Home | Rajasthan | Gangapur | ढोसर शिविर का सरपंच संघ ने किया बहिष्कार, पंचायत पर ताला, प्रशासन ने टेंट और पानी की व्यवस्था कराई

ढोसर शिविर का सरपंच संघ ने किया बहिष्कार, पंचायत पर ताला, प्रशासन ने टेंट और पानी की व्यवस्था कराई

राजस्व लोक अदालत न्याय आपके द्वार अभियान-2018 के तहत मंगलवार को ढोसर गांव में शिविर लगाया गया। सरपंच संघ ने शिविर का...

Bhaskar News Network| Last Modified - May 02, 2018, 03:55 AM IST

ढोसर शिविर का सरपंच संघ ने किया बहिष्कार, पंचायत पर ताला, प्रशासन ने टेंट और पानी की व्यवस्था कराई
ढोसर शिविर का सरपंच संघ ने किया बहिष्कार, पंचायत पर ताला, प्रशासन ने टेंट और पानी की व्यवस्था कराई
राजस्व लोक अदालत न्याय आपके द्वार अभियान-2018 के तहत मंगलवार को ढोसर गांव में शिविर लगाया गया। सरपंच संघ ने शिविर का बहिष्कार किया।

पंचायत कार्यालय पर ताला लगा होने से एसडीएम राजलक्ष्मी गहलोत ने ढोसर पहुंचने पर अटल सेवा केंद्र परिसर में टेंट व पीने के पानी की व्यवस्था कराई। इसके बाद शिविर शुरू हो पाया। शिविर में आए ग्रामीण टेंट के नीचे बैठे रहे, जबकि अधिकारियों के बैठने की व्यवस्था सरपंच के चेंबर के बाहर बरामदे में की गई।

सात दिन पहले सरपंच संघ ने सहाड़ा प्रधान कमलेश चौधरी को ज्ञापन दिया था। इसमें स्थायी विकास अधिकारी नहीं लगाने पर शिविर के बहिष्कार की चेतावनी दी थी। अभी विकास अधिकारी का चार्ज उपखंड अधिकारी राजलक्ष्मी गहलोत के पास है। इससे सरपंच संघ नाखुश है। सरपंच संघ के बहिष्कार के कारण शिविर में शेष रहे पट्टों का वितरण नहीं हो पाया। वहीं पंचायत संबंधी कार्य नहीं हो पाए। इधर, एसडीएम राजलक्ष्मी गहलोत ने सचिव सिराजुद्दीन काजी से शिविर की व्यवस्था नहीं करने का कारण पूछा। सचिव ने कहा कि सरपंच संघ के बहिष्कार के कारण सरपंच ने व्यवस्था करने में असमर्थता जता दी।

राजस्व कार्य नहीं अटके, बहिष्कार के बारे में सीईओ व कलेक्टर को बताया

160 महिलाओं के राजस्व रिकॉर्ड में बेवा शब्द हटाया

तिलस्वां | राजस्व लोक अदालत अभियान के तहत पहला शिविर मंगलवार को तिलस्वां में लगाया गया। बिजौलिया उपखंड अधिकारी प्रवीण कुमार ने समस्याएं सुनी। नायब तहसीलदार शिवजीराम मीणा ने बताया कि राजस्व रिकॉर्ड में 160 महिलाओं के नाम से बेवा शब्द हटाकर प|ी स्वर्गीय शब्द दर्ज किया गया। इस दौरान जिला प्रमुख शक्ति सिंह हाड़ा, प्रधान नीता विजय, तहसीलदार भूपेंद्र सिंह सौलंकी, ओम मेड़तिया, सहायक अभियंता शिवदयाल नागर, विकास अधिकारी राजेश वर्मा, सहायक अभियंता नरेंद्र चौधरी, सरपंच राजकुमार सेन, गिरदावर छगन लाल मीणा, तिलस्वां पटवारी चंद्रवीर सिंह, संजय पाराशर, ममता पंकज, नानालाल धाकड़ आदि माैजूद थे।

एसडीएम राजलक्ष्मी गहलोत ने बताया कि सरपंच संघ के बहिष्कार के संबंध में जिला परिषद के सीईओ व कलेक्टर को अवगत करा दिया गया है। सरपंच संघ बहिष्कार नहीं करता तो पंचायत के शेष रहे पट्टों का वितरण भी हो जाता। राजस्व संबंधी कोई भी कार्य प्रभावित नहीं हुए। सरपंच संघ ने प्रधान को ज्ञापन दिया था। मुझे इसकी जानकारी मिली थी।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now