अतिरिक्त न्यायिक मजिस्ट्रेट ने अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस पर कानून की दी जानकारी

Gangapur News - भास्कर न्यूज | गंगापुर सिटी तालुका विधिक सेवा समिति के अध्यक्ष एवं एडीजे मनोज गोयल के निर्देशन में अतिरिक्त...

Dec 04, 2019, 09:26 AM IST
भास्कर न्यूज | गंगापुर सिटी

तालुका विधिक सेवा समिति के अध्यक्ष एवं एडीजे मनोज गोयल के निर्देशन में अतिरिक्त न्यायिक मजिस्ट्रेट सुमन मीना ने पंचायत समिति के सभागार में अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के अवसर पर एक विधिक जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर विधिक जागरुकता शिविर के दौरान अतिरिक्त न्यायिक मजिस्ट्रेट सुमन मीना ने कहा कि यदि किसी लड़ाई, घटना में किसी व्यक्ति को स्थाई रुम से कोई चोट आई है, जिसके कारण वह स्थाई रूप से विकलांग हो गया हो, तो ऐसा व्यक्ति राजस्थान राज्य पीडि़त प्रतिकार स्कीम के तहत अपने प्रकरण प्रमाणित प्रति लेकर अपना आवेदन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के समक्ष पेश कर सकता है,जिस पर कमेटी के द्वारा उसको उचित राशि प्रदान की जाती है। यदि कोई व्यक्ति विकलांग है एवं उसका कोई प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है और वह विधिक सहायता योजना का हकदार है तो वह नि:शुल्क पैरवी के लिए अधिवक्ता नियुक्ति का आवेदन कर सकता है।

विकलांग व्यक्ति (समानव अवसर, अधिकारों की सुरक्षा और पूर्ण भागीदारी) अधिनियम, 1995 के बारे में बताया कि यह अधिनियम विकलांग लोगों के लिए समान अवसर सुनिश्चित करता है। और उनकी पूर्ण भागीदारी है। राष्ट्र निर्माण, अधिनियम में पुनर्वास, शिक्षा रोजगार और व्यावसायिक प्रशिक्षण, आरक्षण, अनुसंधान और जनशक्ति विकास, अवरोध मुक्त वातावरण का निर्माण, विकलांग व्यक्तियों के पुनर्वास, विकलांगों के लिए बेरोजगारी भत्ता, विशेष बीमा योजना, विकलांग कर्मचारियों और गंभीर विकलांगता वाले व्यक्तियों के लिए घरों की स्थापना आदि की जानकारी दी गई।इस अवसर पर समाज कल्याण विभाग के सीमा मीना, मुरारी लाल, विशेष योग्यजन के अध्यक्ष मुरारी लाल बैरवा सहित अन्य कई विकलांगजन भी मौके पर उपस्थित थे।

गंगापुर सिटी| विकलांग दिवस पर पंचायत समिति सभागार में संबाेधित करती न्यायिक अधिकारी सुमन मीणा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना