Hindi News »Rajasthan »Ghatol» बांसवाड़ा भास्कर

बांसवाड़ा भास्कर

बाधाएं वो डरावनी चीजें है, जो आप तब देखते हैं जब आप लक्ष्य से अपनी आंखें हटा लेते हैं। -हेनरी फोर्ड बांसवाड़ा,...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 24, 2018, 04:30 AM IST

बाधाएं वो डरावनी चीजें है, जो आप तब देखते हैं जब आप लक्ष्य से अपनी आंखें हटा लेते हैं।

-हेनरी फोर्ड

बांसवाड़ा, शनिवार, 24 फरवरी, 2018

कुशलगढ़ गढ़ी-परतापुर घाटोल बागीदौरा सज्जनगढ़

फाल्गुन, शुक्ल पक्ष-9, 2074

भिखारी- माता जी, क्या इस गरीब को केक मिलेगा? महिला- क्यों, रोटी से काम नहीं चल सकता? भिखारी- नहीं माता जी, चल सकता है, लेकिन मेरा आज बर्थ डे है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ghatol

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×