वेतन विसंगति दूर करने व कैडर बनाने के लिए फार्मासिस्टों ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

Gangapur News - राजस्थान फार्मासिस्ट कर्मचारी संघ से जुड़े मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना में कार्यरत फार्मासिस्टों ने...

Feb 27, 2020, 08:16 AM IST
Gangapur News - rajasthan news pharmacists submitted memorandum to chief minister to remove salary discrepancy and make cadre

राजस्थान फार्मासिस्ट कर्मचारी संघ से जुड़े मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना में कार्यरत फार्मासिस्टों ने बुधवार को विभिन्न मांगों को लेकर सामान्य चिकित्सालय के फार्मासिस्टों ने प्रदेश के आह्नान पर दूसरे दिन सामान्य चिकित्सालय में आंशिक क्रमिक धरना एक घंटे दिया। साथ ही सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। बाद में फार्मासिस्टों ने एडीएम के रीडर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर बाजिव मांगों को हल कराने की मांग की है।

फार्मासिस्ट के ब्लाक अध्यक्ष मनीष कुमार ने कहा कि फार्मासिस्ट्स की ओर से पूर्व में भी क्रैडल मार्च निकालकर एक घंटे का अतिरिक्त कार्य करने,विधानसभा तक रैली , स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को ज्ञापन सौपने,इसके बावजूद सरकार ध्यान नहीं दे रही है। ऐसे में फार्मासिस्टों ने आंदोलन के तहत 28 फरवरी तक सामान्य चिकित्सालय परिसर के बाहर क्रमिक धरना, 29 फरवरी से 3 मार्च तक पदस्थापन स्थान पर काली पट्टी बांधकर विरीोध-प्रदर्शन, 4 से 10 मार्च तक सुबह 9 बजे से 11 तक संबंधित अस्पताल में दो घंटे का कार्य बहिष्कार किया करने का निर्णय किया है। साथ ही प्रदेश के फार्मासिस्ट अनिश्चित कालीन कार्य बहिष्कार करेंगे। इस दौरान जिला गौरव कुमार शर्मा, मनीष शर्मा,संदीप स्वर्णकार, प्रीति अग्रवाल,मनीष मीना व राकेश वर्मा,मडराय मीना, महेश चंद ,बृजेश कुमार, संदीप स्वर्णकार, मनीष मीना आदि मौजूद थे।

सेवा समाप्ति का विरोध, दवा और जांच योजना के ऑपरेटर हड़ताल पर

गंगापुर सिटी | सामान्य चिकित्सालय व सीएचसी में मुख्यमंत्री निशुल्क दवा एवं जांच योजना अंतर्गत अनुबंध पर कार्य कर रहे कार्मिकों ने सरकार द्वारा इन्हें हटाए जाने के विरोध में दूसरे दिन बुधवार को अनिश्चितकालीन हड़ताल
शुरू कर दी।

ऑपरेट व जांच योजना में लगे कर्मचारियों ने कलेक्ट्री के बाहर अपनी हड़ताल जारी है। कर्मचारियों ने बताया कि राज्य सरकार ने योजना में लगे कम्प्यूटर ऑपरेटरों व जांच कार्य में लगाए गए कार्मिकों की सेवाएं 29 फरवरी से समाप्त करने के आदेश जारी किए है। कर्मचारियों की ऑपरेटर व जांच में लगे कार्मिकों की हड़ताल से चिकित्सालय में किसी प्रकार का अवरोध नहीं हुआ है।

मुख्यमंत्री दवा वितरण योजना के काउंटर पर दवाएं निरंतर मिलती रही जबकि जांच का कार्य भी बेरोकटोक चला। कम्प्यूटर महासंघ के जिलाध्यक्ष मनीष कुमार शर्मा ने बताया कि उनकी मांगों की सरकार की ओर से लगातार अनदेखी की जा रही हैं। इस बीच कम्प्यूटर ऑपरेटरों को हटाने के आदेश भी जारी कर दिए है।

जिससे कम्प्यूटर ऑपरेटर को वर्तमान में एनजीओ के माध्यम से लगाया हुआ है, जिन्हें अब आरएमआरएस के जरिये नियुक्त किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना का कार्य पिछले सात वर्षों से कार्य कर रहे है।

गंगापुर सिटी | विभिन्न मांगाें के लिए प्रदर्शन करते फार्मासिस्ट।

X
Gangapur News - rajasthan news pharmacists submitted memorandum to chief minister to remove salary discrepancy and make cadre

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना