समर्पित प्रयासों से समाज सम्मानजनक स्थिति में : डायालाल

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 10:35 AM IST

Dungarpur News - गुजराती लेउवा पाटीदार समाज शैक्षिक उन्नयन एवं संस्कार संपोषण शिविर में बच्चों के मानसिक विकास पर भी जोर दिया जा...

Sagwara News - rajasthan news in a respectable situation the community with dedicated efforts daialal
गुजराती लेउवा पाटीदार समाज शैक्षिक उन्नयन एवं संस्कार संपोषण शिविर में बच्चों के मानसिक विकास पर भी जोर दिया जा रहा हैं। यहां गुरुवार को बौद्धिक सत्र के मुख्यवक्ता विद्यानगर के चेयरमेन डायालाल विकासनगर ने समाज के विकास में स्व.केशवजी भाई के योगदान के बारे मेें बताया। उन्होंने कहा कि केशवजी जसेला 18 वर्ष की कम आयु में समाज सेवा में जुट गए थे। उन्होंने 1947 में कराडा सम्मेलन में औरतों की चूडा प्रथा को समाप्त कराया, प्रतिदिन स्नान करने का नियम बनाया। बच्चों को पढ़ाने का निर्णय करवाया। समाज सुधार के लिए कई बार जीवन में अनशन किए। उनके समर्पित प्रयासों से पाटीदार समाज निरंतर विकास करते हुए आज सम्मानजनक स्थिति में आ सका। अध्यक्षता करते हुए डॉ.मगनलाल पाटीदार ने कहा कि सिर्फ बड़ा शरीर होना ही स्वस्थ्य होना नहीं है। हम शारीरिक, मानसिक, सामाजिक, आध्यात्मिक और वैचारिक दृष्टि से फिट हैं तो ही स्वस्थ हैं। विशिष्ट अतिथि शिक्षा संकुल के डायरेक्टर गोपालभाई जसेला थे। स्वागत कुमुद वणोरी ने किया। गोपाल ओड़, विनोद पादरा ने सुभाषित व अमृतवचन सुनाए। खुशी पादरा व दक्षा नोगामा ने संगीत और माहेश्वरी पाडलिया ने देशभक्ति कविता प्रस्तुत की। संचालन हरीशचंद्र अंबाड़ा ने किया। शिविर में पेंशनर्स समाज के कर्मचारी भी सेवाएं रहे हैं। कचरूलाल नोगामा, केशवलाल सेमलिया, गौतमलाल भासौर, देवीलाल पाड़वा, बंशीलाल, केशवलाल अंबाड़ा, योगेश टेलर गडावेजनिया, रमणलाल वांदरवेड, नरेश, पंकज पाटीदार मौजूद थे।

पाटीदार समाज के बच्चाें के शैक्षिक शिविर में संबोधित करते मुख्यवक्ता।

X
Sagwara News - rajasthan news in a respectable situation the community with dedicated efforts daialal
COMMENT