डीडवाना

  • Home
  • Rajasthan News
  • Didwana News
  • 65 दिन पहले खुनखुना व डीडवाना से लिए घी व तेल के सैंपल एक की रिपोर्ट फेल, मामला दर्ज, 3 की रिपोर्ट का अभी इंतजार
--Advertisement--

65 दिन पहले खुनखुना व डीडवाना से लिए घी व तेल के सैंपल एक की रिपोर्ट फेल, मामला दर्ज, 3 की रिपोर्ट का अभी इंतजार

डीडवाना क्षेत्र में नकली घी बेचने वालों के खिलाफ पुलिस द्वारा दबिश देकर पूर्व में की गई कार्रवाई में खाद्य रसद...

Danik Bhaskar

Jun 29, 2018, 03:45 AM IST
डीडवाना क्षेत्र में नकली घी बेचने वालों के खिलाफ पुलिस द्वारा दबिश देकर पूर्व में की गई कार्रवाई में खाद्य रसद विभाग द्वारा लिए गए घी व तेल के सैंपलों की जोधपुर लेबोरेट्री में की जा रही जांच में क्षेत्र के गांव खुनखुना में एक दुकानदार से बरामद किए गए घी के सेम्पल जांच के दौरान फेल पाए गए। जिसके चलते उसके खिलाफ खुनखुना थाने में मामला दर्ज किया गया था। मगर डीडवाना शहर में उसी दौरान की गई कार्रवाई में अभी तक कोई जांच रिपोर्ट डीडवाना पुलिस को नहीं मिली है। जबकि 14 दिन के अंदर जांच रिपोर्ट आ जानी चाहिए थी, मगर किन कारणों से जांच रिपोर्ट नहीं आई इसका अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है। क्षेत्र के एसएसपी डॉ. दीपक यादव के निर्देशन में 19 अप्रैल को पुलिस टीम द्वारा खाटू क्षेत्र में एक व्यापारी के व डीडवाना शहर में तीन व्यापारियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए घी व तेल के नकली होने की आशंका जताते हुए भारी मात्रा में तेल, घी के टिन बरामद कर पुलिस थाने लाए गए थे। जहां रसद विभाग के सुरेन्द्र जांगिड़ द्वारा सेम्पल भरने की कार्रवाई की गई और जांच के लिए भेजा गया था। उस दौरान जांगिड़ ने यही कहा था कि जांच रिपोर्ट आने में 14 दिन का समय लगता है, मगर अभी तक जांच रिपोर्ट नहीं आई है। जबकि एक ही दिन टीम द्वारा खाटू व डीडवाना में कार्रवाई की गई थी और खाटू के व्यापारी के सेम्पल फेल होने की रिपोर्ट पुलिस को मिल गई और पुलिस ने उक्त व्यापारी के खिलाफ 8 जून को खुनखुना थाने में मामला भी दर्ज कर लिया। जब खाटू की जांच रिपोर्ट आ गई तो डीडवाना में हुई कार्यवाही की रिपोर्ट 65 दिन बाद भी नहीं आना जिम्मेदारों पर सवाल खड़े कर रही है।

शहर में चर्चा, अब नहीं होगी कोई कार्रवाई

लम्बे अंतराल के बाद जांच रिपोर्ट नहीं आने से स्थानीय व्यापारियों में भी यह चर्चा होने लगी है कि कुछ कार्रवाई नहीं होगी। विभाग की टीम अगर डीडवाना में पुन: इस प्रकार की जांच शुरू करती है तो निश्चित रूप से कुछ दुकानदारों के पास नकली घी बरामद किया जा सकता है। क्षेत्र के एसएसपी डॉ. दीपक यादव से पूछे जाने पर कहा कि जांच रिपोर्ट में देरी होना विभागीय कार्य की ढिलाई है। इस संदर्भ में दो बार पत्र लिखे और अंतिम पत्र डाक से नहीं बल्कि विभागीय कर्मचारी को व्यक्तिगत रूप से भेजकर जांच रिपोर्ट की कार्रवाई की जाएगी। वहीं खाद्य निरीक्षक अधिकारी सुरेन्द्र जांगिड़ से पूछे जाने पर बताया कि जांच रिर्पोट हमारे पास नहीं आएगी बल्कि सीधी पुलिस थाने में ही जाएगी।

Click to listen..