उच्च कक्षाओं में प्रवेश के लिए अब जरूरी नहीं जाति, मूल निवास व आय के नए प्रमाण पत्र

Gangapur News - भास्कर न्यूज | गंगापुर सिटी इस बार की आठवीं, दसवीं और बारहवीं बोर्ड का परीक्षा परिणाम आ चुका है। ऐसे में अब आगामी...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:10 AM IST
Gangapur News - rajasthan news no new caste original resident and new income certificate for entry into higher classes
भास्कर न्यूज | गंगापुर सिटी

इस बार की आठवीं, दसवीं और बारहवीं बोर्ड का परीक्षा परिणाम आ चुका है। ऐसे में अब आगामी कक्षाओं में प्रवेश प्रक्रिया भी शुरु हो गई है। इसके साथ ही जनजाति क्षेत्र में जाति और मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए तहसील और ई-मित्र काउंटर पर अभिभावकों और बच्चों की भीड़ रहती है। तहसीलों कार्यालयों में जून और जुलाई माह में हजारों नए आवेदन आ जाते हैं। इसमें अधिकांश प्रमाण पत्र हर साल बनाने के लिए आते हंै।

कई तो डिजिटल प्रमाण पत्र होने के बावजूद छात्र नया आवेदन कर देते हंै। अब अभिभावकों और बच्चों को इस परेशानी से राहत मिलेगी। शिक्षा उप निदेशक की ओर से प्रवेशोत्सव के समय बगैर किसी प्रमाण पत्र के सीधे अगली कक्षा और नई स्कूल में प्रवेश देने के आदेश दिए हंै। प्रवेशोत्सव के दौरान किसी भी बच्चे को प्रवेश के समय फॉर्म के साथ जाति और मूल निवास प्रमाण पत्र लगाना जरुरी नहीं होगा। शिक्षक वर्ग को भी गत कक्षा की मार्कशीट की प्रतिलिपि लगाकर देनी होगी। इसी दस्तावेज को मान्य किया जाएगा। ताकि बच्चों का प्रवेश सुनिश्चित कर शैक्षणिक सत्र की शुरुआत की जा सके। फॉर्म लेने के बाद उसे भरकर वार्ड पंच, सरपंच और पटवारी से वेरिफाई कराना होगा।

बैंक खाते भी पुराने चलेंगे

कक्षा 1 से 12 तक सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले जनजाति वर्ग के बच्चों को छात्रवृति देने का प्रावधान है। जो स्कूल के माध्यम से खुले बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर होती है। ऐसे में किसी भी बच्चे के पुराने बैंक खाते को ही नई स्कूल में अपडेशन कराने की व्यवस्था होगी। इस बार किसी भी सीनियर और सैकंडरी स्कूल के नव प्रवेशी बच्चे को अलग से बैंक खाते नहीं खुलवाना होगा।

X
Gangapur News - rajasthan news no new caste original resident and new income certificate for entry into higher classes
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना