Hindi News »Rajasthan »Didwana» वैश्य महासम्मेलन कार्यकर्ताओं ने तुलसी के 101 पौधे बांटे, लोगों को बताए इसके फायदे

वैश्य महासम्मेलन कार्यकर्ताओं ने तुलसी के 101 पौधे बांटे, लोगों को बताए इसके फायदे

अंतरराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन की स्थानीय इकाई द्वारा श्री दोजराज गणेश मंदिर में पुजारी रामावतार दाधीच के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 12, 2018, 03:40 AM IST

वैश्य महासम्मेलन कार्यकर्ताओं ने तुलसी के 101 पौधे बांटे, लोगों को बताए इसके फायदे
अंतरराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन की स्थानीय इकाई द्वारा श्री दोजराज गणेश मंदिर में पुजारी रामावतार दाधीच के सान्निध्य में बुधवार को 101 तुलसी के पौधों का वितरण किया गया। दाधीच ने कहा कि तुलसी को घरों में लगाने का धार्मिक महत्व है। महिलाएं प्रतिदिन तुलसी का पूजन कर जल का अभिषेक करती है। मंदिरों में तुलसी पत्र भगवान को अर्पण कर प्रत्येक श्रद्धालु को दिया जाता है। तुलसी के पत्ते के सेवन से कई तरह के रोगों में भी फायदा मिलता है। इस दौरान अध्यक्ष हनुमान प्रसाद पौद्दार, वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद पटवारी, महामंत्री संजय नागौरी, मंत्री राकेश, प्रचार मंत्री रामेश्वर सारड़ा, प्रवक्ता भरत मोदी, राजेंद्र झंवर, मुकेश रूवटिया, मांगीलाल पटवारी, नेमीचंद पंवार, गोविंद प्रजापत, मंदिर ट्रस्टी परशुराम आदि उपस्थित थे।

डेगाना| गांव चुई की श्री गणेश गौशाला व महियासर रोड पर स्थित संत श्री भोलाराम कबीर आश्रम में विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर संत रामप्रसाद महाराज के निर्देशन में 151 पौधे लगाकर पर्यावरण संरक्षण का आह्वान किया। गौशाला कोषाध्यक्ष रामूराम डूडी ने बताया कि 85 छायादार, 40 फलदार, 20 फूलदार पौधे लगाए गए। सांजू| रोहिणा गांव के मुक्तिधाम में सरपंच प्रतिनिधि राजूसिंह रोहिणा के सानिध्य में बुधवार को पौधरोपण किया गया। सरपंच प्रतिनिधि रोहिणा ने बताया कि पर्यावरण की शुद्धि के लिए पौधरोपण आवश्यक है। इस दौरान कई तरह के पौधे लगाए गए।

डीडवाना. गणेश मंदिर में तुलसी के पौधे वितरित करते पदाधिकारी व कार्यकर्ता।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Didwana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×