मंत्री ममता का औपचारिक दौरा, अफसरों की ली बैठक और अपने स्तर पर समस्या खत्म करने के दिए निर्देश

Dungarpur News - महिला एवं बाल विकास विभाग मंत्री ममता भूपेश गुरुवार देर शाम को पहली बार डूंगरपुर पहुंची। शुक्रवार को राष्ट्रीय...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 08:17 AM IST
Dungarpur News - rajasthan news minister mamata39s formal visit meeting of officers and instructions to end the problem at their level
महिला एवं बाल विकास विभाग मंत्री ममता भूपेश गुरुवार देर शाम को पहली बार डूंगरपुर पहुंची। शुक्रवार को राष्ट्रीय पोषण अभियान के तहत रैली को हरी झंडी दिखाई। इस दरम्यान हल्की बारिश चल रही थी। इसके कारण सुबह 10 बजे से आंगनबाड़ी कार्मिक बारिश में भीग रहे थे। ऐसे में मंत्री ने करीब 11 बजे रैली को रवाना किया। तब तक सभी कार्मिक बरसाती में भीगते रहे। इसके बाद तहसील चौराहे तक रैली को मंत्री ने रवाना किया।

जहां पर मंत्री ममता भूपेश छतरी में खड़ी रही। वही कार्मिक और अन्य सभी बारिश में भीगते रहे। कार्मिकों ने करीब एक किमी लंबी रैली निकाली। जो नया बस स्टैंड जाकर खत्म हो गई। स्थानीय अधिकारी भी रैली के साथ नहीं जाकर तहसील चौराह पर ही खड़े रह गए। रैली में आई कार्मिक नया बस स्टैंड होकर अपने-अपने गांव में पहुंच गए। इससे पहले शुक्रवार को सुबह सर्किट हाऊस में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने स्वागत किया। इसके बाद विधायक गणेश घोघरा की अध्यक्षता में स्थानीय कार्यकर्ता और पदाधिकारियों ने विस्तृत चर्चा की। इसके बाद श्यामाप्रसाद मुखजी लक्ष्मण मैदान से आंगनबाड़ी कार्मिकों की पोषण जागरुकता रैली को हरी झंडी दिखाई। इसके बाद कलेक्ट्री में सभी विभागों के अधिकारियों और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षात्मक बैठक ली। जहां पर अधिकारियों को उचित मार्गदर्शन दिया। इसके दोपहर को प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत नंदौड़ होते हुए उदयपुर पहुंचे।

आठ परियोजना से सभी कार्मिक को डूंगरपुर बुलाया

पोषण अभियान के तहत मंत्री ममता भूपेश के एक दिवसीय दौरे के लिए जिला मुख्यालय से पोषण अभियान की रैली निकालनी थी। ऐसे में अभियान को लेकर जिलेभर से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, साथिन, सहयोगी को मुख्यालय पर बुलाया गया था। रैली के संचालन और भीड़ जुटाना था। बारिश में रैली का सही संदेश नहीं दे सके।

मंत्री ने प्रशासन के नवाचार को अनुकरणीय बताया : महिला एवं बाल विकास विभाग स्वतंत्र प्रभार जन अभियोग निराकरण, अल्पसंख्यक मामलात एवं वक्फ विभाग राजस्थान सरकार के राज्य मंत्री ममता भूपेश ने शुक्रवार को सभी विभागों के अधिकारियों की बैठक ली। जिला परिषद के ईडीपी सभागार में समीक्षा बैठक में मंत्री ममता भूपेश ने कहा कि गुड़ गवर्नेन्स के लिए सभी विभाग को मिलकर प्रयास करने होंगे। राज्यमंत्री ममता भूपेश ने कहा कि राज्य सरकार के द्वारा पहली बार महिला एवं बाल विकास विभाग को एक हजार करोड़ का बजट दिया है। जिसका उद्देश विभाग के माध्यम से किशोरियों एवं महिलाओं के लिए अनेक कौशल विकास के प्रशिक्षणों के द्वारा महिला सशक्तिकरण करना एवं बच्चों का विकास करना है। बैठक में कलक्टर चेतन देवड़ा ने लोकसभा चुनाव के दौरान आईसीडीएस के साथ किए गए नवाचार की जानकारी दी। पुलिस अधीक्षक जय यादव ने यूनिसेफ के सहयोग से पुलिस विभाग के द्वारा स्कूली छात्र-छात्राओं एवं बच्चों के लिए चलाये जा रहे नवाचार कार्यक्रमों यथा कोम्बेट योजना, वत्सल वार्ता आदि के बारे में जानकारी दी। उप निदेशक लक्ष्मी चरपोटा ने सागवाड़ा एवं डूंगरपुर में स्थित एमटीसी सेंटर में अप्रेल से अब तक सात सौ अतिकुपोषित बच्चों को रेफर करने की जानकारी दी। इस दौरान विधायक डूंगरपुर गणेश घोघरा, एडीएम पुष्पेंद्र सिंह शेखावत, सीईओ चांदमल वर्मा, एसीईओ प्रभातीलाल जाट, महिला अधिकारिता जयपुर अधिकारी कमल्नी द्रविड, आईसीडीएस उप निदेशक लक्ष्मी चरपोटा आदि मौजूद थे। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी इरशाद अहमद ने विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी।

