--Advertisement--

पानी की लाइन लीकेज होने से मकानों में फिर आ गई दरारें

शहर के अनेक स्थानों पर जलदाय विभाग व सीवरेज की अनियमितता आए दिन सामने आ रही है। अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा...

Dainik Bhaskar

Aug 09, 2018, 03:50 AM IST
शहर के अनेक स्थानों पर जलदाय विभाग व सीवरेज की अनियमितता आए दिन सामने आ रही है। अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा आमजन को भुगतना पड़ रहा है। गत सप्ताह नगर के वार्ड सं. 15 में स्थित लाहोटिया की गली में जलदाय विभाग की टूटी पाइप लाइन के कारण अनेक मकानों में दरारें आ गई थी और वार्ड वासियों ने प्रशासन को ज्ञापन भी दिया था। मगर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसी मोहल्ले में बुधवार को भी दो मकानों में फिर दरारें आ गई। जबकि बाहर से पाइप लाइन कहीं से भी क्षतिग्रस्त नहीं है। मगर तकनीकी कर्मियों के अनुसार पाइप लाइन जो सीसी रोड में भूमिगत है, अंदर से कहीं से लीक हो सकती हैं। जिसके कारण उसका पानी लोगों के घरों में जा रहा है और मकानों में दरारें पड़ रही है। पार्षद नीतेश बाजारी के नेतृत्व में पालिका ईओ को एक ज्ञापन दिया गया। जिसमें मांग की गई कि दो दिन में मकानों में आ रही दरारों की जांच कराई जाए। ईओ ने कहा कि यह कार्य जलदाय विभाग का है। मगर फिर भी आपदा प्रबंधन विभाग के नियमों के अनुसार इसकी जांच कराई जाएगी। वहीं नीतेश बाजारी ने तहसीलदार कार्यालय में भी राजस्व अधिकारी को लिखित रूप से ज्ञापन देकर आपदा प्रबंधन विभाग से जांच करवाकर उचित मुआवजा दिलाए जाने की मांग की है। बाजारी ने बताया कि भूमि के अंदर से जो पाइप लाइन लीकेज हो रही है, उसकी जानकारी नहीं हो रही है कि पानी मकानों की नींवों में कहां से आ रहा है, इसकी जांच करवाई जाए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..