• Home
  • Rajasthan News
  • Ghatol News
  • कालिका माता मन्दिर प्राण प्रतिष्ठा पर 708 कलशों की निकाली शोभायात्रा
--Advertisement--

कालिका माता मन्दिर प्राण प्रतिष्ठा पर 708 कलशों की निकाली शोभायात्रा

उपखंड के रूपजी का खेड़ा ग्राम पंचायत के हरेंगजी का खेड़ा में रविवार को मीणा समाज द्वारा रूपजी का खेडा देवानंद के...

Danik Bhaskar | Apr 23, 2018, 02:40 AM IST
उपखंड के रूपजी का खेड़ा ग्राम पंचायत के हरेंगजी का खेड़ा में रविवार को मीणा समाज द्वारा रूपजी का खेडा देवानंद के नेतृत्व में कालिका मन्दिर प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव का आयोजन हुआ। इस दौरान मन्दिर परिसर से श्रद्धालुओं द्वारा 708 कलशों की यात्रा निकाली गई। कलशयात्रा गांव की परिक्रमा कर पुनः मन्दिर प्रांगण पर पहुंच कर समापन किया गया।

दोपहर विधि विधान मंत्रोच्चारण के साथ ग्रामीणों द्वारा मन्दिर शिखर प्रतिष्ठा, मूर्ति स्थापना व ध्वजदंड स्थापना की गई। समारोह में संत नाथूलाल ने हजारों लोगो से हाथ खड़े करवाकर धुम्रपान व नशामुक्ति का संकल्प दिलवाया। जिसके बाद आरती व महाप्रसादी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि पूर्व संसदीय सचिव नानालाल निनामा, घाटोल प्रधान हरेंद्र निनामा, पूर्व विधायक नाथूलाल मईड़ा, जि.प.स. महावीर पूरी राठौड़, पाडला सरपंच गोपालकृष्ण, डूंगर सरपंच लक्ष्मण सोलंकी, लालूराम, प्रभुलाल निनामा नरवाली, नारायणलाल जगपुरा, शांतिलाल निनामा कंठाव, कन्हैयालाल राठौड़, गौतमलाल निनामा सहित श्रृद्धालुओं ने धर्मलाभ लिया।



रूपजी का खेड़ा में मन्दिर प्रतिष्ठा कार्यक्रम में कलश यात्रा में भाग लेते श्रद्वालु।

राखो में शोभायात्रा निकाली, गूंजा जयश्री राम

राखो में निकाली कलशयात्रा में शामिल श्रद्वालु महिलाएं।

बागीदौरा. राखो गांव में तीन दिन से चल रहे देवी मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा व 31 कुण्डीय महायज्ञ महोत्सव के तीसरे दिन रविवार को 1000 कलशों की यात्रा निकाली गई, जिसमें एक हजार से भी अधिक श्रद्धालु शामिल हुए। साथ ही पूरे कस्बे में जय श्री राम के नारो के साथ यात्रा रामेश्वर मंदिर से शुरू होकर तालाब पहुंची, जहां जलभर के नगर भ्रमण किया। पंडित पूर्णाशंकर जोशी, हरिशचंद्र जोशी व कांतिलाल शर्मा के आचार्यत्व में शतचण्डी हवन, रामयज्ञ, महारुद्र हवन, मूर्तियों का स्नपन, शांतिक पोष्टिक हवन का समापन हुआ। गांव के वेलजी पाटीदार ने बताया कि सोमवार रात को कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। जिसमें राज्य भर से कविगण पहुचेंगे।