डूंगरपुर. पोषण अभियान रैली को हरी झंडी दिखाते हुए।

पोषण अभियान के नाम पर सिर्फ औपचारिकता

महिला एवं बाल विकास विभाग, जनअभियोग निराकरण, अल्पसंख्यक मामलात एवं वक्त विभाग के राज्य मंत्री ममता भूपेश ने जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक ली। जहां पर प्रत्येक अधिकारियों को अपने तहसील, उपखंड और ग्राम पंचायत स्तर पर मामले को सुलटाने की बात कही। उन्होंने कहा कि कोई भी फरियादी कलेक्ट्री तक पहुंचता है तो इसमें स्थानीय अधिकारियों की लापरवाही साफ झलकती है। उन्होंने आंगनबाड़ी भवनों के निर्माण में ग्राम पंचायत स्तर पर लापरवाही होने पर गंभीर माना। उन्होंने कहा कि विकास अधिकारी को पुरानी स्वीकृति पूरी करके यूसीसी जमा कराए। इसके बाद नए भवनों के लिए बजट जारी हो सकता है। इसके अलावा उन्होंने आंगनबाड़ी कार्मिकों के रिक्त पदों पर जल्द ही नई नियुक्ति का आश्वासन दिया।

मंत्री ममता का एससी समाज के लोगों ने किया स्वागत

डूंगरपुर. आईसीडीएस मंत्री का एससी वर्ग स्वागत करते हुए।

डूंगरपुर. महिला एवं बाल विकास मंत्री राजस्थान ममता भूपेश का शुक्रवार को अनुसूचित जाति के संभागीय अध्यक्ष डॉ. शंकर यादव के निवास बिलड़ी में स्वागत समारोह हुआ। एससी वर्ग की ओर से फूल, माला, शाल ओढ़ाकर व पगड़ी पहनाकर स्वागत किया। डॉ. शंकर यादव ने अपने स्वागत उद्बोधन में एससी वर्ग की टीएसपी क्षेत्र में आ रही विभिन्न जन समस्याओं को अवगत कराया। साथ ही एससी की जायज मांगों का ज्ञापन भी सौंपा। इसमें खासकर संविधान प्रदत्त 16 प्रतिशत आरक्षण बहाल करना, टीएसपी क्षेत्र में अध्ययनरत एससी वर्ग के विद्यार्थियों को रीट पात्रता परीक्षा परिणाम 36 प्रतिशत करना, अनुसूचित जाति वर्ग के मेधावी बालिकाओं को स्कूटी दिलाना सहित अन्य समाज उत्थान की मांगों को रखा गया। जिस पर मंत्री ममता भूपेश ने आश्वस्त किया कि पूरे राजस्थान में एससी वर्ग की समस्याओं को लेकर राजस्थान सरकार में मांग उठाई जाएगी। जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी चांदमल वर्मा, पुलिस उपाधीक्षक रामजीलाल चंदेल, पूर्व संभागीय अध्यक्ष जगदीशचंद्र यादव, पूर्व जिला प्रमुख रतनदेवी भराड़ा, कांग्रेस व मेघवाल समाज प्रवक्ता सुखदेव यादव, कर्मचारी संगठन जिला अध्यक्ष अर्जुनलाल गेजी, सरपंच कैलाश रोत, लॉयन क्लब जिलाध्यक्ष सिद्धार्थ मेहता मौजूद रहे।

Dungarpur News - rajasthan news minister mamata39s formal visit meeting of officers and instructions to end the problem at their level
X
Dungarpur News - rajasthan news minister mamata39s formal visit meeting of officers and instructions to end the problem at their level
Dungarpur News - rajasthan news minister mamata39s formal visit meeting of officers and instructions to end the problem at their level
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना