Hindi News »Rajasthan »Ghatol» छेड़छाड़ के आरोप से घिरे मॉडल स्कूल के प्राचार्य को सुबह हटाने के आदेश, शाम को निलंबित किए

छेड़छाड़ के आरोप से घिरे मॉडल स्कूल के प्राचार्य को सुबह हटाने के आदेश, शाम को निलंबित किए

भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा छात्राओं से छेड़छाड़ के आरोप से घिरे शहर के विवेकानंद मॉडल स्कूल के प्राचार्य के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 24, 2018, 07:50 PM IST

भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा

छात्राओं से छेड़छाड़ के आरोप से घिरे शहर के विवेकानंद मॉडल स्कूल के प्राचार्य के खिलाफ मंगलवार को एक के बाद जारी सख्ती भरे आदेशों ने चौंका दिया। सुबह राजस्थान माध्यमिक शिक्षा परिषद ने उन्हें जिले से हटाने के आदेश दिए, तो शाम को निदेशालय बीकानेर के निदेशक नथमल डिडेल ने निलंबन आदेश जारी कर दिए। तत्काल प्रभाव से इसे लागू करने के साथ प्राचार्य का निलंबन काल का मुख्यालय बीकानेर किया गया है।

दरअसल, मॉडल स्कूल में हुए घटनाक्रम को लेकर पूरे विभाग में हलचल मची हुई है। विभाग की किरकिरी होने पर परिषद की राज्य परियोजना निदेशक आनंदी ने जिला परियोजना समन्वयक को मंगलवार को पत्र भेजा। इसमें स्पष्ट किया कि प्राचार्य किशनसिंह के संबंध में 18 जनवरी को भास्कर में उल्लेखित घटना के क्रम में तहसीलदार, बांसवाड़ा की तत्कालीन रिपोर्ट और डीईओ की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट के आधार पर प्राचार्य को मूल विभाग में भेजने का निर्णय किया गया है, लिहाजा इसकी जल्द पालना कर परिषद को अवगत कराएं।

इसके बाद शाम को निदेशक माध्यमिक शिक्षा नथमल डिडेल का आदेश डीईओ कार्यालय को मिला। इसमें वर्तमान में पदस्थापन की प्रतीक्षा में रखे गए प्राचार्य किशनसिंह के खिलाफ विभागीय जांच विचारधीन होने के मद्देनजर राजस्थान असैनिक सेवाएं नियम 1958 के नियम 13 के तहत प्रदत्त शक्ति का प्रयोग कर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया। साथ ही उनका मुख्यालय निदेशालय बीकानेर किया गया है।



शाम को जयपुर से बीकानेर पहुंचे शिक्षा निदेशक नथमल डिडेल ने रात को जारी किए निलंबन आदेश

छात्राओं ने लगाए थे गंभीर आरोप, तहसीलदार ने जांच की

गौरतलब है कि वर्ष 2015 में माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के आदेश पर सरकारी सीनियर स्कूल, ज्ञानछायन में प्रतिनियुक्त हुए प्राचार्य सिंह को बाद में घाटोल के मॉडल स्कूल में लगाया गया। इसके बाद 6 जुलाई, 2016 को उन्हें बांसवाड़ा के मॉडल स्कूल में नियुक्त किया गया। यहां पिछले दिनों कुछ छात्राओं ने छेड़छाड़ की शिकायत की, तो 17 जनवरी को उखड़े अभिभावकों ने स्कूल पहुंचकर हंगामा किया। इसकी सूचना पाकर प्रशासन ने तहसीलदार कैलाश गौतम को भेजा तो उन्होंने जांच की।

मौके पर प्राचार्य के माफी मांगने पर अभिभावक शांत हुए। दूसरे दिन तहसीलदार ने मौजूदा हालात की रिपोर्ट देकर अनहोनी की आशंका नहीं रहे, इसलिए प्राचार्य को हटाने की अनुशंसा की। इस पर एसडीओ के निर्देश पाकर जिला शिक्षा अधिकारी आरपी त्रिवेदी ने उन्हें एपीओ कर अपने दफ्तर में रिपोर्ट करने के निर्देश दिए। साथ ही तीन सदस्यीय विभागीय दल गठित कर जांच के आदेश जारी किए।

18 जनवरी को प्रकाशित

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ghatol

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×