Hindi News »Rajasthan »Ghatol» वाटर पंप लगाकर कर रहे पानी की चोरी, टेल तक नहीं पहुंच रहा, किसान परेशान

वाटर पंप लगाकर कर रहे पानी की चोरी, टेल तक नहीं पहुंच रहा, किसान परेशान

घाटोल. माही विभाग की उदासीनता के चलते बांध का पानी टेल तक नहीं पहुंच पा रहा, ऐसे में किसानों की फसलें सूख रही है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 22, 2018, 04:55 AM IST

वाटर पंप लगाकर कर रहे पानी की चोरी, टेल तक नहीं पहुंच रहा, किसान परेशान
घाटोल. माही विभाग की उदासीनता के चलते बांध का पानी टेल तक नहीं पहुंच पा रहा, ऐसे में किसानों की फसलें सूख रही है। दूसरी ओर सीपेज की समस्या से नहरों और माइनरों का पानी आसपास के खेतों में भर रहा है। साथ ही हजारों लीटर पानी व्यर्थ में बह रहा है।

सीपेज के कारण नहर जर्जर हो गई है। हर साल नहरों की मरम्मत के नाम पर करोड़ों खर्च करने के बावजूद किसानों को टेल तक पानी नहीं मिल रहा है। कुछ लोग वाटर पंप लगाकर पानी की चोरी कर रहे हैं। नरवाली वितरिका से निकलने वाली माइनर की हालत जर्जर होने के कारण पानी का रिसाव हो रहा है। घाटोल गनोड़ा लिंक रोड के पास खेत जलमग्न हो गए हैं। फसलों को नुकसान हो रहा है।

सीपेज की समस्या से नहरे हो रही जर्जर, खेतों में भर रहा माइनर का पानीे, लगातार पानी भरा रहने के कारण खेतों की उर्वरक क्षमता भी प्रभावित हो रही

घाटोल. नहर में सीपेज होने से दीवार से रिस रहा पानी। इससे आवागमन भी बाधित हो रहा।

घाटोल. वाटर पंप से पानी की चोरी करते।

टेल तक पानी पहुंचने में वाटर पंप बन रहे रोड़ा

खेतों में पानी की सिंचाई करने के लिए कतिपय लोगों द्वारा नहरों व माइनरों के किनारे वाटर पंप लगाकर पानी की चोरी की जा रही है। लेकिन विभागीय उदासीनता के कारण इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं ं होने की जा रही। फसल की अच्छी पैदावार होने की आस में किसान दिन-रात मेहनत तो कर लेता है लेकिन समय पर पानी नही मिलने के कारण उसकी आस चिंता में बदल जाती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ghatol News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: वाटर पंप लगाकर कर रहे पानी की चोरी, टेल तक नहीं पहुंच रहा, किसान परेशान
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ghatol

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×