पीडितों को राहत, गरीबों को मिली नि:शुल्क विधिक सहायता

Dungarpur News - जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से बुधवार को आयोजित बैठक में पीडि़त प्रतिकर स्कीम एवं नि: शुल्क विधिक सहायता के...

Feb 27, 2020, 08:06 AM IST

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से बुधवार को आयोजित बैठक में पीडि़त प्रतिकर स्कीम एवं नि: शुल्क विधिक सहायता के प्रार्थना पत्र पर विचार विमर्श किया गया। कुल 10 प्रार्थना पत्र समिति के समक्ष रखे गए गए इनमें कुल 15,50,000 रुपए अंतिम प्रतिकर के रूप में पीडि़त प्रतिकर स्कीम के तहत स्वीकृत किए गए।

बैठक की अध्यक्षता प्राधिकरण जिला अध्यक्ष एवं न्यायाधीश महेन्द्रसिंह सिसोदिया ने की। बैठक में जिला कलक्टर कानाराम, एसपी जय यादव, न्यायाधीश पारिवारिक न्यायालय एम.आर. सुथार, प्राधिकरण सचिव अमित सहलोत एवं बार एसोसिएशन अध्यक्ष हितेन्द्र पटेल, राजकीय अधिवक्ता कौशिक पण्ड्या की उपस्थिति रहे। सचिव सहलोत ने बताया कि आर्थिक रूप से कमजोर एवं जेल में निरूद्ध प्रार्थी जो स्वयं के लिए अधिवक्ता की मोटी रकम का भार नहीं सह सकते, ऐसे परिवादियों के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा नि:शुल्क विधिक सहायता प्रदान की जाती है।

प्रार्थना पत्र जिनमें पूर्व में नि:शुल्क विधिक सहायता प्रदान की जा चुकी थी ऐसे कुल 05 प्रार्थना पत्रों में कुल 50,750/- रुपये की राशि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण समिति द्वारा स्वीकृत की गई।

अण्डरट्रायल प्रिजनर्स रिव्यू समिति की बैठक भी हुई

अण्डर ट्रायल रिव्यू समिति की बैठक में ऐसे विचाराधीन बंदियों की जिनके द्वारा कारित अपराधों में प्राविधिक सजा की आधी सजा से अधिक अवधि के लिये निरोध भोग चुका है, को प्रतिभूति सहित अथवा रहित व्यक्तिगत बंध पत्र पर छोड़े जाने के लिए विचार विमर्श किया।

डूंगरपुर. सुनवाई करते प्राधिकरण अध्यक्ष व अन्य अतिथि।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना