Hindi News »Rajasthan »Ghatol» दुकानें जबरन बंद कराने को लेकर कहासुनी, लोहारिया थाने में हंगामा

दुकानें जबरन बंद कराने को लेकर कहासुनी, लोहारिया थाने में हंगामा

भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा जिलेभर में सोमवार को एसटी एससी एक्ट में किए संशोधन के फैसले के विरोध में भारत बंद...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 03, 2018, 04:35 AM IST

दुकानें जबरन बंद कराने को लेकर कहासुनी, लोहारिया थाने में हंगामा
भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा

जिलेभर में सोमवार को एसटी एससी एक्ट में किए संशोधन के फैसले के विरोध में भारत बंद का असर देखा गया। व्यापारियों ने बंद में सहयोग किया। लेकिन कुछ जगह पर जबरन बंद कराने को लेकर कहासुनी और विवाद की नौबत आ गई। चिड़ियावासा, सुंदनी, गनोड़ा में युवाओं द्वारा जबरन दुकानें बंद कराने पर व्यापारियों और ग्रामीणों से कहासुनी हो गई। मामला थाने तक पहुंच गया। ग्रामीणों ने जबरन दुकानें बंद कराने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। लोहारिया थाने में आसपास के गांवों से हजारों ग्रामीण जुटे।

घाटोल. कस्बे समेत आसपास के गांवों में बंद शांतिपूर्ण रहा। किसी प्रकार का विवाद नहीं हुआ। युवाओं ने बंद के समर्थन में वाहन रैली निकाली। घाटोल, भूंगड़ा, खमेरा, सेनावासा, नरवाली समेत आसपास के कस्बों में बंद का व्यापक असर रहा। हालांकि कहीं पर भी कोई अप्रिय घटना नहीं हुई।

कुशलगढ़ में रैली निकाली

कुशलगढ़. अजा जजा अत्याचार निवारण अधिनियम में सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर पुनर्विचार याचिका दायर करने की मांग को लेकर एसटीएससी की ओर से सोमवार को कुशलगढ़ में भी बंद रखा गया। समाजजनों ने रैली निकालकर एसडीएम कार्यालय पहुंचे और राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया। रैली में एसटीएसी छात्र संगठन, आवाम आदिवासी मोर्चा, आदिवासी एकता परिषद, बामसेफ संगठन कुशलगढ़, अंबेडकर नवयुवक मंडल कुशलगढ़, कुशला भील संगठन, वाल्मीकि समाज, एबीवीपी इकाई, भील समग्र विकास परिषद, भारतीय मुक्ति मोर्चा, जजा युवा मोर्चा सहित सभी संगठनों के कार्यकर्ता मौजूद थे।

रोहनवाड़ी. गांगड़तलाई का बाजार भी दिनभर बंद रहा। दूरदराज के लोगों को रोजमर्रा की चीजें नहीं मिली। गांगड़तलाई, सल्लोपाट, शेरगढ़, रोहनवाड़ी के बाजार बंद रहे।

बड़ोदिया. कस्बे में एसटी एससी मोर्चा संघ ने दुकानों को बंद कराया। युवाओं ने बसस्टैंड पर टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया। कई जगह खुली दुकानों से युवा चिप्स के पैकेट उठा ले गए। भीड़ इतनी थी कि दुकानदार ने विरोध करना भी उचित नहीं समझा।

परतापुर. गढ़ी परतापुर में रैली निकालने के बाद एसडीएम को ज्ञापन दिया। शैलेंद्र रोत, जनार्दन पटेल, अनवर मोहम्मद, मणिलाल गरासिया समेत कई युवा मौजूद रहे। दानपुर, छोटी सरवन व कुटुंबी में विकास बामनिया, बापूलाल खराड़ी, मन्नालाल, केसुराम निनामा, वडेरी, कल्याण आदि के आग्रह पर सभी व्यापारियों ने पूरा समर्थन देेकर बंद रखा।।

आनंदपुरी. सोमवार को एसटी एससी एक्ट में किए संशोधन के फैसले के विरोध में भारत बंद काे लेकर प्रदर्शन करते ग्रामीण।

बंद के दौरान मारपीट, तोड़फोड़ की घटना शर्मनाक, ऐसे लोगों का बायकाट करेंगे : खडि़या

लोहारिया थाने के बाहर हंगामा करते व्यापारी और ग्रामीण।

शहर में आंदोलन कारियों का नेतृत्व करने वाले एससी-एसटी छात्र संघ के संभागीय अध्यक्ष मनोहर खड़िया का कहना है कि बंद के दौरान मारपीट, तोड़फोड़ कर लोगों को परेशान करने वाली गतिविधियां शर्मिंदा करने वाली है। कुछ लोगों की हरकतों से ऐसा हुआ। आगे से उनका बायकाट किया जाएगा। वहीं प्रदर्शन करने वालों में आवाम संरक्षक हेमंत राणा, प्रकाश बामणिया, अरविंद डामोर, एबीवीपी के मुकेश मईड़ा, कॉलेज छात्रसंघ अध्यक्ष दिनेश निनामा, मनोज डामोर, राकेश रावत, दिनेश राणा, पार्षद सीता डामोर, देवबाला राठौड़, लक्ष्मीनारायणसिंह, अशोक रायकवाल, बलवंत वसीटा, मांगीलाल यादव, विनोद परमार, कांतिलाल निनामा, चंपालाल बरगोट, भरत देवदा, राहुल निनामा भी शामिल थे। गांधीमूर्ति पर विधायक महेंद्रजीतसिंह मालवीया, अतीत गरासिया, रतन गामोट, आशुतोष निनामा, जीतेंद्र डोडियार, कोदरलाल बुनकर भी पहुृंचे और मांगों का समर्थन किया।

जय जोहार ग्रुप पर सूचनाओं का अादान-प्रदान

बांसवाड़ा. विरोध प्रदर्शन के दौरान जय जोहार संगठन का ग्रुप सोश्यल मीडिया पर सक्रिय रहा। इस पर भारत बंद आंदोलन को लेकर काफी कमेंट्स लिखे गए और ऑडियाे भी वायरल किए गए। साथ ही कहां कितनी दुकानें बंद हैं या नहीं इस तक की सूचना समय-समय पर दी जाती रही। उल्लेखनीय है कि वागड़ के अलावा अन्य राज्यों के कई जिलों से कुछ युवाओं का दल जय जोहार संगठन से जुडा़ हुआ है। जिसे सरकारी नौकरियां करने वाले कुछ लोग और कुछ जनप्रतिनिधि बढ़ावा दे रहे हैं।

आनंदपुरी का बाजार आधा दिन बंद रहा

आनंदपुरी. एसटीएससी एक्ट में संशोधन के खिलाफ एसटी एससी संगठनों के बंद के आह्वान का आनंदपुरी में भी असर दिखा। बाजार आधा दिन पूरी तरह से बंद रहा। अहमदाबाद जा रही बसों को भी रोक दिया। युवाओं ने बाइक रैली निकालकर कोर्ट के निर्णय के विरुद्ध नारेबाजी की।

दुकान-घर एक ही भवन में, फिर भी बंद कराया, हुआ हंगामा

नवागांव. कस्बे में भारत बंद के दौरान एसटीएससी के युवाओं ने दुकान और घर एक ही भवन में होने के बावजूद बंद कराने पर आमादा रहे। ऐसा नहीं करने पर हंगामा कर दिया। युवाओं ने घर में ही चला रहे कपड़ों की दुकानों को जबरन बंद कराया। इस बीच पुलिस मूकदर्शक होकर देखती रही।आंबापुरा में मामाजी की मूर्ति के पास बंद को लेकर नारेबाजी की और रैली निकाली। राजा बांसिया भील मंडल बांसवाड़ा और एससीएसटी मोर्चा कार्यकर्ताओं ने नवागांव, गणाऊ, लीमथान, झूपेल, सामरिया इलाकों में जाकर बंद के समर्थन में दुकानदारों से अपील की।

परतापुर. एसडीएम को ज्ञापन देते एसटीएससी मोर्चा के पदाधिकारी।

तलवाड़ा में बंद कराने आए युवकों से व्यापारियों की हुई कहासुनी

तलवाड़ा. कस्बे में सोमवार सुबह दुकानें बंद कराने आए युवाओं से दुकानदारों की कहासुनी हुई। हालांकि पुलिसकर्मियों ने समझाइश के बाद युवा वहां से चले गए। युवाओं ने गांधी मूर्ति और सदर बाजार में रैली निकाली। दानपुर. छोटी सरवन बंद के दौरान सभी एसटी/एससी कार्यकर्ताओं ने हरसिद्धि फिलिंग स्टेशन बंद करवाया।

बागीदौरा. भारत बंद के दौरान युवाओं ने जुलूस निकालने के बाद एसडीएम को ज्ञापन दिया। साथ ही कोर्ट द्वारा फैसला वापस नहीं लेने पर बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी दी।

सज्जनगढ़. एसटीएससी एक्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ समीक्षा याचिका दायर करने की मांग के समर्थन में भारत बंद के आह्वान पर सज्जनगढ़ समेत आसपास के कस्बे बंद रहे। युवाओं ने रैली निकाली और तहसीलदार गुलाबसिंह को ज्ञापन दिया। ज्ञापन देने वालों में प्रधान मोती भूरिया, उपप्रधान दिलीप डिंडोर, कांग्रेस नेता रामचंद्र पटेल, गजेंद्र डिंडोर, महेश डिंडोर, पीयूष जाटव, बंटी भूरिया समेत एसटीएससी के लोग शामिल रहे।

चिड़ियावासा में टायर जलाए, दुकानों में की तोड़फोड़

चिड़ियावासा. भारत बंद के दौरान चिड़ियावासा में प्रदर्शनकारियों ने हाईवे पर टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही खुली दुकानों में तोड़फोड़ भी की। इस दौरान थोड़ी देर के लिए गहमागहमी भी हो गई। सूचना पर सदर थाना पुलिस पहुंची और मामला शांत कराया।

बांसवाड़ा

तलवाड़ा

कुशलगढ़

बागीदौरा

चिड़ियावासा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |
Web Title: दुकानें जबरन बंद कराने को लेकर कहासुनी, लोहारिया थाने में हंगामा
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ghatol

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×