--Advertisement--

आचार्य विद्यासागरजी का संयम दीक्षा महोत्सव मनाएंगे

बड़ोदिया| आदिनाथ दिगंबर जैन मंदिर बड़ोदिया में रविवार को वागड़ के सभी गांवों के प्रतिनिधियों का सम्मेलन हुआ।...

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2018, 03:40 AM IST
आचार्य विद्यासागरजी का संयम दीक्षा महोत्सव मनाएंगे
बड़ोदिया| आदिनाथ दिगंबर जैन मंदिर बड़ोदिया में रविवार को वागड़ के सभी गांवों के प्रतिनिधियों का सम्मेलन हुआ। इसमें 17 जुलाई को आचार्य विद्यासागरजी महाराज का संयम दीक्षा महोत्सव किस प्रकार से मनाए, उसको लेकर खांदू कॉलोनी, घाटोल, बागीदौरा, नौगामा, कलिंजरा, परतापुर, तलवाड़ा, अरथूना, जौलाना समेत डूंगरपुर के गांवों के प्रतिनिधियों ने विचार व्यक्त किए।

कांतिलाल खोडणिया व जीतमल तलाटी ने बताया कि मुनि समता सागरजी के सान्निध्य में वागड़ में अाचार्यश्री का संयम दीक्षा महोत्सव मनाया जाएगा, इसके लिए वागड़ के प्रतिनिधि एमपी टीकमगढ़ जाकर महाराजश्री को वागड़ आने का न्योता देंगे। टीकमगढ़ जाने के लिए समिति और उपसमिति बनाई गई। बड़ोदिया में रविवार को धर्मसभा को संबोधित करते हुए मुनि समता सागरजी ने कहा कि सभी के भागीरथ प्रयास से ही आचार्यश्री का आगमन यहां सभव है। कुछ पाने के लिए हमे समर्पण भी करना होगा, तभी धरती के देवता का वागड़ में आगमन होगा। महाराज ने कहा कि वागड़ के श्रद्धालुओं की गुरुवर के प्रति अटूट श्रद्धा है, तभी तो जगह जगह संयम कीर्ति स्तंभ की स्थापना की जा रही है। कार्यक्रम का संचालन विनोद दोसी ने किया।

समतासागरजी

बड़ोदिया. आदिनाथ दिगंबर जैन मंदिर सभा में जैन मौजूद जैन समाजजन।

बड़ोदिया| आदिनाथ दिगंबर जैन मंदिर बड़ोदिया में रविवार को वागड़ के सभी गांवों के प्रतिनिधियों का सम्मेलन हुआ। इसमें 17 जुलाई को आचार्य विद्यासागरजी महाराज का संयम दीक्षा महोत्सव किस प्रकार से मनाए, उसको लेकर खांदू कॉलोनी, घाटोल, बागीदौरा, नौगामा, कलिंजरा, परतापुर, तलवाड़ा, अरथूना, जौलाना समेत डूंगरपुर के गांवों के प्रतिनिधियों ने विचार व्यक्त किए।

कांतिलाल खोडणिया व जीतमल तलाटी ने बताया कि मुनि समता सागरजी के सान्निध्य में वागड़ में अाचार्यश्री का संयम दीक्षा महोत्सव मनाया जाएगा, इसके लिए वागड़ के प्रतिनिधि एमपी टीकमगढ़ जाकर महाराजश्री को वागड़ आने का न्योता देंगे। टीकमगढ़ जाने के लिए समिति और उपसमिति बनाई गई। बड़ोदिया में रविवार को धर्मसभा को संबोधित करते हुए मुनि समता सागरजी ने कहा कि सभी के भागीरथ प्रयास से ही आचार्यश्री का आगमन यहां सभव है। कुछ पाने के लिए हमे समर्पण भी करना होगा, तभी धरती के देवता का वागड़ में आगमन होगा। महाराज ने कहा कि वागड़ के श्रद्धालुओं की गुरुवर के प्रति अटूट श्रद्धा है, तभी तो जगह जगह संयम कीर्ति स्तंभ की स्थापना की जा रही है। कार्यक्रम का संचालन विनोद दोसी ने किया।

आचार्य विद्यासागरजी का संयम दीक्षा महोत्सव मनाएंगे
आचार्य विद्यासागरजी का संयम दीक्षा महोत्सव मनाएंगे
X
आचार्य विद्यासागरजी का संयम दीक्षा महोत्सव मनाएंगे
आचार्य विद्यासागरजी का संयम दीक्षा महोत्सव मनाएंगे
आचार्य विद्यासागरजी का संयम दीक्षा महोत्सव मनाएंगे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..