• Hindi News
  • Rajasthan
  • Dungarpur
  • Dungarpur News rajasthan news the statue was open for 700 years the youth of the yadav society built the temple and built the temple in three months

700 साल से खुले में थी प्रतिमा, यादव समाज के युवाओं ने ठाना और तीन माह में बना दिया मंदिर

Dungarpur News - डॉ.भीमराव अंबेडकर कॉलोनी में यादव समाज की ओर से सोमवार को कुल देवी वैराईमाता प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा की गई।...

Dec 10, 2019, 08:11 AM IST
Dungarpur News - rajasthan news the statue was open for 700 years the youth of the yadav society built the temple and built the temple in three months
डॉ.भीमराव अंबेडकर कॉलोनी में यादव समाज की ओर से सोमवार को कुल देवी वैराईमाता प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा की गई। समाज के लोगों ने गाजेबाजे से ऊंट गाड़ी पर प्रतिमा शोभायात्रा निकाली। कुल देवी प्रतिमा की आरती उतारी गई। कॉलोनी स्थिति मंदिर में वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच प्रतिमा की स्थापना की गई।

समाज के नवयुवक मंडल अध्यक्ष रमेश यादव ने बताया कि प्राण प्रतिष्ठा के पहले दिन रविवार को सुबह मंडप स्थापना, नवग्रह मत्रिका, गणेशजी की स्थापना, मूर्ति ध्यान दिवस और सुबह से शाम तक नवचंडी यज्ञ हुआ। इसमें आचार्य प्रीतम जोशी के वैदिक मंत्रोच्चार के बीच नवचंडी यज्ञ में यजमानों आहुतियां दी। यज्ञ में मुख्य यजमान समाज के गटूलाल कमला देवी यादव, लालचंद हंतोक यादव, हरीश ममता यादव, भीमराज संतोष यादव, रमेश ललिता और शंकरलाल पूंजी यादव ने यज्ञ का आहुतियां दी। सोमवार को दोपहर दो बजे से समाज की कुलदेवी वैराई माताजी की प्रतिमा ऊंट गाड़ी पर विराजमान कर गाजे बाजे के साथ शहर में भ्रमण कर प्रतिमा स्थापना हुई। शोभायात्रा कॉलोनी से होते हुए पुराना सब्जी मंडी, कानेरा पोल, मोची बाजार, पुराने अस्पताल होते हुए कंसारा चौक, सोनिया चौक, माणक चौक, दर्जीवाड़ा होते हुए पुन: कॉलोनी स्थिति में मंदिर परिसर पहुंची। मुख्य यजमान गटूलाल कमला देवी यादव, लालचंद हतोंक यादव, हरीश ममता यादव, भीमराज संतोष यादव, रमेश ललिता और शंकरलाल पूंजी यादव ने यज्ञ का आहुतियां और वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मंदिर में कुलदेवी की प्रतिमा का स्थापित हुई। शाम को प्रसाद वितरण एवं भजन कीर्तन संध्या का आयोजन हुआ। जिसमें समाज के लोगों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।

महारावल लाए थे समाज के लोगों को चितौड़गढ़ से वागड़ :

नवयुवक मंडल के अध्यक्ष रमेश यादव ने बताया कि इससे पहले कुलदेवी माताजी मोहल्ले के बीच एक खुले चबूतरे पर स्थापित दो सीरा बावसी के रूप में पूजा अर्चना की जाता था। बजट के अभाव में मंदिर का निर्माण नहीं हो पाया रहा था। ऐसे में नवयुवक मंडल के युवाओं ने मिलकर मंदिर बनाने के लिए बीड़ा उठाया और शरद पूर्णिमा के दिन से मंदिर स्थापना की कार्य शुरू किया गया। तीन माह में बन कर पूर्ण रूप से तैयार हुआ। इस दौरान मंदिर कार्यकर्ता छगनलाल यादव, दिलीप यादव और कैलाश यादव ने दिनरात अपनी निरंतर सेवाएं देकर मंदिर बनाने में पूर्ण रूप से सहयोग किया। समाज के वृद्ध हंतोक बाई यादव ने बताया कि सात सौ वर्ष पूर्व तत्कालीन डूंगरपुर महा रावल ने यादव समाज को चित्तौड़ से वागड़ लाए थे। वहीं उसी दौरान मोहल्ले के बीचों बीच एक खुले चबूतरे सीरा प्रतिमा की स्थापना हुई थी।

डूंगरपुर। कुलदेवी की प्रतिमा को स्थापित करते समाज के लोग।

शहर में निकाली शोभायात्रा में शामिल समाजजन।

Dungarpur News - rajasthan news the statue was open for 700 years the youth of the yadav society built the temple and built the temple in three months
X
Dungarpur News - rajasthan news the statue was open for 700 years the youth of the yadav society built the temple and built the temple in three months
Dungarpur News - rajasthan news the statue was open for 700 years the youth of the yadav society built the temple and built the temple in three months
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना