Hindi News »Rajasthan »Eklera» भुवन पंचायत पोर्टल तथा मोबाइल एप योजना को लेकर कार्यशाल हुई

भुवन पंचायत पोर्टल तथा मोबाइल एप योजना को लेकर कार्यशाल हुई

झालावाड़. पंचायती राज संस्थाओं, संबंधित विभागों, शिक्षा संस्थानों और गैर सरकारी संगठनों को प्रशिक्षित कर भुवन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 17, 2018, 03:40 AM IST

झालावाड़. पंचायती राज संस्थाओं, संबंधित विभागों, शिक्षा संस्थानों और गैर सरकारी संगठनों को प्रशिक्षित कर भुवन पंचायत पोर्टल तथा मोबाइल एप को विकासोन्मुखी गतिविधि योजना के लिए सुगम बनाने के लिए पंचायत समिति अकलेरा प्रधान बैनाथ मीणा की अध्यक्षता में पंचायती राज संस्थाओं का स्थानीय रूप से सशक्तीकरण की ब्लॉक स्तरीय कार्यशाला मंगलवार को अकलेरा पंचायत समिति में इसरो एवं बीएम बिड़ला प्लेनेटोरियम द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित की गई।

कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए अकलेरा प्रधान ने कहा कि भुवन पंचायत पोर्टल इसरो तथा बीएम प्लेनेटोरियम द्वारा संयुक्त रूप से पंचायती राज संस्थाओं को सशक्त करने हेतु जिले में संचालित करने की सरकार की योजना है। कार्यशाला में बीएम बिड़ला प्लेनेटोरियम जयपुर के रिमोट सेंसिंग प्रभारी महावीर प्रसाद पूनिया ने बताया कि भुवन पंचायत पोर्टल एक वेब आधारित एकल खिड़की भू-स्थानिक मंच है, जहां पंचायत स्तर पर स्थानीय और गैर स्थानिक डेटा के साथ एकीकृत रूप में नियोजन और शासन के लिए अनुकूल वातावरण प्रदान किया जाता है। इसका उद्देश्य देश की अर्थव्यवस्था एवं सामाजिक वातावरण को बदलने एवं पुनराकार देने हेतु उसे डिजिटल भारत की दृष्टि की दिशा की ओर अग्रसर करने हेतु पंचायती राज संस्थाओं और हित धारकों के लिए स्थानिक, भागीदारी, एकीकृत एवं विकेन्द्रीकृत योजना को सशक्त करना है। यह पोर्टल विकेन्द्रीकृत नियोजन के लिए अंतरिक्ष आधारित सूचना समर्थन के तहत विकसित किया गया है जो कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के राष्ट्रीय सुदूर संवेदन केन्द्र द्वारा तैयार किया गया है।

उन्होंने बताया कि भुवन पंचायत वेब पोर्टल पर एसेट मैपिंग डेटा अपलोड करने हेतु एक मोबाइल एप भी सरकार द्वारा प्रारंभ किया गया है जिसे किसी भी स्मार्ट फोन से संचालित किया जा सकता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Eklera

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×