Hindi News »Rajasthan »Eklera» डिपो से पुरानी दर पर खरीदा केरोसीन उपभोक्ताओं से नई दर वसूल रहे डीलर

डिपो से पुरानी दर पर खरीदा केरोसीन उपभोक्ताओं से नई दर वसूल रहे डीलर

राशन वितरण प्रणाली में केरोसीन वितरण में उपभोक्ताओं को ठगने में रसद विभाग व राशन डीलर कोई कमी नहीं छोड़ रहे हैं।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 15, 2018, 04:00 AM IST

राशन वितरण प्रणाली में केरोसीन वितरण में उपभोक्ताओं को ठगने में रसद विभाग व राशन डीलर कोई कमी नहीं छोड़ रहे हैं। तेल डिपो से पुरानी दर के हिसाब से केरोसीन खरीदा गया और उपभोक्ताओं को नई दर से वितरण कर प्रति लीटर 80 पैसे अधिक वसूल रहे हैं। ऐसे में उपभोक्ताओं को 12 लाख रुपए की चपत लगना तय है।

इतना ही नहीं अगर रसद विभाग द्वारा अंतर राशि वसूल के आदेश जारी नहीं किए गए तो सरकार को भी इतनी ही राशि के राजस्व का नुकसान उठाना पड़ेगा। यह खेल जनवरी में ग्रामीण क्षेत्र के 200 डीलरों को आवंटित हुए 1 लाख 60 हजार लीटर केरोसीन में किया जा रहा है। बुधवार शाम तक पोस मशीन के ऑनलाइन ट्रांजक्शन 18 हजार के करीब हो चुका था। यानी 45 हजार लीटर केरोसीन का वितरण किया जा चुका है। क्योंकि अभी तक राशन दुकानों तक फरवरी के केरोसीन का आवंटन नहीं हुआ है। जनवरी के अधिशेष केरोसीन का ही वितरण किया जा रहा है। जबकि केरोसीन की दर फरवरी को बढ़ाई गई है।

उपभोक्ता बोले-26 रु. लीटर मिला केरोसीन

राशन की दुकान पर पोस मशीन पर अंगूठा लगाते उपभोक्ता।

फरवरी का अभी तक आवंटित नहीं

खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा इस फरवरी के लिए भी 456 किलोलीटर केरोसीन का आवंटन निकाल दिया गया है, लेकिन अभी तक तेल डिपो से राशन डीलरों को आवंटित नहीं हुआ है। रसद सूत्रों का कहना है कि अभी राशन दुकानों तक पहुंचने में दो दिन और लग सकते है। यानी अभी तक अधिशेष केरोसीन का ही वितरण चल रहा है।

अभी कोई दिशा निर्देश नहीं मिले

सरकार द्वारा फरवरी में केरोसीन की दर 26 रुपए प्रति लीटर कर दी गई है। उसी के अनुसार केरोसीन वितरण किया जा रहा है। डीलर द्वारा 80 रुपए प्रति लीटर अधिक नई दर के अनुसार लिए जा रहे है। इसको लेकर अभी कोई दिशा निर्देश प्राप्त नहीं हुए है। आदेश आने पर अमल किया जाएगा। प्रतिभा देवठिया, डीएसओ

खानपुर निवासी राधेश्याम नागर ने बताया कि उपभोक्ता पखवाड़ा शुरू होने पर केरोसीन लेने आए थे। इस बार 26 रुपए प्रति लीटर की दर से केरोसीन वितरित किया गया है। पहले ढ़ाई लीटर के 63 रुपए लेते थे। इस बार 65 रुपए लिए गए हैं।

अकलेरा निवासी पंकज मेघवाल ने बताया कि इस बार केरोसिन के डीलर द्वारा 2 रुपए अधिक लिए गए है। बताया जा रहा है कि अब केरोसीन की दर बढ़ गई है। डीलर द्वारा जनवरी का केरोसीन दिया गया है।

45 हजार ली. केरोसीन बांट दिया

खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा जनवरी के लिए 456 किलोलीटर यानी 4 लाख 56 हजार लीटर केरोसीन का आवंटन के आदेश निकाले गए। उसके बाद विभाग द्वारा उपभोक्ता पखवाड़े के बाद 27 जनवरी को तेल डिपो को केरोसीन राशन डीलरों को आवंटित करने के निर्देश दिए गए। जब तक राशन दुकानों तक केरोसीन पहुंचा 31 जनवरी हो चुकी थी। यानी उस माह का वितरण पूरी तरह बंद हो गया। ऐसे में रसद विभाग ने 296 किलोलीटर केरोसीन को लैप्स करते हुए ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ताओं के लिए 200 डीलरों को 160 किलोलीटर केरोसीन आवंटित किया गया। लेकिन माह समाप्त होने से यह केरोसीन वितरण नहीं हुआ और अधिशेष रिकॉर्ड में चला गया। तब तक केरोसीन की दर नहीं बढ़ाई गई थी। 8 फरवरी को विभाग ने आदेश खाद्य विभाग ने आदेश जारी कर केरोसीन वितरण की दर 26 रुपए प्रति लीटर कर दी। जबकि पहले 25.20 पैसे प्रति लीटर के हिसाब से उपभोक्ताओं को वितरित किया जाता है। 10 फरवरी को उपभोक्ता पखवाड़ा शुरू हुआ तो मुख्यालय से ही पोस मशीन में बढ़ी हुई दर 26 रुपए तय कर दी गई। ऐसे में उपभोक्ताओं को नई दर से राशन वितरण किया जा रहा है। बुधवार शाम तक 45 हजार लीटर केरोसीन वितरित किया जा चुका था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Eklera

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×