• Home
  • Rajasthan News
  • Didwana News
  • डीडवाना में कब्जे रोकने की मांग को लेकर दिया ज्ञापन, एसडीएम बोले-मामला कोर्ट में
--Advertisement--

डीडवाना में कब्जे रोकने की मांग को लेकर दिया ज्ञापन, एसडीएम बोले-मामला कोर्ट में

प्रदेश कांग्रेस सचिव चेतन डूडी के नेतृत्व में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी डीडवाना ने एसडीएम को ज्ञापन देकर कस्टोडियन...

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 03:55 AM IST
प्रदेश कांग्रेस सचिव चेतन डूडी के नेतृत्व में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी डीडवाना ने एसडीएम को ज्ञापन देकर कस्टोडियन भूमि पर हो रही प्लॉटिंग व नगर शहर में कब्जों को रोकने की मांग की हैं। डूडी ने बताया कि नगर के कृषि मंडी रोड पर खसरा नं. 2313, 13 बीघा 18 बिस्वा भूमि भारत सरकार महकमा कस्टोडियन के नाम से दर्ज थी एवं 8 जून 2011 को उक्त खाता राज्य सरकार के नाम दर्ज हो गया। इसके बाद 9 मई 2013 को संपूर्ण खातेदारी नगरपालिका के नाम भी स्वीकृत हो गई। जमीन सरकारी है मगर जमीन कीमती होने के कारण क्षेत्र के कुछ प्रभावशाली व्यक्ति राजनैतिक प्रभाव का फायदा उठाकर सरकार की भूमि पर नियम विरुद्ध प्लॉटिंग कर रहे हैं। इस भूमि को हड़पने के प्रयास में लगे हुए हैं। यह भूमि पूर्व में भी 1 अक्टूबर 2013 को नहर विभाग के नाम आवंटित हुई थी। ज्ञापन देने वालों में ब्लॉक अध्यक्ष रामेश्वरलाल भाकर, पूर्व पालिकाध्यक्ष हीरालाल सोलंकी, पूर्व उपाध्यक्ष हाजी महमूद रंगरेज, महासचिव सैयद खान मोहम्मद, पालिका प्रतिपक्ष नेता उम्मेद हसन पठान, नगर अध्यक्ष उदाराम माली, पार्षद मलिक खत्री, एडवोकेट लालसिंह गोदारा सहित लोग शामिल थे।

भास्कर संवाददाता| डीडवाना

प्रदेश कांग्रेस सचिव चेतन डूडी के नेतृत्व में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी डीडवाना ने एसडीएम को ज्ञापन देकर कस्टोडियन भूमि पर हो रही प्लॉटिंग व नगर शहर में कब्जों को रोकने की मांग की हैं। डूडी ने बताया कि नगर के कृषि मंडी रोड पर खसरा नं. 2313, 13 बीघा 18 बिस्वा भूमि भारत सरकार महकमा कस्टोडियन के नाम से दर्ज थी एवं 8 जून 2011 को उक्त खाता राज्य सरकार के नाम दर्ज हो गया। इसके बाद 9 मई 2013 को संपूर्ण खातेदारी नगरपालिका के नाम भी स्वीकृत हो गई। जमीन सरकारी है मगर जमीन कीमती होने के कारण क्षेत्र के कुछ प्रभावशाली व्यक्ति राजनैतिक प्रभाव का फायदा उठाकर सरकार की भूमि पर नियम विरुद्ध प्लॉटिंग कर रहे हैं। इस भूमि को हड़पने के प्रयास में लगे हुए हैं। यह भूमि पूर्व में भी 1 अक्टूबर 2013 को नहर विभाग के नाम आवंटित हुई थी। ज्ञापन देने वालों में ब्लॉक अध्यक्ष रामेश्वरलाल भाकर, पूर्व पालिकाध्यक्ष हीरालाल सोलंकी, पूर्व उपाध्यक्ष हाजी महमूद रंगरेज, महासचिव सैयद खान मोहम्मद, पालिका प्रतिपक्ष नेता उम्मेद हसन पठान, नगर अध्यक्ष उदाराम माली, पार्षद मलिक खत्री, एडवोकेट लालसिंह गोदारा सहित लोग शामिल थे।

एसडीएम ने कहा मामला कोर्ट में चल रहा है