• Home
  • Rajasthan News
  • Dooni News
  • स्कूल की दीवार से टकराया ट्रैक्टर, हैंडपंप पर पानी पी रहे छात्र की मौत
--Advertisement--

स्कूल की दीवार से टकराया ट्रैक्टर, हैंडपंप पर पानी पी रहे छात्र की मौत

घाड थाना क्षेत्र के राजकीय प्राथमिक विद्यालय आकोडिया में शनिवार सुबह बजरी से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली की टक्कर से...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:55 AM IST
घाड थाना क्षेत्र के राजकीय प्राथमिक विद्यालय आकोडिया में शनिवार सुबह बजरी से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली की टक्कर से स्कूल की दीवार ढह जाने से पास ही स्थित हैंडपंप पर पानी पी रहे 10 वर्षीय स्कूली छात्र की दीवार के मलबे में दबने से मौत हो गई। इसी के साथ तीन भाइयों का इकलौता चिराग बुझ गया है। उधर इस दुर्घटना के बाद स्कूल प्रशासन व गांव में सन्नाटा पसर गया। अचानक हुई इस घटना से स्कूल के विद्यार्थी चिल्ला उठे और वहां से जान बचाकर घरों की ओर भाग छूटे। बाद में पुलिस भी मौके पर पहुंची और आगे की कार्रवाई की।

पुलिस के अनुसार राजकीय प्राथमिक विद्यालय आकोडिया में निर्माण कार्य के लिए शनिवार सुबह करीब 11 बजे ट्रैक्टर-ट्रॉली से बजरी मंगवाई थी। ट्रॉली को स्कूल परिसर में खाली करने के लिए चालक उसे बैक में ले रहा था वह गेट के पास की दीवार से टकराने से दीवार ढह गई। इससे पास ही स्थित हैडपंप पर पानी पी रहे 10 वर्षीय कक्षा तीन के छात्र मानसिंह खारोल पुत्र घासीलाल खारोल की मलबे में दबने से घटनास्थल पर ही मौत हो गई। अचानक हुई इस घटना से स्कूल में अफरा-तफरी मच गई। अन्य बच्चे चिल्लाते हुए भाग छूटे। स्कूल प्रबंधन से लेकर स्टाफ हतप्रभ रह गया। माहौल गमगीन हो गया। बाद में घाड थाने के हैड कांस्टेबल रामबाबू व एएसआई मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शव को अस्पताल लाकर पोस्टमार्टम कराकर उसे परिजनों को सौंप दिया।

दीवार ढहते ही स्कूल में अफरा-तफरी, बच्चे डरकर घर भागे

दूनी. आकोडिया गांव के राप्रावि में हुए छात्र के टक्कर मारने के बद ट्रैक्टर व क्षतिग्रस्त दीवार।

आकोडिया की इस स्कूल में 54 विद्यार्थी अध्यनरत है। इनमें से 31 छात्र व 23 छात्राएं है। शनिवार को विद्यालय में निर्माण कार्य के लिए बजरी से भरा ट्रैक्टर आया था। बजरी से भरे ट्रैक्टर को बैक करके स्कूली गेट से विद्यालय परिसर में खाली करने का प्रयास किया जा रहा था कि बैक करने के दौरान बजरी से भरी ट्रोली स्कूली दीवार से जा टकरा गई। इससे दीवार के पीछे लगे हैडपम्प पर पानी पी रहे मानसिंह की मलबे में दबने से मौत हो गई।

मजदूरी कर जीवनयापन करते हैं तीनों भाई

मृतक के पिता तीन भाई हैं। तीनों ही मेहनत-मजदूरी कर जीवन यापन करते हैं। जमीन भी काफी कम है। घटना के बाद पुलिस ने ट्रैेक्टर-ट्रॉली को जब्त कर लिया है। चालक फरार हो गया।

54 छात्र हैं स्कूल में

परिजनों को मिलेगा क्लेम

छात्र मानसिंह की मौत से हर कोई स्तंब्घ रहा गया। पूरा स्कूल स्टॉफ गममें डूब गया। उधर छात्र की मौत की सूचना मिलने के बाद से स्तंब्ध जिला शिक्षा अधिकारी खुशीराम रावत के निर्देशों पर एडीओ सीताराम साहू आकोडिया गांव पहुंचे। जहां परिजनों को ढाढस बंधाया। एडीओ ने बताया कि सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाली स्कूली विद्यार्थियों को सरकार द्वारा समूह दुर्घटना बीमा करवाया जाता है। मृतक की दुर्घटना के लिए क्लेम फार्म भरकर राज्य सरकार को भिजवाए जाएंगे।

तीन भाइयों के परिवार में अकेला पुत्र था मानसिहं

सरपंच एचआर मीणा ने बताया कि मृतक मानसिंह के पिता तीन भाई है। उनमें से दो भाईयों के कोई संतान नहीं होने के कारण मृतक मानसिंह तीनों भाईयों का एकमात्र चिराग था। जो शनिवार को बजरी से भरे ट्रैक्टर की दीवार के टक्कर के बाद बुझ गया। सरपंच ने यह भी बताया कि मृतक के तीन बहिने थी। इनमें से एक बहिन की गत वर्ष सर्पदंश से मौत हो गई। मानसिंह की शनिवार को मौत हो गई।