• Home
  • Rajasthan News
  • Ghatol News
  • घाटोल में उदयपुर संभाग के पहले ई टोकन गेहूं खरीद केंद्र की शुरुआत
--Advertisement--

घाटोल में उदयपुर संभाग के पहले ई टोकन गेहूं खरीद केंद्र की शुरुआत

लंबे इंतजार के बाद बुधवार को घाटोल में गेहूं खरीद केंद्र शुरू हो ही गया। इससे किसानों को घाटोल में ही खरीदी जाएगी।...

Danik Bhaskar | Apr 05, 2018, 04:15 AM IST
लंबे इंतजार के बाद बुधवार को घाटोल में गेहूं खरीद केंद्र शुरू हो ही गया। इससे किसानों को घाटोल में ही खरीदी जाएगी। खरीद केंद्र पर किसानों का गेहूं 1735 रुपए प्रति क्विंटल खरीदा जाएगा। साथ ही इसका भुगतान 48 घंटे में किसान के बैंक के खाते में किया जाएगा।

घाटोल में उदयपुर संभाग का पहला ई टाेकन खरीद केंद्र होने के कारण किसानों को अब गेहूं बेचने के लिए लंबी कतार में खड़ा नहीं रहना पड़ेगा।

खरीद केंद्र के शुभारंभ के अवसर पर किसान नाग बामनिया ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाकर 7 क्विंटल गेहूं बेचे। खरीद केेंद्र के शुभारंभ के मौके पर विधायक नवनीतलाल निनामा, प्रधान हरेंद्र निनामा, भाजपा ओबीसी मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्रप्रसाद पंचाल, भाजपा जिला उपाध्यक्ष जगमालसिंह, नायब तहसीलदार नारायणगिरि मौजूद रहे।

विधायक ने कहा कि किसानोंं को खरीद केंद्र पर गेहूं बेचने में किसी प्रकार की परेशानी ना हो, इसके लिए गिरदावर और पटवारी व्यवस्था करें। एफसीआई प्रबंधक ने किसानों को सरकार की खरीद नीति और भुगतान के बारे में बताया। किसानों को गेहूं बेचने के दौरान गिरदावरी रिपोर्ट, आधार कार्ड, बैंक पासबुक साथ लाने को कहा है।

गनोड़ा में खरीद केंद्र शुरू, नहीं आए जनप्रतिनिधि और अधिकारी: गनोड़ा. कस्बे के पेट्रोल पंप के पास एक निजी परिसर में बुधवार को गेहूं खरीद केंद्र शुरू हुआ। इस दौरान तहसीलदार और सरपंच को बुलाया गया था, लेकिन वे नहीं आए। शुभारंभ कार्यक्रम में एफसीआई के प्रबंधक बनवारीलाल मीणा, किस्म निरीक्षक रामावतार चौधरी, केंद्र भुगतान प्रभारी अजीतसिंह, हैंडलिंग ठेकेदार हितेष जैन और किसान मौजूद रहे। किसानों को खरीद नीति, समर्थन मूल्य की दर, मजदूरी, भंडारण, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, भुगतान के बारे में बताया। अधिक से अधिक किसानो को जागरूक कर केंद्र सरकार की योजना का लाभ दिलवाने का आह्वान किया ।

भुगतान 48 घंटे के अंदर सीधे किसान के खाते मे हो जाएगा। पारदर्शिता के लिए तराजू पर कट्टे भर कर रखने तक का कार्य किसान की उपस्थिति में करवाया जाएगा ताकि किसानों को संतुष्टि मिल सके।

खरीद केंद्र शुरू करवाने और फसल खराबे का मुआवजा मांगा

बांसवाड़ा. बागीदौरा में खरीद केंद्र शुरू करने और रबी की फसल खराबे का मुआवजे की मांग को लेकर बुधवार को जिला कलेक्टर का ज्ञापन दिया।

भारतीय किसान संघ के प्रांतीय अध्यक्ष संतोष पाटीदार ने बताया कि किसानों के खातों का नामांतरण नहीं होने से अपनी पैदावार का गेहूं खरीद केंद्र पर नहीं पहुंचा पा रहा। वही फसल खराबे का भुगतान सभी बैंकों में नहीं होने, रबी की फसल मक्का में खराबी की गिरदावरी कर किसानों को उचित मुआवजा दिलाने को हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन दिया।







घाटोल. घाटोल में खरीद केंद्र के शुभारंभ में मौजूद विधायक और अधिकारीगण।

गनोड़ा, घाटोल में गेहूं का तौल शुरू, बाकी सेंटर पर रजिस्ट्रेशन के साथ पूरी तैयारी, नहीं आ रहे किसान

बांसवाड़ा। देर से ही सही पर दुरुस्त। जिले में समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद की तैयारी पर यह बात सटीक बैठी, जबकि चार दिन में तमाम बंदोबस्त के बाद जिले के सातों केंद्रों पर केंद्र सक्रिय हो गए, वहीं घाटोल और गनोड़ा में बुधवार को किसानों द्वारा लाए गेहूं का तौल भी किया गया। एफसीआई के अधीन इन केंद्रों पर गेहूं बेच चुके काश्तकारों को अब 48 घंटे के भीतर सीधे बैंक खातों में भुगतान होगा। गौरतलब है कि उदयपुर संभाग में गेहूं खरीद की शुरुआत में बांसवाड़ा जिला सबसे आगे हैं। अब तक संभाग में गनाेड़ा और घाटोल को छोड़कर कहीं खरीद शुरू नहीं हुई है। इसके अलावा एफसीआई के जिम्मे तलवाड़ा, छींच और बागीदौरा में तमाम तैयारियां हो गई हैं और केंद्रों पर गुरुवार से तौल शुरू हो जाएगा। एफसीआई बांसवाड़ा डिपो के प्रबंधक बनवारीलाल मीणा इन्हें लेकर बुधवार को दिनभर गंभीरता से जुटे रहे। अब बाद में राजफेड से मिले गढ़ी-परतापुर केंद्र को खोलने के लिए प्रयास तेज हो गए हैं। इधर, राजफेड के एकमात्र केंद्र कृषि उपज मंडी में बांसवाड़ा क्रय-विक्रय सहकारी समिति को एसएसओ आईडी मिलते ही बुधवार को चार काश्तकारों के रजिस्ट्रेशन किए गए। समिति प्रबंधक परेश पंड्या ने बताया कि किसान गेहूं लेकर नहीं पहुंचे, वरना खरीद भी शुरू हो जाती।

22 जून, 2017 को प्रकाशित खबर