियों की बैठक में दिशा-निर्देश देते एसडीएम।

सीएम का एक मई को प्रस्तावित है डीडवाना दौरा

भास्कर संवाददाता | डीडवाना

एसडीएम उत्तम सिंह शेखावत ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों की गुरुवार को आवश्यक बैठक लेकर मुख्यमंत्री के डीडवाना प्रस्तावित कार्यक्रम को लेकर सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि डीडवाना क्षेत्र में जिन-जिन विभागों द्वारा विकास कार्य किए गए है एवं विकास कार्य पूर्ण होने वाले है उन सभी कार्यों की स्वीकृत राशि सहित संपूर्ण रिपोर्ट शुक्रवार को दी जाए और जो कार्य अधूरे है उन्हें जल्द पूरा किया जाय।

बैठक में शेखावत ने पीडब्ल्यूडी अधिकारी को निर्देश दिए कि वर्तमान राजस्थान सरकार के शासन काल के दौरान 4 वर्ष के कार्यकाल में क्षेत्र में विभाग द्वारा जो बड़े कार्य हुए है उनकी सूची दी जाए एवं सीएम द्वारा डीडवाना प्रवास के दौरान विभाग द्वारा कराए गए उन कार्यों की सूची भी दी जाए, जिनका उद्घाटन किया जाना हैं व जिनका उद्घाटन होगा उस कार्य में गुणवत्ता की जांच रिपोर्ट भी दी जाए। इसी प्रकार पालिका अधिकारी को निर्देश दिए कि जो कार्य हुए है, उनमें कौन-कौनसे कार्य पूरे हो गए उनकी सूची दी जाए। साथ ही वर्तमान में जो सीवरेज के कारण अव्यवस्था फैली है, उसके लिए सीवरेज से जुड़े अधिकारियों के खिलाफ अभी तक की गई कार्रवाई की रिपोर्ट भी दी जाए। एसडीएम ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोई भी अधिकारी व कर्मचारी सीएम के दौरे को लेकर मुख्यालय नहीं छोड़े। एसडीएम ने जलदाय विभाग अधिकारियों को निर्देश दिए कि नहरी पानी क्षेत्र के लोगों को पिलाने का प्रमुख कार्य है, जिसका शुभारंभ करने ही मुख्यमंत्री यहां आ रही है। वर्तमान में इस कार्य की प्रगति रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। इस दौरान पीडब्ल्यूडी एक्सईएन जेपी यादव, जलदाय विभाग के सुरेंद्र, चिकित्सा विभाग के डॉ. महेंद्र विश्नोई, तहसीलदार दयानंद, शिक्षा विभाग के हेमाराम, पालिका के भंवर लाल चौधरी सहित अनेक विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।