Hindi News »Rajasthan »Ghatol» सैलाना राजघराने से कीमती सामान चुराने के आरोपी प्रतापगढ़ में पकड़े

सैलाना राजघराने से कीमती सामान चुराने के आरोपी प्रतापगढ़ में पकड़े

सैलाना पैलेस से कीमती सामान चोरी के तीन आरोपियों को सैलाना पुलिस ने शनिवार को प्रतापगढ़ से गिरफ्तार किया।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 22, 2018, 03:30 AM IST

सैलाना पैलेस से कीमती सामान चोरी के तीन आरोपियों को सैलाना पुलिस ने शनिवार को प्रतापगढ़ से गिरफ्तार किया। राजपरिवार के विक्रमसिंह ने इस मामले में सैलाना थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसमें बताया था कि चोर पुरानी बेशकीमती बंदूक, राइफल, तलवार, भाले सहित अन्य हथियार, चांदी के बर्तन चोरी कर ले गए थे। जांच में चोरी का सामान प्रतापगढ़ में बेचे जाने के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई को आगे बढ़ाते हुए शुक्रवार को प्रतापगढ़ पहुंची सैलाना पुलिस, प्रतापगढ़ पुलिस के सहयोग से तीन आरोपियों को पकड़ कर शनिवार को अपने साथ ले गई है। इसमें चोरी का माल खरीदने वाले चार संदिग्ध आरोपियों पर भी सैलाना पुलिस ने शिकंजा कस लिया है।

राजपरिवार के विक्रम सिंह ने सैलाना थाने में चोरी की रिपोर्ट में बताया था कि वे वर्तमान में निपलवुंड निपलिया इंदौर में रहते हैं। वे 10 दिसंबर को इंदौर से सैलाना पैलेस गए थे। वहां से 23 दिसंबर को पैलेस के हॉल, कमरों में ताले लगा कर इंदौर लाैट गए। 11 जनवरी को दोबारा परिवार के साथ पैलेस गए तो वहां हॉल और कमरों में सामान बिखरा पड़ा था। कमरों के पीछे लोहे की जाली वाले दरवाजे का ताला टूटा हुआ था, दरवाजे के नट बोल्ट भी खुले हुए थे। बेडरूम में पलंग की गादी के नीचे रखी पुरानी 12 बोर की बंदूक, उनकी प|ी चंद्रा कुंवर के नाम की दो लाइसेंसी राइफलें, जिसमें राइफल पाइंट 22 ब्रूनो और दूसरी राइफल पाइंट 30‌‌/06 बोर मेड इन अमेरिका मैनचेस्टर नहीं मिली। पास ही बैठक रूम में बेशकीमती चार किलो वजनी चार ट्रॉफी और आधा किलो वजनी चांदी का पुराना फूलदान, 8 पुरानी तलवारें, 6 छोटे पुराने भाले, 8 लोहे की कटारे गायब थी। उन्होंने बताया कि इनकी कीमत लाखों रुपए हैं। उन्होंने चोरी की जानकारी बेटे दिव्यराजसिंह, कर्मचारी रोशन व्यास और भगवानदास बैरागी को दी।

अनुसंधान करते प्रतापगढ़ पहुंची पुलिस, आरोपी को पकड़ कर ले गई

23 दिसंबर से 10 जनवरी के बीच हुई घटना के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। चोरी के तार प्रतापगढ़ जिले से जुड़े मिलने के बाद आरोपियों की पहचान करने के साथ ही सैलाना पुलिस का एक दल एएसआई शिवनाथ सिंह राठौड़ की अगुवाई में प्रतापगढ़ पहुंचा। यहां शहर कोतवाल बाबूलाल मुरारिया, एएसआई भंवरलाल के सहयोग से पुलिस ने शहर के तलाई मोहल्ला में तीन जगहों पर दबिश दी और आरोपी सैलाना हॉल तलाई मोहल्ला स्थित ससुराल में रह रहे सन्नी पुत्र राजू बासोड़, घाटोल बांसवाड़ा हाल तलाई मोहल्ला में अपने ससुराल में रह रहे अशोक उर्फ बाबू पुत्र लक्ष्मण गांछा और तलाई मोहल्ला निवासी अनिल पुत्र राजू गांछा को पकड़ लिया। सूत्रों के मुताबिक प्रार्थी विक्रम सिंह मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के रिश्तेदार हैं।

चोरी का माल खरीदने वालों पर भी कसा शिकंजा

प्रतापगढ़ पुलिस के सहयोग से सैलाना पुलिस ने चोरी का माल खरीदने वाले प्रतापगढ़ के चार आरोपियों पर भी शिकंजा कस लिया है। राजमहल में वारदात के बाद आरोपी माल लेकर प्रतापगढ़ आ गए थे। आरोपियों ने इन बेशकीमती सामान को यहां कौड़ियों के भाव में स्थानीय व्यापारियों को बेच दिया। ऐसी भी जानकारी है कि इन व्यापारियों ने इस कीमती सामान को ठिकाने लगाने में भी समय नहीं गंवाया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ghatol

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×