• Home
  • Rajasthan News
  • Ghatol News
  • अतिक्रमण बना विवाद: घाटोल में निजी स्कूल में घुसे लोग, छात्रों से बदसलूकी, महिला वार्डन से मारपीट
--Advertisement--

अतिक्रमण बना विवाद: घाटोल में निजी स्कूल में घुसे लोग, छात्रों से बदसलूकी, महिला वार्डन से मारपीट

भास्कर संवाददाता.बांसवाड़ा/घाटोल कस्बे की एक निजी स्कूल में मंगलवार शाम कुछ लोगों ने स्टाफ और छात्रों के साथ...

Danik Bhaskar | Jan 17, 2018, 03:45 AM IST
भास्कर संवाददाता.बांसवाड़ा/घाटोल

कस्बे की एक निजी स्कूल में मंगलवार शाम कुछ लोगों ने स्टाफ और छात्रों के साथ बदसलूकी कर हाथापाई कर दी। स्कूल स्टाफ और लोगों के बीच संघर्ष में वार्डन भी चोटिल हो गई। बाद में संस्था प्रधान ने खमेरा पुलिस थाने में जाकर सीसीटीवी फुटेज दिखाए। मारपीट का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई। मारपीट की वजह आम जमीन पर अतिक्रमण करना बताया जा रहा है।

घटना भारद्वाज पब्लिक सीनियर सैकंडरी स्कूल में हुई। संस्थाप्रधान सुनील शर्मा ने बताया कि शाम 5 बजे के करीब स्कूल में काम कर रहे थे, तभी कुछ लोग जबरन प्रवेश द्वार खोलकर भीतर घुस आए और पत्थर फेंकने लगे। सभी स्कूल की जमीन खाली करने की धमकी देने लगे। हंगामा सुनकर छात्र भी बाहर निकल आए। जिस पर कुछ युवकों ने छात्रों से भी हाथापाई कर डाली। इस दौरान हमलावरों के साथ आई महिलाओं ने हॉस्टल वार्डन सविता चौधरी से मारपीट की। जिससे वह चोटिल हो गई। थोड़ी देर बाद पुलिस आई तो हमलावर लौट गए।

सुनील ने आरोप लगाया कि हमलावरों ने आग लगाने और जेसीबी से स्कूल में तोड़फोड़ करने की धमकी दी। रिपोर्ट में स्थानीय दीपक पाड़लिया, सुनील पाड़लिया, अर्पित सेठ, निलेष तलाटी, उनकी प|ी, राजमल लालवत, सौरभ और उनकी प|ी के खिलाफ शिकायत की है।

कॉलोनीवासियों का तर्क: स्थानीय लोगों का आरोप है कि स्कूल की ओर से आम रास्ते के पास शौचालय बनाकर अतिक्रमण किया गया है। स्थानीय अर्पित सेठ ने बताया कि ब्रह्मदत्त और उनके बेटे सुनील भारद्वाज ने सड़क पर पूर्व में परकोटा बना दिया है। मसला एसडीएम कोर्ट में विचाराधीन है। 15 जनवरी को दोनों ने बिजली की डीपी लगाने के लिए गड्ढा खोद दिया। अप्रार्थी कब्जा नहीं हटाने की नीयत से एवं विचाराधीन वाद होने बावजूद डीपी लगाने के लिए गड्डे खोदने लगे। जिससे कॉलोनी के लोग गुस्सा गए।

अर्पित ने बताया कि उसके इनकार करने पर दोनों बाप-बेटे ने छात्रों को उकसाकर उससे मारपीट कराई। जिससे उसके दाहिने हाथ में चोट लगी। चिल्लाने पर काॅलोनी से सुनील कुमार, राजमल लालावत, दीपक कुमार, विकास वगेरिया, अंकेश सेठ दौड़कर आए तो उनसे भी मारपीट करने को उतारू हो गए। पूर्व में भी ग्राम पंचायत ने स्कूल व्यवस्थापक ब्रह्मदत्त शर्मा को नोटिस भेजा था। लोगों ने आरोप बेबुनियाद बताए।