Hindi News »Rajasthan »Didwana» पांच वर्ष में जुड़े 19 हजार 964 नए मतदाता, कांग्रेस बोली- कराएंगे जांच

पांच वर्ष में जुड़े 19 हजार 964 नए मतदाता, कांग्रेस बोली- कराएंगे जांच

निर्वाचन आयोग द्वारा हर वर्ष मतदाता संख्या बढ़ाए जाने को लेकर अभियान चलाया जाता हैं एवं 18 वर्ष से अधिक की आयु के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 02, 2018, 03:55 AM IST

निर्वाचन आयोग द्वारा हर वर्ष मतदाता संख्या बढ़ाए जाने को लेकर अभियान चलाया जाता हैं एवं 18 वर्ष से अधिक की आयु के युवक-युवतियों के नाम मतदाता सूची में जुड़वाने की कार्रवाई में गति देने के लिए संबंधित बीएलओ को निर्देश देकर लक्ष्य पूरा करने के लिए कहा जाता हैं। इसमें डीडवाना विधानसभा क्षेत्र से गत बार 5 वर्ष की तुलना में काफी संख्या में मतदाताओं की संख्या में बढ़ोतरी हुई हैं। डीडवाना विधानसभा क्षेत्र में 245 बूथ हैं और इतने ही बीएलओ कार्यरत हैं। वर्ष 2009 में मतदाताओं की संख्या 2 लाख 5 हजार थी। वहीं 2014 में 2 लाख 9 हजार हो गई। यानी 5 वर्ष में केवल 4 हजार मतदाताओं की संख्या में बढ़ोतरी हुई थी। मगर 2014 के बाद से लेकर वर्तमान में 2 लाख 28 हजार 964 मतदाता हो चुके हैं। जिसमें 1 लाख 19 हजार 316 पुरुष व 1 लाख 9 हजार 669 महिलाएं शामिल हैं। यानी 19 हजार 964 मतदाता इन 5 वर्षों में बढ़े है। जो पूर्व की तुलना में 5 गुना अधिक हैं। वहीं कांग्रेस पार्टी की ओर से इतनी संख्या में बढ़ी मतदाता संख्या को लेकर जांच करवाए जाने की मांग उठ रही हैं। प्रदेश कांग्रेस सचिव चेतन डूडी ने बताया कि मतदाता प्रतिशत बढ़ना चाहिए। मगर एक साथ करीब 20 हजार मतदाताओं की संख्या बढ़ना संबंधित बीएलओ की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगा रही है। इस मामले में निर्वाचन आयोग से जांच की मांग की जाएगी। प्रदेश में मतदाता सूची एवं ईवीएम मशीन में जो गड़बडिय़ां है, उसकी आशंका को लेकर केंद्रीय नेतृत्व एवं प्रदेश नेतृत्व शुक्रवार को निर्वाचन आयोग से मिल चुका हैं।

भास्कर संवाददाता | डीडवाना

निर्वाचन आयोग द्वारा हर वर्ष मतदाता संख्या बढ़ाए जाने को लेकर अभियान चलाया जाता हैं एवं 18 वर्ष से अधिक की आयु के युवक-युवतियों के नाम मतदाता सूची में जुड़वाने की कार्रवाई में गति देने के लिए संबंधित बीएलओ को निर्देश देकर लक्ष्य पूरा करने के लिए कहा जाता हैं। इसमें डीडवाना विधानसभा क्षेत्र से गत बार 5 वर्ष की तुलना में काफी संख्या में मतदाताओं की संख्या में बढ़ोतरी हुई हैं। डीडवाना विधानसभा क्षेत्र में 245 बूथ हैं और इतने ही बीएलओ कार्यरत हैं। वर्ष 2009 में मतदाताओं की संख्या 2 लाख 5 हजार थी। वहीं 2014 में 2 लाख 9 हजार हो गई। यानी 5 वर्ष में केवल 4 हजार मतदाताओं की संख्या में बढ़ोतरी हुई थी। मगर 2014 के बाद से लेकर वर्तमान में 2 लाख 28 हजार 964 मतदाता हो चुके हैं। जिसमें 1 लाख 19 हजार 316 पुरुष व 1 लाख 9 हजार 669 महिलाएं शामिल हैं। यानी 19 हजार 964 मतदाता इन 5 वर्षों में बढ़े है। जो पूर्व की तुलना में 5 गुना अधिक हैं। वहीं कांग्रेस पार्टी की ओर से इतनी संख्या में बढ़ी मतदाता संख्या को लेकर जांच करवाए जाने की मांग उठ रही हैं। प्रदेश कांग्रेस सचिव चेतन डूडी ने बताया कि मतदाता प्रतिशत बढ़ना चाहिए। मगर एक साथ करीब 20 हजार मतदाताओं की संख्या बढ़ना संबंधित बीएलओ की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगा रही है। इस मामले में निर्वाचन आयोग से जांच की मांग की जाएगी। प्रदेश में मतदाता सूची एवं ईवीएम मशीन में जो गड़बडिय़ां है, उसकी आशंका को लेकर केंद्रीय नेतृत्व एवं प्रदेश नेतृत्व शुक्रवार को निर्वाचन आयोग से मिल चुका हैं।

पीसीसी सदस्य बोले

आधार कार्ड से जुड़े मतदाता पहचान पत्र : पायली

वहीं पीसीसी सदस्य रामकरण पायली ने भी इस प्रकरण में जांच करवाए जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची में पहचान पत्र को आधार कार्ड से जोड़ा जाए। ताकि जिनके नाम डबल है, उनका नाम सूची से स्वत: ही निरस्त हो जाएगा। क्षेत्र के निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी एसडीएम उत्तम सिंह शेखावत ने बताया कि दो बार बड़े अभियान चलाकर मतदाताओं की संख्या में बढ़ोतरी की गई थी। जिसमें देखा गया कि महिलाओं की संख्या बढ़ी हैं। चुनाव आयोग का लक्ष्य हैं कि किस भी व्यस्क नागरिक का नाम मतदाता सूची से वंचित नहीं रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Didwana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×