Hindi News »Rajasthan »Didwana» 13250 फीट पर आग से और 8 दिन मौत से लड़े एक किमी लंबा सूबेदार सत्तार की विदाई का सफर

13250 फीट पर आग से और 8 दिन मौत से लड़े एक किमी लंबा सूबेदार सत्तार की विदाई का सफर

मावा में सेना के जांबाज सूबेदार अब्दुल सत्तार को मंगलवार को नम आखों के साथ सुपुर्दे खाक किया गया। एक किमी लंबी...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 23, 2018, 04:05 AM IST

  • 13250 फीट पर आग से और 8 दिन मौत से लड़े एक किमी लंबा सूबेदार सत्तार की विदाई का सफर
    +2और स्लाइड देखें
    मावा में सेना के जांबाज सूबेदार अब्दुल सत्तार को मंगलवार को नम आखों के साथ सुपुर्दे खाक किया गया। एक किमी लंबी अंतिम यात्रा में गांव और आसपास के लोग शरीक हुए। सेना व आरएसी के जवानों ने 3 राउंड फायर कर सलामी दी। वे 13 ग्रेनेडियर्स गंगा जैसलमेर रेजिमेंट में कश्मीर के गुरेज सेक्टर में 13250 फीट की ऊंचाई पर एलओसी पर तैनात थे। कंपनी के कमांडर विक्रम सिंह ने बताया कि 12 मई को दोपहर में बंकर में आग लग गई थी। सूबेदार सत्तार ने जान पर खेल साथियों को बाहर निकाला। असला बारूद, हथियार और सरकारी सामान को बचाते हुए 50% झुलस गए। उन्होंने 20 मई को आखिरी सांस ली थी।

    युवा-बुजुर्गों में शहीद को कंधा देने की होड़, पीडब्ल्यूडी मंत्री ने पुष्पचक्र चढ़ाए

    शहीद सूबेदार सत्तार की पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित करते मंत्री खान।

    हर किसी की करते थे मदद

    राजेंद्र सिंह शेखावत ने बताया कि सत्तार हेल्पिंग नेचर के थे। सामान ले कोई पैदल चलता तो वे आगे होकर मदद करते। वे साथियों के बीच क्रिएटिव मैन के रूप में प्रसिद्ध थे।

    ग्रामीणों ने बाजार बंद रख दी श्रद्धांजलि

    अपने वीर सपूत अब्दुल सत्तार के शहीद होने की खबर पाकर सारा गांव गमगीन हो गया। ग्रामीण उनके घर पहुंचे। व्यापारियों ने बाजार बंद रखकर शहीद को श्रद्धांजलि दी। घर की छतों पर खड़ी होकर महिलाओं ने अंतिम विदाई दी।

    आखिरी सलामी

    13250 फीट ऊंचाई पर अपनी चौकी पर साथियों के साथ तिरंगे को सलामी देते सूबेदार सत्तार। (फाइल फोटो)

    पीडब्ल्यूडी मंत्री यूनुस खां ने शहीद अब्दुल सत्तार की पार्थिव देह पर पुष्प चक्र अर्पित किए। सेना व पुलिस के जवानों ने पार्थिव देह को कंधा दे घर से रवाना किया। हर युवा और बुजुर्ग उन्हें कंधा देना चाह रहा था। लाडनूं विधायक मनोहर सिंह, डीडवाना प्रधान गुल्लाराम ढाका, मौलासर प्रधान जालाराम भाकर, एडीएम बलवंत सिंह लिग्री, एसडीएम उत्तम सिंह शेखावत, सीआई जितेंद्र चारण, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल मदन सिंह जोधा, भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश मोदी, सुभाष गौड़, डॉ. सोहन चौधरी, चैनाराम बलारा, अजमेरी खां, अजीत सिंह डीडवाना सहित कई जनप्रतिनिधि और प्रशासनिक अधिकारी सूबेदार सत्तार की अंतिम यात्रा में शामिल हुए।

  • 13250 फीट पर आग से और 8 दिन मौत से लड़े एक किमी लंबा सूबेदार सत्तार की विदाई का सफर
    +2और स्लाइड देखें
  • 13250 फीट पर आग से और 8 दिन मौत से लड़े एक किमी लंबा सूबेदार सत्तार की विदाई का सफर
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Didwana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×