Hindi News »Rajasthan »Eklera» गौरव पथ के दोनों ओर नाली िनर्माण शुरू नीचे पानी की लाइन, दूषित होगा पेयजल

गौरव पथ के दोनों ओर नाली िनर्माण शुरू नीचे पानी की लाइन, दूषित होगा पेयजल

नगर के भोपाल बाइपास से मनोहरथाना रोड तक बन रहे गौरव पथ के दोनों किनारों पर इन दिनों गंदे पानी की नाली का निर्माण...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 13, 2018, 02:40 AM IST

नगर के भोपाल बाइपास से मनोहरथाना रोड तक बन रहे गौरव पथ के दोनों किनारों पर इन दिनों गंदे पानी की नाली का निर्माण किया जा रहा है। उस नाली के नीचे वाटर वर्क्स विभाग की पीने के पानी की पाइप लाइन बिछी हुई है। इसके कारण लोगों की सेहत खराब होने का अंदेशा है। वाटर वर्क्स विभाग ने पीडब्ल्यूडी विभाग ने नाली के निर्माण का काम रोके जाने की बात कही है। अधिकारियों ने भी इस मामले का अवलोकन किया है।

अगर गंदें पानी की नाली पाइन लाइन के ऊपर बन गई तो कभी भी पीने के पानी की पाइप लाइन की मरम्मत का काम नहीं हो सकेगा। और ना ही इन पाइप लाइन के जरिए नया नल कनेक्शन जारी किया जा सकेगा। और कभी भी पाइप लाइन के लीकेज होने के चलते गंदा पानी पीने की पाइप लाइन के जरिए नल कनेक्शनों में पहुंच जाएगा। विभाग ने 1 साल पहले पीडब्लूडी विभाग को अवगत कराया था। पाइप लाइन बिछाने की एवज में 25 लाख रुपए का डिमांड जमा कराने की बात कही थी, लेकिन पीडब्ल्यूडी विभाग ने डिमांड जमा नहीं किया। एवं पाइप लाइन सप्लाई के ऊपर ही नाली का निर्माण कराना शुरू कर दिया। जबकि नियमानुसार नाली निर्माण से पहले पीने के पाइप लाइन को नाली से अलग दूर बिछाया जाना चाहिए, लेकिन जिम्मेदार लोग इस पर ध्यान नहीं दे रहे है। जिसका खामियाजा नगर की जनता को उठाना पड़ेगा।

अकलेरा. नालियों में भरा गंदा पानी और उसमें से निकल रहा नल कनेक्शन।

भास्कर न्यूज | अकलेरा

नगर के भोपाल बाइपास से मनोहरथाना रोड तक बन रहे गौरव पथ के दोनों किनारों पर इन दिनों गंदे पानी की नाली का निर्माण किया जा रहा है। उस नाली के नीचे वाटर वर्क्स विभाग की पीने के पानी की पाइप लाइन बिछी हुई है। इसके कारण लोगों की सेहत खराब होने का अंदेशा है। वाटर वर्क्स विभाग ने पीडब्ल्यूडी विभाग ने नाली के निर्माण का काम रोके जाने की बात कही है। अधिकारियों ने भी इस मामले का अवलोकन किया है।

अगर गंदें पानी की नाली पाइन लाइन के ऊपर बन गई तो कभी भी पीने के पानी की पाइप लाइन की मरम्मत का काम नहीं हो सकेगा। और ना ही इन पाइप लाइन के जरिए नया नल कनेक्शन जारी किया जा सकेगा। और कभी भी पाइप लाइन के लीकेज होने के चलते गंदा पानी पीने की पाइप लाइन के जरिए नल कनेक्शनों में पहुंच जाएगा। विभाग ने 1 साल पहले पीडब्लूडी विभाग को अवगत कराया था। पाइप लाइन बिछाने की एवज में 25 लाख रुपए का डिमांड जमा कराने की बात कही थी, लेकिन पीडब्ल्यूडी विभाग ने डिमांड जमा नहीं किया। एवं पाइप लाइन सप्लाई के ऊपर ही नाली का निर्माण कराना शुरू कर दिया। जबकि नियमानुसार नाली निर्माण से पहले पीने के पाइप लाइन को नाली से अलग दूर बिछाया जाना चाहिए, लेकिन जिम्मेदार लोग इस पर ध्यान नहीं दे रहे है। जिसका खामियाजा नगर की जनता को उठाना पड़ेगा।

अधिकािरयों को अवगत कराया

गौरव पथ निर्माण की साइड में नाली का निर्माण पाइप लाइन के ऊपर होने से वाटर वक्र्स का काम ठप हो जाएगा। जब भी पाइप लाइन में खराबी आएगी। तो नाली तोड़कर पाइप लाइन दुरूस्त की जाएगी। ऐसे में गंदा पानी पाइप लाइन के जरिए उपभोक्ताओं के नलों में पहुंचेगा। उच्च अधिकारियों को अवगत कराया गया है। - मोहन लाल मीना, जेईईएएन वाटर वक्र्स अकलेरा

अकलेरा से बाहर होने के कारण मुझे जानकारी नहीं है। अगर पाइप लाइन के ऊपर नाली का निर्माण किया जा रहा होगा तो उसे रोका जाएगा। - सत्यनारायण मीना, एक्सईएन पीडब्लूडी अकलेरा

ये है मामला

अकलेरा गौरव पथ बनने के बाद उसके सहारे पीने की पाइप लाइन डाली जानी थी। दोनों विभागों में इस पर चर्चा हो गई थी। विभाग ने डिमांड का प्रस्ताव भेजा था। इस पर पिछले साल ही डिमांड जमा होकर पैसा जमा हो जाना चाहिए था, लेकिन 1 साल से पीडब्ल्यूडी विभाग ध्यान नहीं दे रहा है। और एक माह पहले शुरू किए गए नाली निर्माण को गति दी गई। तथा पीने के पाइप लाइन को नाली के नीचे कर दिया।

नहीं हुए पोल शिफ्ट

गौरव पथ बनने के पहले बिजली के पोल को भी इस रास्ते से शिफ्ट किया जाना था, लेकिन वह काम भी अभी तक शुरू नहीं हो पाया है। नया सीसी रोड का काम शुरू कर दिया गया। और पोल अभी मौके पर खड़े हुए है। इस काम में जेसीबी मशीन भी चल रही है। उसके उपर बिजली की बड़ी लाइन के तार गिरने का खतरा रहता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Eklera

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×