घाटोल

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Ghatol News
  • प्रधानमंत्री मोदी 24 को राज्य के 8 पंचायतीराज जनप्रतिनिधियों को करेंगे सम्मानित
--Advertisement--

प्रधानमंत्री मोदी 24 को राज्य के 8 पंचायतीराज जनप्रतिनिधियों को करेंगे सम्मानित

पॉलिटिकल रिपोर्टर . जयपुर | ग्राम स्वराज अभियान के तहत मनाए जा रहे कार्यक्रमों की कड़ी में 24 अप्रैल को राष्ट्रीय...

Dainik Bhaskar

Apr 21, 2018, 02:25 AM IST
पॉलिटिकल रिपोर्टर . जयपुर | ग्राम स्वराज अभियान के तहत मनाए जा रहे कार्यक्रमों की कड़ी में 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायत दिवस मनाया जाएगा। इसका राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम मध्यप्रदेश के जबलपुर के पास रामनगर में होगा, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संबोधित करेंगे। इस कार्यक्रम में राज्य के 8 पंचायती राज जनप्रतिनिधियों को सम्मानित करेंगे। इनमें से सात को पं. दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार-2018 और एक को नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार दिया जाएगा। इससे पहले 23 अप्रैल को जबलपुर में जनप्रतिनिधियों का सम्मेलन होगा, जिसमें राज्य से 71 जनप्रतिनिधि भाग लेने के लिए जा रहे हैं। इसके लिए पंचायती राज विभाग के अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी बी.डी. कृपलानी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। पंचायत दिवस पर राज्य की सभी ग्राम पंचायतों पर विशेष ग्राम सभाओं का आयोजन किया जाएगा, पंचायती समिति और जिला स्तर पर कार्यक्रम होंगे। इसके लिए सभी जिला कलेक्टरों और जिला परिषदों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को पाबंद किया जा चुका है।

ग्राम स्वराज अभियान के तहत इससे पहले 14 अप्रैल को सामाजिक न्याय दिवस और 18 अप्रैल को स्वच्छ भारत दिवस और 20 अप्रैल को उज्जवला दिवस मना चुके हैं। 28 अप्रैल को ग्राम स्वराज दिवस, 30 अप्रैल को आयुष्मान दिवस, 2 मई को किसान कल्याण दिवस और 5 मई को आजीविका दिवस मनाया जाएगा।

इनको मिलेगा पुरस्कार : पं. दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार -2018 जिला परिषद, झुंझुनूं को दिया जाएगा, जिसे सुमन ग्रहण करेंगी। इसी प्रकार सूरजगढ़ पंचायत समिति के लिए सुभाष चंद और चूरू पंचायत समिति के लिए ज्योति पुरस्कार लेंगी। वहीं ग्राम पंचायत घांघू (चूरू) के लिए जयप्रकाश शर्मा, ग्राम पंचायत थालड़का (नोहर) के लिए नीलम, ग्राम पंचायत कुंडा (सम-जैसलमेर) के लिए गोरधन सिंह और ग्राम खारिया नीव (सोजत) के लिए कन्हैया लाल पुरस्कार लेंगे। इसी प्रकार नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार जैसलमेर जिले की सम पंचायत समिति में आने वाली ग्राम पंचायत मंडई को दिया जाएगा, इसे कमल सिंह सोलंकी ग्रहण करेंगे।

71 जनप्रतिनिधि शामिल होंगे : पंचायती राज विभाग के सचिव एवं आयुक्त नवीन महाजन की ओर से आमंत्रित जनप्रतिनिधियों की सूची के अनुसार जबलपुर जाने वालों में 2 जिला प्रमुख, दस प्रधान और 59 सरपंच शामिल हैं। इनको 22 अप्रैल तक सीधे जबलपुर पहुंचने की सलाह दी गई है।

जिला प्रमुखों : चूरू के हरलाल सिंह सहारण और झुंझुनूं की सुमन।

पंचायत समिति के प्रधान : अराई के रामलाल, नोहर के अमर सिंह, सूरजगढ़ के सुभाष चंद, जसवंतपुरा की पिंकी कुमारी, बिलाड़ा की सुमित्रा, बूंदी की मधु, भदेसर की चंदनबाला जैन, प्रतापगढ़ की कारी मीणा, रेलमगरा के प्रभुलाल भील, चूरू की ज्योति।

ग्राम पंचायत के सरपंच : कासीर के भागचंद जाट, मांडण की ज्योति, छीपाबड़ौद के गजेंद्र जैन, भंवरगढ़ के धर्मराज जाट, सकतपुर की सावित्री, टिमुरवा के रामलाल, छींच के गोविंद, किटनोद की सरोज, खोहरी की साधना कुमारी, बंधा चौथ के नवल सिंह, कंवलियास के गोपाल नाथ योगी, लालमदेसर की कांता, जयमलदेसर के पवन कुमार, बल्लोप की संतोष, सरसी की प्रीति भांबी, आवलहेड़ा की मंजू जटिया, बनियाला के मोहन लाल, बीनासर के हनुमान सिंह, दूंकर की गीता मेघवाल, धनोरा की देवकी मीना, भासौर के मानजी, 56 एफ (श्रीकरणपुर) के मदनलाल, सरदारपुरा खालसा की जमना देवी, पिचकराई के विनोद कुमार, अमरसागर की लता, जसवंतपुरा की कौशल्या देवी, जैसावास की खीमतकंवर उर्फ खीमकंवर, मोगरा के नेमीचंद, घाटोली के मंगल सिंह, सरड़ा के शिवदयाल पारेता, अरड़ावता के सुनिल कुमार, काजड़ा के राजेंद्र कुमार, बाला की दीपिका, दानालपुर की राजबहादुर जाटव, बालू हेड़ा की नरेंद्र कुमारी, मीठड़ी की निर्मला मेघवाल, मंडावरा के भंवरलाल रेबारी, ताऊसर के आशाराम भाटी, कलाली के सरदार राम, रोहट के उदयभान सिंह, बसेड़ा के पुरुषोत्तम मीणा, रठांजना के बसंती लाल मीणा, बामनियां कलां की कैलाश कुमावत, तासोल की अनुराधा वैष्णव, बहरावड़ा खुर्द के रमेशचंद गोयल, अल्लापुरा के रामा किशन चौधरी, पिपराली के नाथूराम, जागीर की सोनू कंवर, जीरावल की वीणा देवी, रेवदर की चंद्रा बेन कोली, डारडा हिंद के गणेश कुमार, रिंडलिया बुजुर्ग की रुचिता सैनी, सायरा की चंद्रकांता जैन, खैरवाड़ा की लक्ष्मीदेवी अहारी, घांघू के जयप्रकाश शर्मा, थालकड़ा की नीलम, कुंडा के गोरधन सिंह, खारिया नीव के कन्हैयालाल और मंडई के कमल सिंह सोलंकी शामिल हैं।

पॉलिटिकल रिपोर्टर . जयपुर | ग्राम स्वराज अभियान के तहत मनाए जा रहे कार्यक्रमों की कड़ी में 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायत दिवस मनाया जाएगा। इसका राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम मध्यप्रदेश के जबलपुर के पास रामनगर में होगा, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संबोधित करेंगे। इस कार्यक्रम में राज्य के 8 पंचायती राज जनप्रतिनिधियों को सम्मानित करेंगे। इनमें से सात को पं. दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार-2018 और एक को नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार दिया जाएगा। इससे पहले 23 अप्रैल को जबलपुर में जनप्रतिनिधियों का सम्मेलन होगा, जिसमें राज्य से 71 जनप्रतिनिधि भाग लेने के लिए जा रहे हैं। इसके लिए पंचायती राज विभाग के अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी बी.डी. कृपलानी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। पंचायत दिवस पर राज्य की सभी ग्राम पंचायतों पर विशेष ग्राम सभाओं का आयोजन किया जाएगा, पंचायती समिति और जिला स्तर पर कार्यक्रम होंगे। इसके लिए सभी जिला कलेक्टरों और जिला परिषदों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को पाबंद किया जा चुका है।

ग्राम स्वराज अभियान के तहत इससे पहले 14 अप्रैल को सामाजिक न्याय दिवस और 18 अप्रैल को स्वच्छ भारत दिवस और 20 अप्रैल को उज्जवला दिवस मना चुके हैं। 28 अप्रैल को ग्राम स्वराज दिवस, 30 अप्रैल को आयुष्मान दिवस, 2 मई को किसान कल्याण दिवस और 5 मई को आजीविका दिवस मनाया जाएगा।

