• Hindi News
  • Rajasthan
  • Dungarpur
  • मौज शौक को पूरा करने के लिए चुराते थे बाइक राजस्थान गुजरात की गैंग का खुलासा, 3 गिरफ्तार
--Advertisement--

मौज-शौक को पूरा करने के लिए चुराते थे बाइक राजस्थान-गुजरात की गैंग का खुलासा, 3 गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:45 AM IST

Dungarpur News - राजस्थान के डूंगरपुर सहित गुजरात में बाइक चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह का कोतवाली पुलिस ने खुलासा...

मौज-शौक को पूरा करने के लिए चुराते थे बाइक राजस्थान-गुजरात की गैंग का खुलासा, 3 गिरफ्तार
राजस्थान के डूंगरपुर सहित गुजरात में बाइक चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह का कोतवाली पुलिस ने खुलासा किया है।

गिरोह के 3 चोर युवक को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने बाइक चोरी की 13 वारदातें कबूल की हैं, जिसमें से पुलिस ने 7 बाइक भी बरामद कर ली है। तीनों आरोपियों की उम्र करीब 20 से 23 साल की है। ऐसे में यह युवक अपने मौज-शौक को पूरा करने के लिए चोरी की वारदातों को अंजाम देने में लगे थे। चोरी की बाइक बेचने के बाद आने वाले पैसों को आपस में बांट लेते, उससे नए मोबाइल फोन, कपड़े और शराब में उड़ाते थे। इन बढ़ते शौक को पूरा करने के लिए ही इस तरह की वारदातें करना शुरू कर दिया था। कार्यवाहक एसपी नितेश आर्य, डीएसपी माधोसिंह सोढ़ा के निर्देशन में विशेष टीम का गठन किया गया। शहर कोतवाल रामसुमेर मीणा के नेतृत्व में टीम ने बाइक चोरी की वारदात करने वाले गिरोह पर निगरानी शुरू कर दी तो शहर में घूमने वाले कुछ युवकों की संदिग्ध हरकतें नजर आई। पुलिस ने इसमें तकनीक का उपयोग किया और पता लगा कि बाइक चोरी करने वाले गिरोह के 3 युवक बिछीवाड़ा की ओर से शहर में आ रहे हैं। पुलिस ने सिंटेक्स तिराहे पर नाकाबंदी कर दी तो एक बाइक पर तीनों युवक को पकड़ा, उनके पास से बाइक के कागज मांगे तो नहीं थे। बाद में जांच में पता लगा कि आरोपी चोरी की बाइक लेकर चला रहे थे। सख्ती से पूछताछ की गई तो बाइक चोरी की 13 वारदातें कबूल ली। इसमें से पुलिस ने 7 बाइक आरोपियों की निशानदेही से जब्त की है। इसमें से 5 बाइक डूंगरपुर शहर और 2 बाइक सदर थाना क्षेत्र के गांवों के हैं।

उदयपुर जिले के रहने वाले तीनों आरोपियों में विजय मुख्य सरगना

पुलिस ने बाइक चोरी के मामले में उदयपुर जिले के पहाड़ा थाना क्षेत्र बलीचा फला निवासी विजय (23) पुत्र बंशीलाल डामोर, डबायचा निवासी विनोद पुत्र बाबू खराड़ी मीणा और गुड़ा पाटिया निवासी अमृतलाल पुत्र बदा बरंडा मीणा को गिरफ्तार कर लिया है। विजय डामोर इसमें मुख्य सरगना है। विजय दुष्कर्म के मामले में पहले भी जेल में रह चुका है।

रैकी करते, किसी भी बाइक का ताला 3 मिनट में खोल नंबर बदल देते

बाइक चोरी के मामले में तीनों आरोपी इतने शातिर थे कि पहले यह चोरी करने के लिए बाइक की रैकी करते। इसके बाद दो युवक उस बाइक के पास जाते और मास्टर चाबी से किसी भी बाइक का ताला 3 मिनट में खोल देते। इसके बाद अगले 2 मिनट में ही उस बाइक को लेकर रफूचक्कर हो जाते। इसके बाद आरोपी उस बाइक की नंबर प्लेट भी बदल देते, ताकि वह पुलिस की पकड़ में नहीं आए। पुलिस की नाकाबंदी होने पर वह बाइक को छोड़कर चले जाते। ऐसे में वह पकड़ में भी नहीं आ पाते थे।

गुजरात के भीलूड़ा में वारदातें कबूली

आरोपियों ने गुजरात के भीलूड़ा में भी बाइक चोरी की वारदातें करना कबूल किया है। ऐसे में डूंगरपुर पुलिस गुजरात पुलिस से भी संपर्क कर रही है और वहां बाइक चोरी की वारदातों को लेकर रिकॉर्ड मांगा गया है ताकि यह पता लग सके कि कहां कितनी बाइक चोरी हुई है।

चोरी की बाइक से करने लगे थे शराब तस्करी

आरोपी इन चोरी की बाइक से शराब तस्करी भी करने लगे थे। राजस्थान से शराब ले जाकर गुजरात बेचते थे, जिससे कि अच्छे पैसे मिल जाते थे। आरोपियों ने कई बार बाइक पर ही गुजरात शराब ले जाने की बात भी कही है। पुलिस नाकाबंदी होने पर वह बाइक को छोड़कर ही भाग जाते, ताकि पकड़ में नहीं आए।

X
मौज-शौक को पूरा करने के लिए चुराते थे बाइक राजस्थान-गुजरात की गैंग का खुलासा, 3 गिरफ्तार
Astrology

Recommended

Click to listen..