• Home
  • Rajasthan News
  • Dungarpur News
  • सर्वार्थ सिद्धि व अश्विनी नक्षत्र संयोग, हुई शादियों की खरीदारी
--Advertisement--

सर्वार्थ सिद्धि व अश्विनी नक्षत्र संयोग, हुई शादियों की खरीदारी

डूंगरपुर| सोमवती अमावस्या पर सोमवार को कई खास योगों के बीच मनाई गई। 10 साल बाद वैशाख में सोमवती अमावस्या पर सर्वार्थ...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:35 AM IST
डूंगरपुर| सोमवती अमावस्या पर सोमवार को कई खास योगों के बीच मनाई गई। 10 साल बाद वैशाख में सोमवती अमावस्या पर सर्वार्थ सिद्धि व अश्विनी नक्षत्र का संयोग बन रहा है, जो शुभ कार्यों व दान-पुण्य के लिए विशेष फलदायी था। महिलाओं ने व्रत कर पति की लंबी आयु के लिए फल व अन्न का दान दिया।

मंदिरों में पूजा-अर्चना की गई। सोमवती अमावस्या साल में एक या दो बार ही होती है। इस दिन पवित्र नदियों में स्नान व दान से कई गुना फल मिलता है। वैशाख में सोमवती अमावस्या पर दो बड़े शुभ व लाभकारी योग रहेंगे। इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग रहेगा। इसके साथ नक्षत्र मंडल का प्रथम अश्विनी नक्षत्र का भी इसी दिन होना, इस दिन की शुभता में वृद्धि करने वाला रहेगा। इस नक्षत्र के स्वामी भगवान गणेश है, जो विघ्नहर्ता हैं। वैशाख में सोमवती अमावस्या का संयोग 10 वर्ष बाद हो रहा है। इसके पूर्व 5 मई 2008 में वैशाख में सोमवती अमावस्या हुई थी। जिससे दिन दान पुण्य करना करना लाभकारी रहेगा। अमावस्या पर मन के विकारों को दूर करने के लिए शिव व चंद्रमा के मंत्रों का जाप करना चाहिए। इस दिन पवित्र नदियों में स्नान व दान करने से भी पितृदोष दूर होते हैं। साथ ही पौधरोपण करने से भी कष्टों का निवारण होता है।

बाजार में दिखने लगी रौनक

आखातीज पर विवाह समारोह को लेकर शहर के बाजारों में अच्छी खासी भीड़ रही। सर्राफा बाजार, कपड़ा बाजार और किराणा की दुकानों पर शादी की जमकर खरीददारी हुई। जिससे व्यापारियों के भी चेहरे पर खुशी देखी गई।

महिलाओं ने व्रत कर पति की लंबी आयु के लिए फल व अन्न का दान दिया

डूंगरपुर। बाजार में बर्तन के दुकान पर महिलाएं खरीददारी करती हुई।