इनको मिलेगा पुरस्कार : पं. दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार -2018 जिला परिषद, झुंझुनूं को दिया जाएगा, जिसे सुमन ग्रहण करेंगी। इसी प्रकार सूरजगढ़ पंचायत समिति के लिए सुभाष चंद और चूरू पंचायत समिति के लिए ज्योति पुरस्कार लेंगी। वहीं ग्राम पंचायत घांघू (चूरू) के लिए जयप्रकाश शर्मा, ग्राम पंचायत थालड़का (नोहर) के लिए नीलम, ग्राम पंचायत कुंडा (सम-जैसलमेर) के लिए गोरधन सिंह और ग्राम खारिया नीव (सोजत) के लिए कन्हैया लाल पुरस्कार लेंगे। इसी प्रकार नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार जैसलमेर जिले की सम पंचायत समिति में आने वाली ग्राम पंचायत मंडई को दिया जाएगा, इसे कमल सिंह सोलंकी ग्रहण करेंगे।

71 जनप्रतिनिधि शामिल होंगे : पंचायती राज विभाग के सचिव एवं आयुक्त नवीन महाजन की ओर से आमंत्रित जनप्रतिनिधियों की सूची के अनुसार जबलपुर जाने वालों में 2 जिला प्रमुख, दस प्रधान और 59 सरपंच शामिल हैं। इनको 22 अप्रैल तक सीधे जबलपुर पहुंचने की सलाह दी गई है।

जिला प्रमुखों : चूरू के हरलाल सिंह सहारण और झुंझुनूं की सुमन।

पंचायत समिति के प्रधान : अराई के रामलाल, नोहर के अमर सिंह, सूरजगढ़ के सुभाष चंद, जसवंतपुरा की पिंकी कुमारी, बिलाड़ा की सुमित्रा, बूंदी की मधु, भदेसर की चंदनबाला जैन, प्रतापगढ़ की कारी मीणा, रेलमगरा के प्रभुलाल भील, चूरू की ज्योति।

ग्राम पंचायत के सरपंच : कासीर के भागचंद जाट, मांडण की ज्योति, छीपाबड़ौद के गजेंद्र जैन, भंवरगढ़ के धर्मराज जाट, सकतपुर की सावित्री, टिमुरवा के रामलाल, छींच के गोविंद, किटनोद की सरोज, खोहरी की साधना कुमारी, बंधा चौथ के नवल सिंह, कंवलियास के गोपाल नाथ योगी, लालमदेसर की कांता, जयमलदेसर के पवन कुमार, बल्लोप की संतोष, सरसी की प्रीति भांबी, आवलहेड़ा की मंजू जटिया, बनियाला के मोहन लाल, बीनासर के हनुमान सिंह, दूंकर की गीता मेघवाल, धनोरा की देवकी मीना, भासौर के मानजी, 56 एफ (श्रीकरणपुर) के मदनलाल, सरदारपुरा खालसा की जमना देवी, पिचकराई के विनोद कुमार, अमरसागर की लता, जसवंतपुरा की कौशल्या देवी, जैसावास की खीमतकंवर उर्फ खीमकंवर, मोगरा के नेमीचंद, घाटोली के मंगल सिंह, सरड़ा के शिवदयाल पारेता, अरड़ावता के सुनिल कुमार, काजड़ा के राजेंद्र कुमार, बाला की दीपिका, दानालपुर की राजबहादुर जाटव, बालू हेड़ा की नरेंद्र कुमारी, मीठड़ी की निर्मला मेघवाल, मंडावरा के भंवरलाल रेबारी, ताऊसर के आशाराम भाटी, कलाली के सरदार राम, रोहट के उदयभान सिंह, बसेड़ा के पुरुषोत्तम मीणा, रठांजना के बसंती लाल मीणा, बामनियां कलां की कैलाश कुमावत, तासोल की अनुराधा वैष्णव, बहरावड़ा खुर्द के रमेशचंद गोयल, अल्लापुरा के रामा किशन चौधरी, पिपराली के नाथूराम, जागीर की सोनू कंवर, जीरावल की वीणा देवी, रेवदर की चंद्रा बेन कोली, डारडा हिंद के गणेश कुमार, रिंडलिया बुजुर्ग की रुचिता सैनी, सायरा की चंद्रकांता जैन, खैरवाड़ा की लक्ष्मीदेवी अहारी, घांघू के जयप्रकाश शर्मा, थालकड़ा की नीलम, कुंडा के गोरधन सिंह, खारिया नीव के कन्हैयालाल और मंडई के कमल सिंह सोलंकी शामिल हैं।

ग्राम स्वराज अभियान के तीसरे चरण में राष्ट्रीय पंचायत दिवस पर होगा पीएम को संबोधन, दो दिवसीय कार्यक्रम में शामिल होंगे 71 प्रतिनिधि

X
Click to listen..