Hindi News »Rajasthan »Ghatol» खाटूश्याम मंदिर से हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी-शहीद हेमूकालानी तिराहे तक की सड़क जानलेवा

खाटूश्याम मंदिर से हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी-शहीद हेमूकालानी तिराहे तक की सड़क जानलेवा

भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा खाटूश्याम मंदिर से हाऊसिंग बोर्ड तक की एक किलोमीटर सड़क बुरी तरह खस्ताहाल है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 24, 2018, 04:30 AM IST

भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा

खाटूश्याम मंदिर से हाऊसिंग बोर्ड तक की एक किलोमीटर सड़क बुरी तरह खस्ताहाल है। बांसवाड़ा विधायक और राज्य मंत्री धनसिंह रावत खुद अपने ही घर से सटे और शहर को जयपुर मार्ग से जोड़ने वाली मुख्य को ठीक नहीं करवा पाए। अलबत्ता, सड़क पर सफर और जाेखिमभरा हो चुका है। यहां खाटूश्याम मंदिर से हाऊसिंग बोर्ड और प्रताप सर्किल को जोड़ने वाली 1 किलोमीटर सड़क पूरी तरह गड्ढों में तब्दील हो चुकी है।

गड्ढे भी ऐसे कि अगर नजर हटी तो पूरी बाइक तक इनमें समा जाए। वहीं बड़े वाहनों को पलटाने के लिए काफी है। यह सड़क शहर को नेशनल हाईवे 113 से जाेड़ता है। इसी मार्ग के समीप प्रसिद्ध डायलाब हनुमान मंदिर और खाटूश्याम मंदिर है रोजाना बड़ी तादाद में श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं लेकिन इसके अलावा घाटोल की तरफ आने-जाने के लिए भी यह मुख्य सड़क है। हैरानी की बात यह है कि इस मार्ग को सुधारने की जिम्मेदारी जिन अफसरों पर है वह इसे एक-दूसरे की बताकर मरम्मत करने से बच रह हैं। ऐसे में शहरवासी महीनों से इस खतरनाक रास्ते से गुजरने का जोखिम उठा रही है।

इस सड़क को देखते ही माथे पर आ जाती है शिकन

खाटूश्याम मंदिर से हाऊसिंग बोर्ड तक की एक किलोमीटर सड़क के ऐसे है हाल, आए दिन हो रहे हादसे, लोग धूल से हो रहे बीमार।

आयुक्त सैनी: सड़क हमारी नहीं

सड़क हमारे अधिकारी क्षेत्र की नहीं है। यह पीडब्ल्यूडी की है। प्रताप सर्किल से पीछले महीनों पीडब्ल्यूडी ने बाईपास बनाया है। जाहिर है कि आगे की सड़क भी उनके ही अधिकार क्षेत्र की होगी। - भोमाराम सैनी, आयुक्त, नगरपरिषद

एसई मीणा: सड़क पीडब्ल्यूडी की नहीं

सड़क नगर परिषद की है। प्रताप सर्किल से बनाए गए बाईपास के लिए बजट भी परिषद ने ही दिया था। शहरी क्षेत्र में है फिर सड़क हमारी कैसे हो सकती है। हमारी सड़क होती तो सुधरवा देते। - एनएस, मीणा, एसई, पीडब्ल्यूडी

v/s

मंत्री रावत: मेरे ध्यान में, शीघ्र काम होगा

बाईपास वाली सड़क बनाने के बाद बची एक-डेढ़ किमी खराब है। यह मेरे ध्यान में है। मैंने पीडब्ल्यूडी से टेंडर करवाने के निर्देश दिए थे। 28 को इसके टेंडर खुलवाकर जल्द ही सड़क सुधरवा दी जाएगी। - राज्यमंत्री धनसिंह रावत

2.80 लाख खर्च कर मंत्री के घर तक बनवा दी सड़क

प्रताप सर्किल से खाटूश्याम मंदिर तक जाने बाईपास पर पीडब्ल्यूडी ने शहरी गौरव पथ के तहत 2.80 लाख खर्च कर डामर सड़क बनाई है। इससे आगे नगर परिषद ने 80 लाख खर्च कर सीसी सड़क बनवाई। लेकिन इससे आगे हाऊसिंग बोर्ड क्षेत्र और नेशनल हाईवे 113 से जोड़ने वाली करीब 1 किमी सड़क दशा खराब है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ghatol

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×