• Home
  • Rajasthan News
  • Dungarpur News
  • बच्चे डूंगरपुर शहर के दर्शनीय स्थलों का भ्रमण करेंगे
--Advertisement--

बच्चे डूंगरपुर शहर के दर्शनीय स्थलों का भ्रमण करेंगे

डूंगरपुर| बालक व बालिकाओं में श्रम के प्रति निष्ठा व आत्मविश्वास जगाने, उन्हें स्वावलंबी बनाने एवं खाली समय के...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:05 AM IST
डूंगरपुर| बालक व बालिकाओं में श्रम के प्रति निष्ठा व आत्मविश्वास जगाने, उन्हें स्वावलंबी बनाने एवं खाली समय के सदुपयोग की दृष्टि से राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड जिला मुख्यालय डूंगरपुर की ओर से शहर के महारावल स्कूल में कौशल विकास एवं अभिरुचि प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया।

सीओ स्काउट सवाईसिंह ने बताया कि 18 जून तक बालक व बालिकाओं को सिलाई, कढ़ाई-बुनाई, पेंटिंग-चित्रकला, मेहंदी, गृह साज-सज्जा, सॉफ्ट टॉयज, ज्वैलरी, ब्यूटीशियन, घरेलू विद्युत, कार्य कम्प्यूटर प्रशिक्षण, नृत्य डांस, इंग्लिश स्पोकन, गणित का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। प्रशिक्षण शिविर में सांस्कृतिक कार्यक्रम व विभिन्न प्रतियोगिताएं भी होंगी। प्रशिक्षण में भाग लेने वाले सभी बालक व बालिकाओं को प्रमाण पत्र प्रदान किए जाएंगे। स्कूल प्रधानाचार्या दीपिका द्विवेदी द्वारा बालक व बालिकाओं के लिए ठंडे जल की निशुल्क व्यवस्था की गई है। शिविर संयोजक गणेशलाल मोदी ने बताया कि बालक व बालिकाओं को डूंगरपुर शहर के दर्शनीय स्थलों का भ्रमण निशुल्क करवाया जाएगा। शिविर में अनिल जैन, हीरालाल भील, विशाल जैन, सुशीला डामोर, हंसबाला परमार स्काउटर व गाइडर सेवाएं दे रहे हैं।

डूंगरपुर| बालक व बालिकाओं में श्रम के प्रति निष्ठा व आत्मविश्वास जगाने, उन्हें स्वावलंबी बनाने एवं खाली समय के सदुपयोग की दृष्टि से राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड जिला मुख्यालय डूंगरपुर की ओर से शहर के महारावल स्कूल में कौशल विकास एवं अभिरुचि प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया।

सीओ स्काउट सवाईसिंह ने बताया कि 18 जून तक बालक व बालिकाओं को सिलाई, कढ़ाई-बुनाई, पेंटिंग-चित्रकला, मेहंदी, गृह साज-सज्जा, सॉफ्ट टॉयज, ज्वैलरी, ब्यूटीशियन, घरेलू विद्युत, कार्य कम्प्यूटर प्रशिक्षण, नृत्य डांस, इंग्लिश स्पोकन, गणित का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। प्रशिक्षण शिविर में सांस्कृतिक कार्यक्रम व विभिन्न प्रतियोगिताएं भी होंगी। प्रशिक्षण में भाग लेने वाले सभी बालक व बालिकाओं को प्रमाण पत्र प्रदान किए जाएंगे। स्कूल प्रधानाचार्या दीपिका द्विवेदी द्वारा बालक व बालिकाओं के लिए ठंडे जल की निशुल्क व्यवस्था की गई है। शिविर संयोजक गणेशलाल मोदी ने बताया कि बालक व बालिकाओं को डूंगरपुर शहर के दर्शनीय स्थलों का भ्रमण निशुल्क करवाया जाएगा। शिविर में अनिल जैन, हीरालाल भील, विशाल जैन, सुशीला डामोर, हंसबाला परमार स्काउटर व गाइडर सेवाएं दे रहे हैं।