• Hindi News
  • Rajasthan
  • Dungarpur
  • Pith News rajasthan news when the villagers reached the school the rats were moving in the wheat filled drums of nutrition

ग्रामीण स्कूल पहुंचे तब पोषाहार के गेहूं से भरे ड्रम में घूम रहे थे चूहे

Dungarpur News - बांकड़ा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में शुक्रवार को ग्रामीणों व अभिभावकों ने स्कूल व्यवस्था, मिड डे मिल...

Feb 15, 2020, 10:51 AM IST
Pith News - rajasthan news when the villagers reached the school the rats were moving in the wheat filled drums of nutrition

बांकड़ा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में शुक्रवार को ग्रामीणों व अभिभावकों ने स्कूल व्यवस्था, मिड डे मिल गुणवत्ता पर सवाल खड़े करते हुए हंगामा किया। ग्रामीणों से स्कूल से ही कॉल करके सीबीईओ को मामले से अवगत कराया। इस पर सीबीईओ स्कूल पहुंचे। इस पर मिड डे मिल प्रभारी से एमडीएम का प्रभार हटाने के निर्देश दिए। अव्यवस्थाओं पर सीबीईओ ने जांच के लिए आश्वस्त किया। दरअसल, हुआ यूं कि शुक्रवार को गांव के ग्रामीण मिड डे मिल गुणवत्ता जांचने एव अपने बच्चों की पढ़ाई की जानकारी प्राप्त करने स्कूल पहुंच गए। इस दौरान मूल्यांकन टेस्ट चल रहा था। संस्थाप्रधान समेत चार शिक्षक मेडिकल अवकाश पर चले जाने पर ग्रामीणों ने रोष जताते हुए हंगामा किया। उपस्थित शिक्षकों से सवाल किया है एक साथ चार शिक्षक कैसे मेडिकल अवकाश पर जा सकते हैं। इस दौरान पूर्व उप प्रधान मुकेश लबाना, बिलू भाई, अतुल लबाना सहित ग्रामीणों ने मिड डे मील का रसोईघर जाकर देखा। यहां खाना बनाने में मिर्च, हल्दी पाउडर, दाल तक नहीं मिली। ड्रम में भरे हुए गेहूं के बीच मे चूहे पाए गए। सब्जियां बनाने का तेल पिछले एक सप्ताह से खत्म हो गया था। रसोईघर की अलमारी में सामान की जगह पर किताबें व विद्यार्थियों की परीक्षा टेस्ट कापियों के बंडल मिले। मिड डे मिल बनाने का जरुरी सामान नहीं मिलने पर मिड डे मील प्रभारी से जवाब मांगा तो वह नहीं दे सकें। इस पर गुस्साए ग्रामीणों ने संस्थाप्रधान को स्कूल बुलाने की मांग पर अड़ गए। पांच से छह बार फोन किया, लेकिन कोई जवाब नहीं दिया। इस पर ग्रामीणों में पूर्व उपप्रधान मुकेश लबाना ने मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी रामलाल खराड़ी को कॉल करके जानकारी दी।

ढाई घंटे तक स्कूल में रहे ग्रामीण, जताया रोष

ग्रामीण बांकड़ा स्कूल में करीब ढाई घंटे तक रुके। इस दौरान अव्यवस्थाओं पर आक्रोश जताया। ग्रामीणों ने स्कूल के शिक्षकों से कहा कि सरकार मिड डे मिल के नाम पर काफी पैसा खर्च कर रही है, लेकिन रसोईघर में रखी मिड डे मिल सामग्री को व्यवस्थित नहीं रखा जा रहा है। इस ओर स्कूल और मिड डे मिल प्रभारी की तरफ कतई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इस दौरान ग्रामीणों ने मिड डे मिल सामग्री की जांच कराने की मांग की।

सीबीईओ पहुंचे स्कूल, ग्रामीणों ने वीडियो दिखाया


ग्रामीणों की शिकायत पर सीबीईओ स्कूल पहुंच गए। ग्रामीणों ने मिड डे मिल की गुणवत्ता पर सवाल उठाए। मिड डे मील प्रभारी व संस्थाप्रधान को हटाने की मांग की। सीबीईओ ने ग्रामीणों की ओर से बनाए वीडियो को देखा। इस पर मिड डे मिल प्रभारी शैलेश लबाना को मिड डे मील प्रभार से हटाने के निर्देश दिए। विद्यालय में एक साथ चार शिक्षकों के मेडिकल अवकाश पर जाने के कारण जांच कराने का आश्वासन दिया।


पोषाहार की अलमारी में रखी टेस्ट की कॉपियां

पीठ. पोषाहार में देने वाले गेहूं के ड्रम में घूमते चूहें।


रसोईघर की अलमारी में रखे परीक्षा कापियों के बंडल।

Pith News - rajasthan news when the villagers reached the school the rats were moving in the wheat filled drums of nutrition
X
Pith News - rajasthan news when the villagers reached the school the rats were moving in the wheat filled drums of nutrition
Pith News - rajasthan news when the villagers reached the school the rats were moving in the wheat filled drums of nutrition
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना