• Home
  • Rajasthan News
  • Ghatol News
  • सरकार पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप ग्राम सेवक संघ आंदोलन पर, काली पट्‌टी बांधी
--Advertisement--

सरकार पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप ग्राम सेवक संघ आंदोलन पर, काली पट्‌टी बांधी

ग्राम सेवक संघ ने 11 सूत्री मांग पत्र पर किए लिखित समझौते को लागू करवाने की मांग को लेकर उपखंड और पंचायत समिति...

Danik Bhaskar | Mar 06, 2018, 04:05 AM IST
ग्राम सेवक संघ ने 11 सूत्री मांग पत्र पर किए लिखित समझौते को लागू करवाने की मांग को लेकर उपखंड और पंचायत समिति मुख्यालय पर ज्ञापन दिए। मांगों को पूरा नहीं करने पर ग्रामसेवक संघ एक बार फिर से आंदोलन की राह पर चल पड़ा है। ग्रामसेवकों ने सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया है। ग्राम सेवकों ने बताया कि सरकार उनकी मांगों को तवज्जो नहीं दे रही है। इसलिए मुख्यमंत्री, मंत्री और सक्षम अधिकारियों के सामने चेहरा प्रदर्शित करने के लिए संवर्ग सुरक्षा सत्याग्रह आंदोलन करने का निर्णय लिया।

घाटोल में उपखंड अधिकारी राजीव द्विवेदी और विकास अधिकारी बाबूलाल यादव को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया। इस दौरान पंचायत समिति परिसर में ग्रामसेवकों ने काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन कर नारेबाजी की। ज्ञापन देने वालों में ब्लॉक अध्यक्ष गोपाल जोशी, राकेश शर्मा, कमलेश मेनारिया, घनश्याम कोहली, रामलाल, उपाध्यक्ष केशव बरोड़, सोमेश्वर, बाबूलाल खींची, गोविंदकुमार, मुख्तियार शामिल रहे।

परतापुर. गढ़ी सचिव संघ ने उपखंड अधिकारी पूजाकुमारी पार्थ को ज्ञापन देकर 11 सूत्री मांगों का समाधान करने की मांग की है। ज्ञापन में बताया कि 11 सूत्री मांग पत्र पर किए गए लिखित समझौते को अब तक लागू नहीं कर सरकार द्वारा ग्रामसेवकों के हितों पर कुठाराघात किया जा रहा है। जबकि सरकार की सभी योजनाओं के सफल क्रियान्वयन में ग्रामसेवक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इस दौरान भंवरसिंह, विनोद शर्मा, हीरालाल मकवाणा, कल्याणसिंह, दिनेश पाटीदार, भोलेनाथ मौजूद रहे।

कुशलगढ़. ग्रामसेवकों के हितों की सुरक्षा और 11 सूत्री मांग पत्र पर किए गए लिखित समझौते को लागू करवाने की मांग को लेकर लेकर सोमवार को सचिव संघ कुशलगढ़ ने विकास अधिकारी रामखिलाड़ी मीणा को ज्ञापन दिया। ज्ञापन देने वालों में ब्लॉक अध्यक्ष देवेंद्र शाह समेत सचिव मौजूद रहे।

दूसरे चरण में सचिवों ने पंचायत समिति मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन किया

बांसवाड़ा/तलवाड़ा. केंद्र और राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं काे जन जन तक पहुंचाने वाले ग्रामसेवकों के हितों पर कुठाराघात कर रही सरकार के खिलाफ सोमवार को सचिव संघ ने विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही पंचायत समिति मुख्यालय पर अधिकारियों को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर 11 सूत्री मांगों के लिखित समझौते पर अमल करने को कहा।

ग्राम सेवकों ने चार साल पहले किए गए लिखित समझौते को अब तक लागू नहीं करने पर नाराजगी जताई। सोमवार को जिलाध्यक्ष भरत पटोत के नेतृत्व में सचिवों ने जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर लिखित समझौते पर अमल करने की मांग की है। ज्ञापन देने वालों में अशोक सुथार, हरीश सोनी, अश्विनी ठाकुर, राकेश, नरेश पंड्या, राजेंद्र जैन शामिल रहे। बांसवाड़ा ब्लॉक अध्यक्ष राकेश निनामा के सानिध्य में सचिवों ने उपखंड अधिकारी और विकास अधिकारी दलीपसिंह को ज्ञापन दिया।

छोटी सरवन. पंचायत समिति छोटी सरवन के सचिवों ने भी नायब तहसीलदार को ज्ञापन देकर 11 मांगों को पूरा करने की मांग की है। ज्ञापन में बताया कि फिलहाल सचिव पंचायत के काम जैसे शौचालय निर्माण, आवास योजना, पट्टे जारी करना, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, पालनहार, पेंशन योजना के काम कर आमजन को लाभान्वित कर रहे हैं। इसके बावजूद सरकार सचिवों की मांगों पर अमल नहीं कर रही है। ऐसे में सचिवों का मनोबल गिर रहा है। ज्ञापन देने वालों में नवीन भारद्वाज, रामचंद्र, नवलकिशोर, राजेंद्र पंचाल, दीपक पंड्या, लालशंकर, बापूलाल, भूरालाल, कालूराम, आसुराम, रमीला मौजूद रहे।

अपनी लंबित चल रही मांगों को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन देते सचिव।

गढ़ी सचिव संघ ने उपखंड अधिकारी पूजाकुमारी पार्थ को सोमवार को मांग-पत्र सौंपा।